लाइव टीवी

गुजरात से पकड़ा गया फरार व्यापारी, किसानों को नहीं किया था उपज का भुगतान

Praveen Singh Tanwar | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 3, 2019, 7:39 PM IST
गुजरात से पकड़ा गया फरार व्यापारी, किसानों को नहीं किया था उपज का भुगतान
गुजरात में पकड़ा गया हरदा का फरार व्यापारी

मध्य प्रदेश पुलिस (Madhya Pradesh Police) ने हरदा (Harda) से किसानों (Farmers) का पैसा लेकर फरार व्यापारी (Absconding) मोनू जैन को गुजरात (Gujrat) के पालीताना (Palitana) से गिरफ्तार कर लिया है. इस व्यापारी पर 25 हज़ार का इनाम भी घोषित किया गया था.

  • Share this:
हरदा. खिड़किया मंडी (Khidakiya Mandi) में किसानों के साथ धोखाधड़ी करने वाले फरार व्यापारी मोनू जैन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. खिड़किया थाना पुलिस की टीम आरोपी व्यापारी को गुजरात राज्य (Gujrat) के पालीताना (Palitana) से गिरफ्तार कर हरदा ले आई है.  13 मई को खिड़किया मंडी में अनाज व्यापारी मोनू जैन किसानों का 1 करोड़ 42 लाख रुपया लेकर फरार हो गया था. इस मामले में पुलिस ने व्यापारी पर 25 हजार रूपये का इनाम भी घोषित किया था.

फरार व्यापारी 6 माह बाद गिरफ्तार
हरदा की खिड़किया कृषि मंडी से 204 किसानों का 1 करोड़ 42 लाख रुपया लेकर फरार हुए व्यापारी मोनू जैन उर्फ अभिषेक जैन को पुलिस ने 6 माह बाद गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी व्यापारी गुजरात राज्य के पालीताना में एक धर्मशाला में मैनेजर के रूप में कार्य कर रहा था. आरोपी व्यापारी ने किसानों से उपज खरीदकर उन्हें भुगतान नहीं किया था. किसानों द्वारा भुगतान मांगने के बाद व्यापारी मंडी से रूपये लेकर चम्पत हो गया था. किसानों की शिकायत पर पुलिस ने 13 मई को छिपावड थाने में मोनू जैन के खिलाफ धारा 420, 406 और 120 के तहत मामला दर्ज कर लिया था. पूर्व में पुलिस आरोपी व्यापारी के भाई निखिल जैन और फर्म के कर्मचारी को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है.

News - पुलिस ने व्यापारी पर 25 हज़ार रूपयों का ईनाम भी घोषित किया था.
पुलिस ने व्यापारी पर 25 हज़ार रूपयों का ईनाम भी घोषित किया था.


मंत्री पीसी शर्मा ने भी उठाया था सवाल
किसानों का पैसा लेकर फरार हुए खिड़किया मंडी के व्यापारी मोनू जैन उर्फ़ अभिषेक जैन की गिरफ्तारी और उपज का दाम दिलाने की मांग को लेकर खिड़किया कृषि मंडी में किसानों ने प्रदर्शन किया था. इस मामले को लेकर किसानों ने 27 मई को खिड़किया कृषि मंडी में तालाबंदी भी कर दी थी. किसानों के आक्रोश के बाद पुलिस ने व्यापारी पर 25 हजार का इनाम घोषित कर उसकी तलाश तेज कर दी थी. इसके बाद 26 अगस्त 2019 को मंडी में आयोजित 'आपकी सरकार आपके द्वार' कार्यक्रम में जिले के प्रभारी मंत्री पीसी शर्मा ने मंच से बोलते हुए आरोपी व्यापारी की गिरफ्तारी न होने पर सवाल उठाया था.

जिले के एसपी ने प्रभारी मंत्री को बताया था कि आरोपी व्यापारी के नेपाल में मौजूद होने की खबर है. बाद में किसानों की नाराज़गी को देखते हुए इस मामले में मंडी बोर्ड भोपाल ने 183 किसानों को करीब 1 करोड़ 36 लाख रूपये का भुगतान कर दिया था.मोबाइल की लोकेशन से पकड़ा गया व्यापारी
खिड़किया के एसडीओपी राजेश सुल्या ने बताया की आरोपी व्यापारी किसानों से उपज खरीदकर फरार हो गया था. उसके मोबाइल की लोकेशन के आधार पर उसे गुजरात के पालीताना से गिरफ्तार किया गया है. आरोपी को न्यायालय में पेश कर 7 दिन की पुलिस रिमांड लिया गया है. पुलिस अब व्यापारी से पूछताछ कर किसानों के पैसे का पता लगाएगी.

ये भी पढ़ें - 
Honey Trap: आरोपी महिला ने हाथ की नस काटने की कोशिश की, फिर बोली दारू पार्टी करेंगे!
CM कमलनाथ के मंत्री की फिसली जुबान, बोले- केंद्र सरकार किसी के 'पिताजी' की नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 3, 2019, 7:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर