लाइव टीवी

खिरकिया मंडी कांड का ऑडियो वायरल होने से पुलिस में मचा हड़कंप, जानिए पूरी कहानी...

Praveen Singh Tanwar | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 16, 2019, 9:22 PM IST
खिरकिया मंडी कांड का ऑडियो वायरल होने से पुलिस में मचा हड़कंप, जानिए पूरी कहानी...
छिपावड थाना प्रभारी राजेश साहू.

हरदा जिले (Harda District) में सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल हुए एक ऑडियो से पुलिस विभाग (Police Department) की पोल खुल गई है. इसमें छिपावड थाना प्रभारी राजेश साहू (Rajesh Sahu) और मोंटू नाम के व्यक्ति के बीच खिरकिया मंडी में किसानों से की गई धोखाधड़ी को लेकर बातचीत चल रही है.

  • Share this:
हरदा. मध्‍य प्रदेश के हरदा जिले (Harda District) में सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल हुए एक ऑडियो से पुलिस विभाग (Police Department) में हड़कंप मच गया है. ऑडियो में छिपावड थाना प्रभारी राजेश साहू (Rajesh Sahu) और मोंटू नाम के व्यक्ति के बीच बातचीत हो रही है. ऑडियो में खिरकिया मंडी में किसानों से की गयी धोखाधड़ी के मामले में आरोपी व्यापारी मोनू जैन के भाई मोंटू जैन से बात की जा रही है. इस ऑडियो में थाना प्रभारी राजेश साहू आरोपी व्यापारी के भाई मोंटू को किसी भी हद तक साथ देने की बात कह रहे हैं. जबकि साहू द्वारा ऑडियो में खिरकिया एसडीएम और मंडी सचिव को लेकर भी अपशब्द कहे गए हैं मामले में विभाग के अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने अभी ऑडियो सुना नहीं है. जबकि न्यूज़ 18 भी इस ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है.

ऑडियो से खुली पुलिस की पोल!
जिले की छिपावड थाना पुलिस खिरकिया मंडी से किसानों का रुपया लेकर फरार हुए व्यापारी मोनू जैन के मामले में गिरफ्तारी कर वाहवाही बटोर रही है. जबकि दूसरी और आरोपी और उनके परिवारजनों से छिपावड टीआई राजेश साहू के गठजोड़ का ऑडियो सामने आने से मामले में पुलिस की मिलीभगत की पोल खुल गयी है. व्हाट्सअप ग्रुप पर वायरल हुए तीन मिनट अड़तीस सेकंड के ऑडियो से पुलिस की जांच पर भी सवालिया निशान लग गए हैं. पूर्व में भी आरोपी व्यापारी मोनू जैन की पत्नी राजेश साहू पर आरोप लगा चुकी है. ऑडियो में टीआई राजेश साहू आरोपी व्यापरी मोनू जैन के भाई और मामले में सह आरोपी मोंटू (निखिल) से बात कर रहे हैं. इस मामले में टीआई ने पहले निखिल जैन को क्लीन चिट दे दी थी. बाद में दबाव आने पर आरोपी बनाकर जेल भेजा था. मोंटू (निखिल) अभी जमानत पर है. टीआई ऑडियो में कह रहा है कि मोंटू मंडी वालों ने तुम्हें आरोपी बनाने के लिए कोर्ट में आवेदन लगाया है. तुम अपना डिफेन्स तैयार रखो.

ऑडियो की बातचीत

1) मोंटू--सर जी नमस्कार
टीआई-मोंटू ठीक है यार. मैं बोल रहा था कि डीपीओ साहब का फोन आया था. मंडी वाले वालों ने कोर्ट में आवेदन लगाया है. भाई पुलिस ने तुमको मुल्जिम भी बनाया है समझे. तुम कोई अचछा वकील कर लेना अपना ठीक है.

2)मोंटू- सर क्या ये खिरकिया ही लगाया है.
Loading...

टीआई-हां, खिरकिया ही लगाया है. सेट कर लेंगे लेंगे, तुम चिंता मत करो. मैं तुमको बता रहा हूं ये मेरे नॉलेज में आयी है. डरने की कोई बात नहीं है.

3)मोंटू-सर इनका कोई इलाज करें, ये बहुत परेशान कर रहे हैं.

टीआई- वो देखो यार इलाज तो करना पड़ेगा तुमको. नेतागिरी करवाओ.

4)मोंटू-हां, वही.
टीआई-एसडीएम को बत्ती दिलवाओ तुम. एसडीएम और मंडी सचिव मामले में बार बार ऊँगली करता. कृषि मंत्री सचिन यादव से बत्ती दिलवाओ. मेरी तरफ से फ्री हो.

5)मोंटू-मेरे पास इनके भ्र्ष्टाचार के सबूत हैं. इनको सब तरफ से घेरूंगा.

टीआई-घेरो इनको, ये तुहारा बुरा चाह रहा हैं. ये तुमको मुल्जिम बनाना चाह रहे हैं. तुमतो बत्ती दिलाना चालू कर दो. तुम मुजरिम बन जाओ उस केस में, क्योंकि इस मामले में राशि की वसूली होने वाली है जिसमें सब घिर जाएंगे. एसडीएम मंडी सचिव हैं सब उसमें जाएंगे. इसलिए तुम्हें लपेटना चाह रहे हैं. तुम उन्हें बत्ती दिलाना चालू कर दो और अपना डिफेंस तैयार रखो भाई.

6)मोंटू-मुझे आज तहसील बुलाया था.मैंने कहा कि मुझे क्यों बुलाया.
टीआई- कुल यह मिलाकर चाह रहे हैं कि तुम रगड़ जाओ, क्योंकि उस समय उनकी नहीं चली. कलेक्टर साहब ने भी नोट ली. एसपी साहब सुन नहीं रहे हैं वे समझ गए कि इधर से नहीं बना पाए तो यह रास्ता अपनाओ. तुम चिंता मत करो अपना डिफेंस तैयार रखो. बाकी मैं हर हद तक तुम्हारे साथ हूं. अभी 4 साल जिले में रहूंगा और हर हद तक तुम्हारे साथ हूं और मंडी केस में मेरे से ज्यादा किसी को नहीं मालूम.

ऑडियो मामले में जांच को लेकर डीजीपी को की शिकायत
ऑडियो वायरल होने के बाद मामले में डीजीपी को शिकायत की गयी है. हरदा के रहने वाले सामाजिक कार्यकर्ता डीएस चौहान ने पत्र लिखकर पुलिस महानिरीक्षक भोपाल को शिकायत की है. अपने शिकायती पत्र में डीएस चौहान ने लिखा है कि आपको इस पत्र के माध्यम से अवगत कराया जाता है कि मोनू जैन प्रकरण में थाना प्रभारी राजेश साहू की कार्यप्रणाली शुरू से चर्चा है. मोनू जैन के बयान पर आरोपी को बचाने और उसके परिवार को प्रताड़ित करने के आरोप लग चुके हैं. आज एक ऑडियो वायरल हुआ है, जिसमें थाना प्रभारी को अपने अधिकारियों को अपशब्द कहते सुना जा रहा है. अतः आपसे निवेदन है कि मामले की जांच जिले के किसी अन्य थाना प्रभारी से करवाने का कष्ट करें.

क्या था मामला
हरदा की खिरकिया कृषि मंडी से 204 किसानों का 1 करोड़ 42 लाख रुपया लेकर 25 हजार के इनामी फरार व्यापारी मोनू जैन उर्फ़ अभिषेक जैन को पुलिस ने छह माह बाद 3 अक्टूबर को गिरफ्तार किया. आरोपी व्यापारी गुजरात राज्य के पालीताना में एक धर्मशाला में मैनेजर के रूप में कार्य कर रहा था. आरोपी व्यापारी ने किसानों से उपज खरीदकर उन्हें भुगतान नहीं किया था. किसानों द्वारा भुगतान मांगने के बाद व्यापारी मंडी से रुपये लेकर चम्पत हो गया था. किसानों की शिकायत पर पुलिस ने विगत 13 मई 2019 को छिपावड थाने में मोनू जैन के खिलाफ धारा 420, 406 और 120 के तहत मामला दर्ज किया था. पूर्व में पुलिस ने आरोपी व्यापारी के भाई निखिल जैन और फर्म के कर्मचारी को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है.

एएसपी ने कही ये बात
पूरे मामले पर चर्चा में जिले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गजेंद्र सिंह वर्धमान ने न्यूज़ 18 से कहा कि ऑडियो मैंने अभी सुना नहीं है. इसलिए इसके बारे टिप्पणी नहीं कर पाऊंगा. फिलहाल मोनू जैन की गिरफ्तारी के बाद मैं अवकाश पर चला गया था. इसलिए उसके बारे में ज्यादा कुछ नहीं बता सकते. क्या प्रोग्रेस हुई है देखते हैं. जब उनसे पूछा गया कि ऑडियो सामने आता है तो क्या कार्रवाई करेंगे तो कहा पहले देख लेते हैं.

ये भी पढ़ें-

'चींटी कांड' पर बोले कमलनाथ सरकार के मंत्री, दोबारा ऐसी घटना हुई तो...
मैग्नीफिसेंट MP को लेकर कमलनाथ सरकार का दावा, इस बार बदलेगी प्रदेश की 'किस्‍मत'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हरदा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 16, 2019, 9:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...