MP: सिंधिया की चिट्ठियों का केंद्र पर जबरदस्त असर, ग्वालियर-मुंबई के बीच शुरू होगी फ्लाइट

सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की चिट्ठियों का असर एक हफ्ते में देखने को मिला. (File)

सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कुछ दिनों पहले केंद्रीय मंत्री को चिट्ठियां लिखी थीं. विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने उनकी मांगों को स्वीकार कर लिया. ग्वालियर एयरपोर्ट का विस्तार 50 करोड़ में होगा.

  • Share this:
    ग्वालियर. राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की चिट्ठियों का असर दो हफ्ते के अंदर ही देखने को मिल गया है. केंद्र सरकार ने ग्वालियर एयरपोर्ट को लेकर उनकी मांगें मान ली हैं. केंद्रीय विमानन मंत्री हरदीप पुरी ने एक ओर ग्वालियर एयरपोर्ट के विस्तार के लिए 50 करोड़ रुपये मंजूर किए और दूसरी ओर ग्वालियर-मुंबई फ्लाइट शुरू करने की बात मान ली. सिंधिया ने ट्वीट कर इसके बारे में जानकारी दी.

    दूसरी ओर, सीएम शिवराज सिंह चौहान ने हरदीप पुरी को धन्यवाद देते हुए उम्मीद जताई है कि इससे क्षेत्र में एयर कनेक्टिविटी बढ़ेगी. गौरतलब है कि ग्वालियर एयरपोर्ट का विस्तार सिंधिया लंबे समय से चाह रहे थे. इसके लिए उन्होंने 10 और 16 फरवरी को केंद्रीय विमानन मंत्री हरदीप पुरी को 2 चिट्ठियां लिखी थीं.

    मुंबई के लिए बढ़ रही हवाई यात्रियों की संख्या

    ज्योतिरादित्य सिंधिया की इन चिट्ठियों का असर ये हुआ कि केंद्र सरकार ने एक हफ्ते में ये मांगें मान लीं. सिंधिया ने कहा था कि ग्वालियर में यात्रियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए एयरपोर्ट का विस्तार जरूरी है. उन्होंने ग्वालियर और मुंबई के बीच फ्लाइट शुरू करने का अनुरोध किया था. उन्होंने बताया कि मुलाकात के बाद हरदीप पुरी ने उनकी दोनों मांगें मान ली हैं.

    मुख्यमंत्री ने किया स्वागत

    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एयरपोर्ट के विस्तार को मंजूरी देने के लिए केंद्र सरकार के फैसले का स्वागत किया है. शिवराज ने ट्वीट कर उम्मीद जताई है कि इससे एयर कनेक्टिविटी बढ़ने के साथ क्षेत्र के विकास को भी गति मिलेगी. बता दें, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की वित्त आयोग को लिखी चिट्ठी भी वायरल हुई थी. चिट्ठी पर 8 अगस्त 2020 की तारीख डली हुई थी. इसमें राज्यसभा सांसद ने प्रदेश में चल रही विभिन्न परियोजनाओं के लिए वित्त आयोग से फंड की मांग की थी.  इस बीच इस चिट्ठी को लेकर संभावनाओं-अनुमानों का दौर शुरू हो गया था. लोग दबी जबान में कहने लगे थे कि इसके जरिए सिंधिया सरकार पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.