Assembly Banner 2021

Harda : किसानों के साथ धोख़ाधड़ी करने वाले व्यापारी को 5 साल की सज़ा, 2 लाख जुर्माना

पौने तीन साल चली सुनवाई के बाद कोर्ट ने निर्णय कर सभी साक्ष्यों के आधार पर अभियुक्त ओमप्रकाश सोनी को 5 साल के कारावास की सजा सुनायी है.

पौने तीन साल चली सुनवाई के बाद कोर्ट ने निर्णय कर सभी साक्ष्यों के आधार पर अभियुक्त ओमप्रकाश सोनी को 5 साल के कारावास की सजा सुनायी है.

Harda.व्यापारी ओमप्रकाश सोनी ने हरदा जिले के 22 किसानों से चना लेकर उसे सिवनी बनापुरा के व्यापारी को बेच दिया था लेकिन पैसा किसानों को नहीं दिया.

  • Share this:
हरदा.किसानों (Farmers) से धोखाधड़ी करने वाले व्यापारी को हरदा जिला न्यायालय ने 5 साल के कारावास और 2 लाख रुपये के अर्थदंड से दंडित किया है.व्यापारी ने किसानों से उनकी उपज लेने के बाद बिना पैसे दिये भाग गया था.

मूलतः होशंगाबाद जिले के रहने वाले व्यापारी ओमप्रकाश सोनी ने टेमागांव उसकल्ली के 22 किसानों से चना खरीदा था लेकिन लेकर उन्हें उपज का भुगतान नहीं किया था. द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने व्यापारी को 5 साल की सजा और 2 लाख रुपये के जुर्माने से दंडित किया है. अर्थदंड जमा नहीं करने पर 2 साल का कारावास और भुगतना होगा.

22 किसानों का पैसा नहीं दिया
हरदा जिला कोर्ट के शासकीय अतिरिक्त लोक अभियोजक प्रवीण सोनी ने इस केस की जानकारी देते हुए बताया कि हरदा जिले के टेमागांव में रहने वाले व्यापारी ओम प्रकाश सोनी ने 2018 में 23 किसानों से 855.70 क्विंटल चना खरीदा था. इसका 37 लाख 87 हजार 480 रुपये भुगतान करना था.लेकिन व्यापारी ने मात्र 1 व्यापारी का भुगतान किया और बाकी बचे 22 व्यापारियों के 27 लाख 37 हजार 880 रुपये नहीं दिये. इसके बाद पीड़ित किसानों ने 25 अप्रैल 2018 को रहटगांव थाने में व्यापारी ओमप्रकाश के खिलाफ धारा 420 में मामला दर्ज कराया था.
किसानों की फसल दूसरे व्यापारी को बेची


लगभग पौने तीन साल चली सुनवाई के बाद कोर्ट ने निर्णय कर सभी साक्ष्यों के आधार पर अभियुक्त ओमप्रकाश सोनी को 5 साल के कारावास की सजा सुनायी है. सोनी ने किसानों से उपज लेकर अन्य व्यापारी को बेच दी थी.

किसानों ने की थी शिकायत
मामले में पैरवी करते हुए सरकारी अतिरिक्त लोक अभियोजक ने कहा कि व्यापारी ने टेमागांव में एक कमरा किराये से लिया था. व्यापारी ओमप्रकाश सोनी ने हरदा जिले के 22 किसानों से चना लेकर उसे सिवनी बनापुरा के व्यापारी को बेच दिया था लेकिन पैसा किसानों को नहीं दिया.लाखों रूपये की राशि लेकर व्यापारी रातोंरात चम्पत हो गया था.किसानों ने इसकी शिकायत पुलिस से कर दी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज