लाइव टीवी

इस बार ग्वालियर कलेक्ट्रेट में भी मनाया गया VALENTINE'S DAY
Gwalior News in Hindi

Sushil Koushik | News18 Madhya Pradesh
Updated: February 14, 2020, 7:16 PM IST
इस बार ग्वालियर कलेक्ट्रेट में भी मनाया गया VALENTINE'S DAY
ग्वालियर कलेक्ट्रेट में वेलेंसटाइन डे सेलिब्रेशन

जो बच्चे अपने माता-पिता को अपने साथ नहीं रख रहे थे या परेशान कर रहे थे, ऐसे बच्चों को बुलाकर समझाया गया.

  • Share this:
ग्वालियर में जिला प्रशासन ने अनूठे तरीके से वेलेंटाइंस डे (VALENTINE'S DAY) मनाया. कलेक्ट्रेट में माता-पिता और वरिष्ठ नागरिकों (senior citizen) की पूजा की गयी. उनकी समस्याएं सुनीं और मौके पर ही निपटारा कर दिया. ज़िंदगी की सांझ में ऐसा सम्मान पाकर इन बुज़ुर्गों की आंख छल-छला उठीं.


 

  अफसरों ने किया बुजुर्गों का पूजन



वेलेंटाइंस डे  पर ग्वालियर जिला प्रशासन ने बुजुर्गों के प्रति प्रेम और सम्मान की नजीर पेश की. कलेक्ट्रेट में मातृ-पितृ और वरिष्ठ जन पूजन कार्यक्रम रखा गया. कलेक्टर अनुराग चौधरी सहित अन्य अधिकारियों ने बुजुर्गों का हल्दी चंदन लगाकर पूजन किया और शॉल और श्रीफल देकर उनका सम्मान किया.दरअसल एक महीने पहले ग्वालियर जिला कलेक्टर ने बुजुर्ग पंचायत की थी. इसमें ऐसे बुजुर्गों को बुलाया गया था जो या तो अपने परिवार द्वारा प्रताड़ित किए जा रहे हैं या फिर उन्हें पात्र होते हुए भी सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है.इस महापंचायत के माध्यम से बुजुर्गों की समस्याएं हल करने का प्रयास किया गया था. इसके साथ ही जो बच्चे अपने माता-पिता को अपने साथ नहीं रख रहे थे या परेशान कर रहे थे, ऐसे बच्चों को बुलाकर समझाया गया. 

 

अपनों ने गिला शिकवा खत्म किए

कार्यक्रम में कई बुजुर्ग अपने बच्चों के साथ पहुंचे.  ये बच्चे अपने माता पिता को प्रताड़ित कर रहे थे. इनकी शिकायत बुजुर्गों ने जिला प्रशासन से की थी. वेलेंसटाइन डे पर जिला प्रशासन ने अपने बुजुर्ग माता-पिता और अभिभावक को प्रताड़ित करने वाले बच्चों को समझाइश दी. प्रशासन की समझाइश के बाद लोग अपने परिवार के बुजुर्गों को साथ रखने के लिए राजी हुए तो कलेक्टर ने उन्हीं बच्चों से अपने माता-पिता का पूजन भी कराया.

 

 खुश हुए बुजुर्ग

कई बुजुर्ग ऐसे भी हैं, जिन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा था. उनको लाभ दिलाने के निर्देश कलेक्टर ने मौके पर ही दिए. सिरोल से आए 75 साल के बुजुर्ग नारायण सिंह दिव्यांग हैं. लेकिन उनका सर्टिफिकेट नहीं बन पाया. इसलिए उन्हें ट्रायसाइकिल सहित अन्य योजनाओं का लाभ नहीं मिला था. लेकिन आज नारायण सिंह को शाम तक सर्टिफिकेट के साथ ही ट्राईसिकल भी मिल गई. अपनी समस्याओं के हल होने से ये बुज़ुर्ग बेहद खुश नजर आए. कलेक्टर अनुराग चौधरी का कहना है समाज में जो बुजुर्ग हैं उन्हें यथासंभव सम्मान मिले इसके लिए पूजन कार्यक्रम का आयोजन किया गया.




News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ग्वालियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 7:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर