Home /News /madhya-pradesh /

टॉप्स बेचकर क्लीयर किया दिल्ली पुलिस का एग्जाम, कुछ ऐसी है हरदा गर्ल की स्ट्रगल स्टोरी

टॉप्स बेचकर क्लीयर किया दिल्ली पुलिस का एग्जाम, कुछ ऐसी है हरदा गर्ल की स्ट्रगल स्टोरी

दीपिका कई लड़कियों के लिए प्रेरणा बन चुकी हैं.

दीपिका कई लड़कियों के लिए प्रेरणा बन चुकी हैं.

हरदा की दीपिका. एक साल पहले अचानक गायब हो गई थी ये लड़की. जब मां से मिली तो कुछ हासिल करके मिली. दिल्ली पुलिस का एग्जाम क्लीयर कर लिया है दीपिका ने. आगे पढ़ाई जारी रखेगी.

हरदा. लड़कियां कुछ भी कर सकती हैं. वो न किसी की मोहताज हैं और न ही बेसहारा. दुनियाभर की लड़कियों को प्रेरणा देने के मामले में एक और नाम जुड़ गया है. वो नाम है हरदा गर्ल दीपिका का. इनकी हौंसले की कहानी आपकी चौंकाएगी भी, रोमांचित भी करेगी और प्रेरणा भी देगी.

जब एक बेटी अचानक गायब हो जाए तो मां के मन में क्या-क्या संदेह पैदा होते हैं, सोचा भी नहीं जा सकता. दीपिका की मां के मन में भी सालभर तरह-तरह के सवाल गूंजते रहे. लेकिन, मां को ये भरोसा नहीं था कि उनकी बेटी एक साल बाद मिलेगी जरूर, लेकिन कुछ बड़ा हासिल कर.

शादी नहीं, पढ़ाई करना चाहती थी दीपिका

दरअसल, जिले से एक वर्ष पहले गुम हुई दीपिका को पुलिस दिल्ली से खोजकर हरदा ले आई. सिविल थाना क्षेत्र की रहने वाली दीपिका पढ़ाई के लिए घर छोड़कर दिल्ली चली गई थी. परिजन दीपिका की शादी करना चाहते थे. लेकिन, पढ़ने की ख्वाहिश में दीपिका ने घर छोड़ दिया. उसने दिल्ली जाकर जोरदार पढ़ाई की और दिल्ली पुलिस का एग्जाम क्लीयर कर लिया.

कोचिंग का कहकर निकली थी घर से

17 फरवरी 2020 को घर से कोचिंग जाने का कहकर निकली थी. वापस नहीं लौटने पर परिजनों ने सिविल लाइन थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई. पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद दीपिका खोजबीन शुरू की. हरदा रेलवे स्टेशन पर दीपिका की स्कूटी लावारिस अवस्था में मिली थी. पुलिस ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर देखा तो दीपिका की आखिरी लोकेशन मुंबई छत्रपति शिवाजी टर्मिनल स्टेशन थी. मार्च  माह में लॉकडाउन लगने के बाद दीपिका की खोजबीन  धीमी पड़ गई थी.

इस तरह दिल्ली में किया गुजारा

20 फरवरी को परिजनों ने दीपिका के दिल्ली में होने की सूचना पुलिस को दी. पुलिस दिल्ली पहुंची और दीपिका को लेकर हरदा आ गई. दीपिका ने बताया कि दिल्ली में वह अपने धर्म भाई सुनील राजोरिया के घर रह रही थी. सुनील से उसकी पहचान 2018 में सोशल मीडिया के जरिए हुई थी. दीपिका ने दिल्ली में एसएससी की तैयारी के साथ ही पुलिस की परीक्षा भी क्लियर की.

शादी नहीं करना चाहती थी युवती

दीपिका ने बताया कि उसके पिता का देहांत हो चुका है. दो बहनों और मां के साथ वह हरदा में रहकर पढ़ाई करती थी. जब उसे पता चला की गांव ले जाकर उसकी शादी करने की बात चल रही है तब उसने आगे की पढ़ाई के लिए घर छोड़ दिया. वह पहले मुंबई गई थी. यहां उसका मोबाइल चोरी हुआ. उसके बाद वह दिल्ली पहुंची. सुनील से मिलने के बाद वह किराए का घर लेकर रहने लगी. पढ़ाई के लिए जब पैसे की कमी पड़ी तो उसने अपने सोने के टॉप्स बेचे.

परिजनों से इस बात का लिया वचन

दीपिका ने बताया कि उसके जाने के बाद परिजनों को कई प्रकार की बातें सुननी पड़ रही थीं. इसलिए उसने घर आने का फैसला किया. परिजनों से उसने पहले वचन लिया की वह उसकी पढ़ाई नहीं रोकेंगे उसके बाद वह हरदा आई है.

Tags: Amazing story, Harda news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर