Home /News /madhya-pradesh /

MP: दुर्लभ काले हिरण का शिकार, ग्रामीणों ने 2 शिकारियों को पकड़कर पुलिस के हवाले किया

MP: दुर्लभ काले हिरण का शिकार, ग्रामीणों ने 2 शिकारियों को पकड़कर पुलिस के हवाले किया

खेतों में काम कर रहे बिश्नोई समाज के लोगों ने शिकारियों को गिरफ्तार किया

खेतों में काम कर रहे बिश्नोई समाज के लोगों ने शिकारियों को गिरफ्तार किया

हरदा में दुर्लभ काले हिरण (Black Bug) के शिकार का मामला सामने आया है. गोली की आवाज़ सुनकर खेतों में काम कर रहे बिश्नोई समाज के लोगों ने 2 शिकारियों को पकड़कर पुलिस और वन विभाग के हवाले कर दिया, जबकि 2 अन्य शिकारी निकल भागने में सफल रहे

अधिक पढ़ें ...
हरदा. मध्य प्रदेश के हरदा जिले के ग्राम नीमसराय में दुर्लभ प्रजाति के काले हिरण के शिकार (Hunt) का मामला सामने आया है. देर रात 4 शिकारियों ने गोली मारकर हिरण का शिकार किया था. गोली की आवाज सुन खेतों में मौजूद ग्रामीणों ने 2 शिकारियों को पकड़ लिया. आरोपी भाग न सकें इसलिए ग्रामीणों ने आरोपियों के पैर कपड़े से बांध दिए थे. सुचना मिलने पर पहुंची पुलिस और वन विभाग (Forest Department) की टीम ने दोनों आरोपियों को हिरासत में लेकर प्रकरण दर्ज कर लिया है. घटना के प्रत्यक्षदर्शी ने कहा की आरोपियों ने उनपर भी फायर किया था लेकिन गोली कान के पास से निकल गई.

काले हिरण का शिकार
हरदा वन विभाग की मकड़ाई रेंज के ग्राम नीमसराय में काले हिरण का शिकार किया गया. शिकारियों ने हिरण को गोली मारकर उसे घायल कर दिया था. बाद में उन्होंने चाकू से उसका गला काटकर उसे मार डाला. आसपास खेतो में गेंहू की फसल काट रहे किसानों ने 2 शिकारियों को धर दबोचा. ग्रामीणों ने खिरकिया निवासी आरोपी अनवर खान और रेहमान को पुलिस के हवाले किया. पुलिस और वन विभाग की टीम ने शिकार के लिए उपयोग किये हथियार सहित दो बाइकों को भी जब्त कर लिया. वन विभाग द्वारा विभाग के डिपो में ही हिरन का अंतिम संस्कार किया गया.

प्रतयक्षदर्शी ने दिया घटना का पूरा ब्यौरा
घटना के प्रत्यक्षदर्शी ओमप्रकश बिश्नोई ने कहा की देर रात वे अपने खेत में लगे तरबूज में पानी देने गए थे, उसी दौरान उन्हें गोली चलने की आवाज सुनाई दी. उन्होंने चारो और देखा तो खेत के बीच में 4 टार्चों की रौशनी उन्हें दिखाई दी. जब पास जाकर देखा तो आरोपियों ने धमकी देकर पास आने से रोकने की कोशिश की. आरोपियों की धमकी की परवाह न कर जब वो पास गए तो आरोपियों ने उनपर बंदूक से फायर कर दिया, इस बीच 2 आरोपी मौके से भाग निकले. इस दौरान बिश्नोई ने शोर मचाकर आसपास मौजूद किसानों को इकट्ठा कर दोनों आरोपियों को पकड़ लिया. उन्होंने कहा कि आरोपियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए.

काले हिरण के लिए रिजर्व क्षेत्र बनाने की मांद कर रहे हैं ग्रामीण
पुरे देश में पर्यावरण प्रेमी समाज के रूप में पहचाने जाना वाला बिश्नोई समाज हिरण को भगवान के रूप में मानता है. हिरण के शिकार की सुचना पर विश्नोई समाज के सैकड़ों लोग छिपावड थाने पहुंचे और हिरन का शिकार करने वाले आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की. समाज के सदस्य और पर्यावरण प्रेमी वेद बिश्नोई ने कहा की हरदा जिले में काला हिरण बहुतायत संख्या में पाया जाता है. उनके द्बारा वर्षों से जिले में काले हिरण के लिए रिजर्व क्षेत्र बनाने की मांग वन विभाग से की जा रही है.

आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिलाया
जिले के वन मंडल अधिकारी लाल जी मिश्रा ने बताया की कल देर रात सुचना मिलने पर वन विभाग की टीम पुलिस के साथ पहुंची थी. दोनों अपराधियों को पुलिस से सुपुर्दगी लेकर न्यायालयीन कार्रवाई की जाएगी. ये प्रकरण वन्य प्राणी अधिनियम संरक्षण 1972 का है. दोनों आरोपी अनवर खान और रेहमान निवासी खिरकिया के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी. डीएफओ ने कहा की चाकू से हिरण का गला रेतने की बात आई है. पीएम रिपोर्ट में किसी अन्य हथियार का उपयोग होने पर धारा बढ़ जाएगी. फिलहाल पुलिस ने दोनों आरोपियों पर वन्य प्राणी अधिनियम की धारा 2, 16, 39 और 9/5 में प्रकरण दर्ज किया गया है.

ये भी पढ़ें -
CM कमलनाथ सरकार ने बुलाई आपात बैठक, बजट सत्र हो सकता है स्थगित!
MP: CRPF की सुरक्षा में बेंगलुरु से भोपाल आएंगे सिंधिया समर्थक विधायक

Tags: Black Buck Poaching Case, Forest department, Harda news, Madhya pradesh news

अगली ख़बर