होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /रेल की पटरी पर लेटा था युवक, RPF जवानों ने उठाया तो रोते हुए बोला-पत्नी से रोज होता है झगड़ा

रेल की पटरी पर लेटा था युवक, RPF जवानों ने उठाया तो रोते हुए बोला-पत्नी से रोज होता है झगड़ा

ग्वालियर में एक ऑटो चालक सुसाइड करने ट्रेन की पटरी पर लेट गया. लेकिन समय रहते RPF टीम  ने उसकी जान बचा ली.

ग्वालियर में एक ऑटो चालक सुसाइड करने ट्रेन की पटरी पर लेट गया. लेकिन समय रहते RPF टीम ने उसकी जान बचा ली.

Suicide attempt. ग्वालियर में पत्नी के झगड़े से प्रताड़ित होकर पति पटरी पर जान देने लेट गया. लेकिन मौके पर आरपीएफ की टी ...अधिक पढ़ें

ग्वालियर. ग्वालियर में एक ऑटो चालक की जान आरपीएफ जवानों ने बचा ली. गुस्से और दुख से भरा  ऑटो वाला आत्महत्या के लिए रेल की पटरी पर लेट गया था. तभी पेट्रोलिंग कर रहे जवानों की नजर उस पर पड़ गयी. उन्होंने तुरंत उसे वहां से उठा लिया. उसके हटते ही ट्रेन धड़धड़ाते हुए पटरी से गुजर गयी. ऑटो वाले की जान बच गयी तो गुस्सा भी उतर गया और वो आरपीएफ जवानों का बार बार शुक्रिया अदा करने लगा. मसला पति-पत्नी के बीच झगड़े का था.

बीती रात ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर RPF की टीम गश्त कर रही थी. RPF सब इंस्पेक्टर रविन्द्र सिंह राजावात साथी सुनील कुमार और जयदेव के साथ रात में गश्त पर थे. गश्त के दौरान तीनों रेल यार्ड का चक्कर लगाकर लौट रहे थे. उसी दौरान मेन ट्रैक पर एक युवक लेटा हुआ नजर आया. उस वक्त झांसी-इटावा सुपरफास्ट ट्रेन आने वाली थी. SI रविंद्र सिंह सहित तीनों जवान तेजी से युवक की तरफ लपके और उसे तुरंत वहां से हटाकर अलग किया. बस पल भर में ही ट्रेन पटरी पर से गुजर गयी. पल भर के समय और सूत भर की दूरी से ऑटो वाले की जान बच गयी.

पत्नी से परेशान होकर पटरी पर जाने लेटा गया था
ऑटो वाला बेहद परेशान लग रहा था. जब वो थोड़ा संभला तो पुलिस जवानों ने उससे पूछताछ की. उसने अपना नाम अनिल शाक्य बताया. अनिल ने बताया कि वो ऑटो चालक है और किला गेट हजीरा में परिवार के साथ रहता है. RPF सब इंस्पेक्टर रविंद्र सिंह ने अनिल से पटरी पर लेटने की वजह पूछी तो वो रो पड़ा, अनिल ने कहा वो शराब का आदी है. इस वजह से पत्नी से रोजाना झगड़ा होता है. रोज रोज की किट किट से परेशान होकर वो सुसाइड करने के लिए पटरी पर लेट गया था.

ये भी पढ़ें- अम्मी की शिकायत करने थाने पहुंचे 3 साल के हमजा ने जीता गृहमंत्री का दिल, भिजवाएंगे चॉकलेट और साइकिल

पत्नी ने कभी झगड़ा न करने की कसम खाई
लेकिन जिंदगी बचने के बाद अनिल हाथ जोड़कर RPF अफसर से माफी मांगने लगा. अनिल ने कहा  आपने बचा लिया ये आपकी बड़ी कृपा. बस अब मेरी बच्चियां अच्छे से पल जाएं. RPF जवानों ने मामले की गंभीरता देखते हुए अनिल की पत्नी को फोन किया. पत्नी अनिल के जान देने की बात सुनकर घबरा गई. आखिर में रात में RPF की टीम अनिल को घर लेकर पहुंची. घर मे पति-पत्नी में सुलह कराई. पत्नी अपनी गलती के लिए शर्मिदा हो गई उसने अपने पति से  कभी झगड़ा नहीं करने का संकल्प लिया. पति अनिल ने भी कभी शराब न पीने की शपथ ले ली.

Tags: Family dispute, Gwalior crime, Gwalior news, Husband Wife Dispute, Madhya pradesh latest news, Suicide attempt

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें