बारिश से MP बेहाल: हरदा में नर्मदा का 'कहर', प्रशासन ने जारी किया हाई अलर्ट

Praveen Singh Tanwar | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 9, 2019, 8:59 PM IST
बारिश से MP बेहाल: हरदा में नर्मदा का 'कहर', प्रशासन ने जारी किया हाई अलर्ट
हरदा में नर्मदा नदी की दहशत.

बरगी डैम (Bargi Dam) और तवा डैम (Tawa Dam) से लगातार पानी छोड़े जाने से हरदा में भी नर्मदा नदी (Narmada River) का जलस्तर बढ़ जाने से बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं. जबकि प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी किया है.

  • Share this:
हरदा. मध्‍य प्रदेश (Madhya Prades) में बारिश का कहर जारी है. यही वजह है कि बरगी डैम ( Bargi Dam) और तवा डैम (Tawa Dam) से लगातार पानी छोड़े जाने से हरदा में भी नर्मदा नदी (Narmada River) का जलस्तर बढ़ गया है. हंडिया में नर्मदा नदी खतरे के निशान से 3 मीटर ऊपर बह रही है. जबकि अभी नर्मदा का जलस्तर 270.550 मीटर पर बना हुआ है और यह प्रतिघंटे 30 सेमी की रफ्तार बढ़ रहा है. रात में नर्मदा का जलस्तर बढ़ने की आशंका के बीच प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी कर दिया है. वहीं किनारे पर बसे लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने की घोषणा करा दी गयी है.

नर्मदा खतरे के निशान से ऊपर
बहरहाल, भारी बारिश थमने के बाद लोगों ने राहत की सांस भी नहीं ली थी कि अब नर्मदा अपने रौद्र रूप में आ गयी है. जिले के हंडिया में केंद्रीय जल आयोग के कार्यालय के जेई अंकित शुक्ल के अनुसार अभी नर्मदा खतरे के निशान 267.550 मीटर से तीन मीटर ऊपर बह रही है. बढ़ रहे जलस्तर से नर्मदा के दोनों किनारे नेमावर और हंडिया के घाट डूब गए हैं. घाट पर बना शनि मंदिर भी डूब गया है. जलस्तर की बढ़ोतरी का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि घाट पर लगा हाईमास्ट टॉवर पानी में मात्र तीन चार फिट का दिखाई दे रहा है. जबकि नर्मदा के घाटों पर लाइफ बोट तैनात की गयी हैं.

किनारे पर बसे लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने की घोषणा करा दी गयी है.


हंडिया तहसीलदार ने कही ये बात
जबकि जिले में पूरे मानसून के दौरान अभी तक कुल 1436 मिमी वर्षा हो चुकी है, जो कि औसत 1261 मिमी से ज्यादा है. सुबह हुई भारी बारिश के बाद अजनाल नदी उफान पर आने से बंद हुआ खंडवा-होशंगाबाद स्टेट हाइवे 12 घंटे बाद भी बंद है. हंडिया में प्रशासन ने नर्मदा किनारे घोषणा कराकर सभी को सतर्क रहने की हिदायत दी है. हंडिया तहसीलदार अर्चना शर्मा ने बताया,' तहसील के सभी अधिकारियों को रात में अलर्ट रहने को कहा गया है.'

ये भी पढ़ें- इंदौर पहुंचा मेधा पाटकर का आंदोलन, कमलनाथ सरकार ने NCA से की इमरजेंसी मीटिंग बुलाने की मांग
Loading...

कमलनाथ सरकार की नई रेत नीति पर सियासत, BJP ने कहा-नई नीति नदियों की सेहत से खिलवाड़

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हरदा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 8:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...