रेत खनन: कंप्‍यूटर बाबा का बड़ा बयान, बोले- नर्मदा नदी में मशीन चलाने वाला कहलाएगा 'चोर'
Harda News in Hindi

रेत खनन: कंप्‍यूटर बाबा का बड़ा बयान, बोले- नर्मदा नदी में मशीन चलाने वाला कहलाएगा 'चोर'
नदियों से अवैध रेत खनन नहीं होने दूंगा- कम्‍प्‍यूटर बाबा

मध्य प्रदेश नदी न्यास आयोग के अध्यक्ष कम्प्यूटर बाबा (Computer Baba) ने आज हरदा में मीडिया से हुई चर्चा में पूर्व शिवराज सरकार (Shivraj Government) पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि पहले नर्मदा का सीना छलनी (अवैध रेत खनन) किया गया है. अब जो भी ऐसा करेगा वो चोर कहलाएगा. जबकि राम मंदिर को लेकर भी उन्‍होंने बयान दिया है.

  • Share this:
हरदा. मध्य प्रदेश नदी न्यास आयोग के अध्यक्ष कंप्‍यूटर बाबा (Computer Baba) आज हरदा पहुंचे. सर्किट हाउस में कंप्यूटर बाबा ने अधिकारियों के साथ बैठक लेकर जिले में नर्मदा नदी के किनारों पर वृक्षारोपण करने और नर्मदा में प्रदूषण पर रोक लगाने पर चर्चा की. इस अवसर पर मीडिया से हुई चर्चा में बाबा ने मध्य प्रदेश की पूर्व शिवराज सरकार (Shivraj Government) पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि यह कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) है, शिवराज सरकार नहीं. पूर्व सरकार में उनके रिश्तेदारों और पहचान वालों ने नर्मदा का सीना छलनी किया. मध्य प्रदेश में अगर उन्हें सबसे ज्यादा अवैध खनन दिखा तो वह थी बुधनी विधानसभा, जो कि शिवराज सिंह चौहान का क्षेत्र है.

बाबा ने लोगों से की खास अपील
हरदा पहुंचे मप्र नदी न्यास आयोग के अध्यक्ष कंप्‍यूटर बाबा ने स्थानीय सर्किट हाउस में पौधारोपण किया और सभी से वृक्ष लगाने की अपील भी की. जबकि इस मौके पर जिले के कलेक्टर एस विश्वनाथन सहित सभी अधिकारियों से मुलाकात की. मीडिया से हुई चर्चा में कंप्यूटर बाबा ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ की मंशा है कि नर्मदा कल-कल बहे और अगर नर्मदा को कोई नुकसान पहुंचाता है तो उसे बख्शा नहीं जाएगा. नर्मदा में स्वच्छ जल बहे उसका सीना छलनी नहीं किया जाए. मध्य प्रदेश सरकार की जो रेत नीति बनी है उसके अनुसार रेत खनन हो, अगर कोई अवैध रेत निकालेगा, नर्मदा नदी में मशीन चलाता है तो वह चोर कहलाएगा. वह यह समझ ले कि यह बीजेपी का राज नहीं, बल्कि ये कमलनाथ का राज है. अवैध खनन बंद नहीं होने पर उन्होंने कहा कि अभी सरकार को बने साढ़े नौ महीने हुए हैं और इस बीच में लोकसभा के चुनाव भी हुए हैं. सीएम की मंशा थी कि संतों के हाथ में इसकी चाबी दी जाए, ताकि नर्मदा समेत अन्य नदियां कल- कल बहें और उसके तहत संतों को काम सौंपा है. संत सरकार की मंशा पर खरे उतरेंगे.

रेत की चोरी पर ये बोले बाबा
कंप्यूटर बाबा ने कहा कि नर्मदा नदी से एक भी टोकरी रेत चोरी नहीं होने देंगे. दोनों तट पर पौधे लगाए जाएंगे. प्रदेश में पूर्व शिवराज सरकार ने 7 करोड़ पौधे लगाए थे, लेकिन 700 पौधे भी जीवित नहीं हैं. इसीलिए मुख्यमंत्री कमलनाथ को आवेदन देकर जांच की मांग की है और जो भी दोषी हो उन पर कार्रवाई की हो. साथ ही जिन्होंने भी कागज पर पौधे लगाए हैं, उन पर कार्रवाई हो और उन्हें सलाखों के पीछे भेजें.



राम मंदिर को लेकर दिया ये बयान
राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर कंप्‍यूटर बाबा ने कहा कि राम मंदिर के लिए वे बेहद खुश हैं.पूरा संत समाज खुश है. उन्हें उम्मीद कि हमारे पक्ष में फैसला आने वाला है. हमने आतिशबाजी तैयार कर रखी हुई है और वह दीपावली बड़े रूप से मनाएंगे.

ये भी पढ़ें-
ये भी MP का गांव बना पूरे देश के लिए मिसाल, 97 साल से इतनी है जनसंख्‍या

दिग्विजय का बड़ा बयान, बोले- वीर सावरकर ने गांधी की हत्‍या का रचा था षड्यंत्र
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading