लाइव टीवी

CEO पति का तबादला होने पर भी पत्नी ने जारी रखा 'ऑपरेशन मलयुद्ध', सचिन के हाथों मिला पुरस्कार
Harda News in Hindi

Praveen Singh Tanwar | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: August 26, 2016, 12:18 AM IST
CEO पति का तबादला होने पर भी पत्नी ने जारी रखा 'ऑपरेशन मलयुद्ध', सचिन के हाथों मिला पुरस्कार
प्रख्यात क्रिकेटर और स्वच्छ भारत मिशन के ब्रांड अंबेसडर सचिन तेंदुलकर ने गुरुवार को नई दिल्ली में मध्य प्रदेश के हरदा जिला पंचायत की सीईओ एस प्रिया मिश्रा को स्वच्छता चैंपियन बतौर मान्यता देते हुए क्रिकेट का बल्ला भेंट किया.

प्रख्यात क्रिकेटर और स्वच्छ भारत मिशन के ब्रांड अंबेसडर सचिन तेंदुलकर ने गुरुवार को नई दिल्ली में मध्य प्रदेश के हरदा जिला पंचायत की सीईओ एस प्रिया मिश्रा को स्वच्छता चैंपियन बतौर मान्यता देते हुए क्रिकेट का बल्ला भेंट किया.

  • Share this:
प्रख्यात क्रिकेटर और स्वच्छ भारत मिशन के ब्रांड अंबेसडर सचिन तेंदुलकर ने गुरुवार को नई दिल्ली में मध्य प्रदेश के हरदा जिला पंचायत की सीईओ एस प्रिया मिश्रा को स्वच्छता चैंपियन बतौर मान्यता देते हुए क्रिकेट का बल्ला भेंट किया.

दरअसल, हरदा जिले में खुले में शौच को रोकने के लिए सबसे हटकर प्रयोग किए गए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी 'मन की बात' कार्यक्रम में जिले के ऑपरेशन मलयुद्ध की दिल खोलकर तारीफ की थी.

हरदा जिले के अपर कलेक्टर गणेश शंकर मिश्रा ने जिला पंचायत में मुख्य कार्यपालन अधिकारी के पद पर रहते हुए गांवों में खुले में शौच रोकने के लिए मल युद्ध ऑपरेशन शुरू किया था. अब गणेश शंकर मिश्रा का तबादला हो चुका है, उन्हें हरदा जिले में ही एडीएम की जवाबदारी सौंपी गई हैं. लेकिन अब इस पद पर उनकी पत्नी प्रिया मिश्रा पदस्थापना हुई है. वो अब इस ऑपरेशन को निरंतर आगे बढ़ाए हुए हैं.



खुले में शौच नहीं करने पर यहां सस्ता मिलेगा दूध



हरदा जिले को खुले में शौच जाने की बुराई से मुक्त करने के लिए एक अनूठी पहल की गई. जिला प्रशासन द्वारा खुले में शौच मुक्त गांवों से प्राप्त होने वाले दूध की कीमत पर प्रति लीटर 25 पैसे अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि गई, जिसके अच्छे नतीजे सामने आए और जिले का ग्रामीण इलाका पूरी तरह खुले में शौच से मुक्त हो चुका है

बहन को ‘शौचालय’ गिफ्ट कर सेल्फी भेजो और पाओ भाई नंबर-1 का ताज

हरदा कलेक्टर श्रीकांत बनोठ ने कहा कि 15 अगस्त को पूरे जिले को खुले से शौच से मुक्त घोषित किया गया है. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने खुद ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी थीं.

'सहयोग डेरी' प्रोजेक्ट

जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी प्रिया मिश्रा ने बताया कि दूध उत्पादन में हरदा एक अग्रणी जिला है. यहां अधिकतर परिवारों के पास पशुधन हैं. एक नई पहल के रूप में 'सहयोग स्वच्छ दुग्ध प्राइवेट लिमिटेड', हरदा द्वारा खुले में शौच की बुराई से मुक्त हो चुके गांव में उत्पादित दूध के लिये 25 पैसे प्रति लीटर की प्रोत्साहन राशि दी जा रही है.

उन्होंने बताया कि खुले में शौचमुक्त गांवों की स्वच्छता की स्थितियों की सतत निगरानी भी डेयरी कार्यकर्ताओं द्वारा की जाती है.

खुले में शौच जाना पड़ा महंगा, तीन लोगों को भेजा जेल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हरदा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 25, 2016, 10:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading