Home /News /madhya-pradesh /

unique wedding brahmin mother got her adivasi daughter married emotional story of unknown relationship mpns

रिटायर्ड टीचर ने कराई अनोखी शादी; आदिवासी बेटी ने कहा- यशोदा मैया से कम नहीं मां, निकले आंसू

Interesting Story: एमपी के हरदा जिले में एक ब्राह्मण मां ने आदिवासी बेटी की धूमधाम से शादी कराई.

Interesting Story: एमपी के हरदा जिले में एक ब्राह्मण मां ने आदिवासी बेटी की धूमधाम से शादी कराई.

Unique Wedding Story: हरदा जिले में गुरुवार को हुई शादी की चर्चा चारों तरफ हो रही है. यहां एक ब्राह्मण मां ने आदिवासी बेटी को विदा किया तो माहौल भावनात्मक हो गया. कुछ लोगों के आंसू निकले तो कुछ ने जबरदस्त तारीफ की. दरअसल, ब्राह्मण समाज की रिटायर्ड शिक्षिका किरण उपरीत ने अपनी मुंहबोली बेटी बाली का विवाह धूमधाम कराया. उन्होंने उसे और उसकी बहन को बचपन से पाला है. खास बात ये है कि दोनों बेटियों के माता-पिता उनके खेत पर ही मजदूरी किया करते थे. उनकी बेटियों को अपनी बेटियां समझकर महिला ने पाला था.

अधिक पढ़ें ...

हरदा. हरदा जिले में गुरुवार को हुई शादी की चर्चा पूरे मध्य प्रदेश में हुई. दरअसल, ये अनोखी शादी एक आदिवासी बेटी की थी. ब्राह्मण समाज की रिटायर्ड शिक्षिका ने अपनी मुंह बोली बेटी का विवाह धूमधाम से वैदिक रीति-रिवाजों से कराया. महिला ने बचपन से इस युवती को पाला. उसके माता-पिता उनके खेत पर मजदूरी करते थे. महिला ने युवती को एमकॉम तक पढ़ाया और योग्य वर ढूंढकर शादी कराई. इस अनूठी शादी में प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल भी शामिल हुए.

ये शादी उपरीत परिवार ने कराई. रिटायर्ड टीचर किरण उपरीत और उनके पति बड़े पोस्ट ऑफिस के पास रहते हैं. उनकी कोई संतान नहीं है और उनके पति कैंसर से जूझ रहे हैं. उपरीत परिवार के खेत पर खंडवा जिले के दामजीपूरा में रहने वाले सिद्दू सलामे मजदूरी किया करते थे. सिद्दू की दो बेटियां बाली और शिवकांति हैं. शिवकांति बाली से छोटी है. इन दोनों को किरण ने 15 साल पहले ही अपने पास रख लिया था.

बेटियों की हर इच्छा की पूरी

किरण और उनके पति ने दोनों को पढ़ाया-लिखाया और हर उस ख्वाहिश को पूरा किया जो बेटियां करती हैं. जब बाली ने एमकॉम और कंप्यूटर डिप्लोमा कर लिया और शादी योग्य हुई तो उसके लिए योग्य वर ढूंढा और शादी कराई. दूसरी ओर, उसकी छोटी बहन शिवकांति ने भी बारहवीं पास कर ली है. दोनों बहनों ने कहा कि किरण उपरीत उनके लिए मां यशोदा हैं. दोनों ने कहा कि मां ने उन्हें अच्छी परवरिश देकर जीवन संवार दिया.

घर सूना-सूना लगेगा- मां

इस मौके पर मां किरण उपरीत ने कहा कि आज मेरे परिवार के लिए बहुत बड़ा दिन है. बेटी की विदाई कर रही हूं. हम भगवान के आभारी हैं कि उन्होंने हमारे हाथ से कन्यादान कराया. इस दौरान किरण भावना से भर गईं और उनके आंसू छलक गए. उन्होंने कहा कि अब बेटी चली जाएगी तो घर सूना-सूना लगेगा.  यह कहते हुए उनकी आंखों से आंसू आ गए और गला रुंध गया.

Tags: Harda news, Mp news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर