नहर के घटिया निर्माण कार्य की बारिश ने खोल दी पोल, दीवारें बहीं

हरदा जिले में नहर निर्माण कार्य की घटिया गुणवत्ता की पहली बारिश ने ही पोल खोलकर रख दी है. नहर की दीवारें कई जगह बह गई हैं.

Praveen Singh Tanwar | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 16, 2019, 9:40 PM IST
नहर के घटिया निर्माण कार्य की बारिश ने खोल दी पोल, दीवारें बहीं
नहर के पक्की करण में घटिया सामग्री के इस्तेमाल से लग रहा सरकार को करोड़ों का चूना
Praveen Singh Tanwar | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 16, 2019, 9:40 PM IST
हरदा जिले में नहर निर्माण बड़ी लापरवाही बरती जा रही है. निर्माण कार्य में गड़बड़ी के कारण पहली बारिश में ही करोड़ों की लागत से बन रही नहर की दीवारें बह गईं. जल संसाधन विभाग के टिमरनी डिवीजन में 26 करोड़ की लागत से 62 किलोमीटर क्षेत्र में नहर का निर्माण हो रहा है. नहरों में घटिया निर्माण कार्य का खमियाजा किसानों को भुगतना पड़ेगा. किसानों की कहना है कि इस बारे में उनकी की गई शिकायतों पर कोई सुनवाई नहीं हुई.

हाथ से कंक्रीट निकाल कर निर्माण कार्य की गुणवत्ता की सचाई दिखाते किसान


जिले के टिमरनी डिवीजन में जल संसाधन विभाग द्वारा 26 करोड़ 80 लाख की लागत से तीन उपनहरों की लाइनिंग का कार्य किया जा रहा है. अभी निर्माण कार्य चल ही रहा था उसी दौरान नहर निर्माण कार्य में किए जा रहे गोलमाल की पोल खुल गई. अजनई उपनहर, रुण्डलाय उपनहर और हरदा उपनहर का निर्माण जल संसाधन विभाग करा रहा है. किसानों को अंतिम छोर तक सिंचाई के लिए पानी मिले इसलिए शासन के स्तर से सभी नहरों को पक्का किया जा रहा है लेकिन विभागीय अनदेखी से निर्माण कार्य में हो रही लापरवाही के कारण नहरों का निर्माण कार्य पहली बारिश में ही बह गया. कई स्थानों से नहर के बीच का कंक्रीट बहने से मिट्टी बाहर आ गई है. घटिया निर्माण कार्य के कारण सरकार को करोड़ों रुपए का चूना लगाया जा रहा है. किसानों ने बताया कि नहर निर्माण में तकनीकी खामियों का ध्यान नहीं रखा गया. खेत से निकलने वाले पानी की निकासी रोकने से भी नहरों को नुकसान हो रहा है.

हरदा जिले में जगह-जगह से बही निर्माणाधीन नहर की दीवारें


नहर निर्माण में किये गए कार्य का अंदाजा इसे लगाया जा सकता है की हाथों से ही कंक्रीट निकल रहा है. बजनिया गांव के किसानों ने नहर में उपयोग किए गए कंक्रीट को हाथों से ही निकालकर दिखा दिया. जिले के टिमरनी डिवीजन के कार्यपालन यंत्री ने निर्माण में लापरवाही की बात से इनकार करते हुए कहा कि अभी निर्माण कार्य जारी है और ठेकेदार को भुगतान नहीं हुआ है. जहां भी निर्माण बहा है उस स्थान पर दोबारा निर्माण किया जाएगा.

ये भी पढ़ें- देखें कैसे 8 सेकेंड में ध्वस्त हुई दो साल में बनी बिल्डिंग

सड़क मरम्मत के नाम पर हुआ 4 करोड़ का घोटाला, जांच शुरू

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हरदा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 16, 2019, 9:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...