लोकमान्य तिलक टर्मिनस-गोरखपुर गोदान एक्सप्रेस में खंडवा के पास लूट, 1 यात्री घायल
Harda News in Hindi

लोकमान्य तिलक टर्मिनस-गोरखपुर गोदान एक्सप्रेस में खंडवा के पास लूट, 1 यात्री घायल
गोदान एक्सप्रेस में यात्री से लूट

इस लूट का शिकार यूपी (UP) के आजमगढ़ में रहने वाले दो यात्री (Passengers) हुए. पीड़ित यात्री अतेश चौहान आजमगढ़ के सेकवलिया गांव का रहने वाला है. वो अपने छोटे 19 साल के ब्रजेश चौहान के साथगोदान एक्सप्रेस से अपने गांव जा रहा था.

  • Share this:
हरदा. मुंबई के लोकमान्य तिलक टर्मिनस से गोरखपुर (Lokmanya Tilak to Gorakhpur) जाने वाली 11055 गोदान एक्सप्रेस में खंडवा (Khandwa) के पास एक रेल यात्री के साथ लूटपाट (loot) हो गयी. अज्ञात बदमाश यात्री को चाकू मारकर उससे पैसे लेकर भाग गए. घायल यात्री को इलाज के लिए हरदा में उतार लिया गया. हालांकि जीआरपी (GRP) इसे सीट को लेकर यात्रियों का झगड़ा बता रहा है.

मुंबई से गोरखपुर जाने वाली गोदान एक्सप्रेस में खंडवा के पास लूट की घटना से हड़कंप मच गया. खंडवा स्टेशन के पास आउटर पर रुकी ट्रेन में चढ़े छह बदमाशों ने इस घटना को अंजाम दिया. खंडवा स्टेशन पर स्टॉपेज नहीं होने के बाद भी ट्रेन आउटर पर रुकी थी.आरोपियों ने रेल यात्री के दोनों हाथों पर चाकू मारे और फिर उसके पास रखे आठ हजार रुपए लूटकर फरार हो गए. सूचना मिलने पर घायल यात्री को हरदा स्टेशन पर उतारा गया.

मारपीट और लूटपाट
इस लूट का शिकार यूपी के आजमगढ़ में रहने वाले दो यात्री हुए. पीड़ित यात्री अतेश चौहान आजमगढ़ के सेकवलिया गांव का रहने वाला है. वो अपने छोटे 19 साल के ब्रजेश चौहान के साथगोदान एक्सप्रेस से अपने गांव जा रहा था. दोनों जनरल बोगी में सवार थे. खंडवा स्टेशन के आगे आउटर पर अंधेरे में ट्रेन रुकी. उसी दौरान ट्रेन में छह बदमाश चढ़े और यात्रियों को धमकाना शुरू कर दिया. ब्रजेश मोबाइल फोन पर बात कर रहा था. बदमाशो ने उसका फोन छीनने की कोशिश की. फोन ना देने पर बदमाशों ने मारपीट और फिर चाकू से उसके दोनों हाथों पर ताबड़तोड़ तरीके से वार कर दिए. इस हमले में ब्रजेश बुरी तरह घायल हो गया. हथियारों से लैस बदमाशों ने अतेश के पास रखे 8 हजार रुपए लूट लिए.
इस वारदात के बाद ट्रेन रवाना हुई और हरदा स्टेशन पर स्टॉपेज ना होने के बाद भी उसे रोका गया. यहां घायल ब्रजेश को उतारकर अस्पताल भेजा गया.



GRP का बयान
अतेश मुंबई में सियाराम मिल में काम करता है. मां बीमार है, इसलिए उनके इलाज के लिए पैसे लेकर वो दोनों भाई गांव जा रहे थे. लेकिन यात्री के बयान से बिलकुल विपरीत हरदा जीआरपी चौकी प्रभारी के एम रिछारिया ने का कहना है यह घटना यात्रियों के बीच आपसी मारपीट का नतीजा है. मारपीट के दौरान खिड़की दरवाजों पर लात घूंसे चलने से चोट आयी है. भुसावल स्टेशन के बाद से ही यात्रियों में बैठने की बात पर झगड़ा शुरू हो गया था. हरदा स्टेशन मास्टर के पास आयी सूचना पर दो यात्रियों को ट्रेन से उतारकर उनकी जांच करायी जा रही है. मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद ही आगे कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें-संविदा कर्मचारियों के नियमितिकरण पर ब्रेक! सरकार का नया प्लान

इंदौर एयरपोर्ट ने दिव्यांग यात्रियों से कहा- May I help you
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading