VIDEO: ऐसा क्या हुआ कि इस किसान ने कहा, 'खेत में आओ और फ्री में टमाटर ले जाओ'
Harda News in Hindi

किसान ने तुड़ाई की मजदूरी नहीं निकलने पर एक उपाय निकाला. किसान ने फसल फेंकने के बजाय फ्री में लोगों को टमाटर उपलब्ध कराने का फैसला लिया.

  • Share this:
मध्य प्रदेश में टमाटर के उचित दाम नहीं मिलने से किसान टमाटर की फसल को सड़कों पर फेंक रहे है. वहीं हरदा जिले के एक किसान ने टमाटर के भाव नहीं मिलने पर एक अनोखा निर्णय लिया है. किसान ने तुड़ाई की मजदूरी नहीं निकलने पर 'खेत में आओ और फ्री में टमाटर तोड़कर ले जाओ' का ऑफर लोगों को दिया है. इस ऑफर के बारे में जब लोगों ने सुना तो वे किसान के खेत से टमाटर फ्री में लेकर जा रहे है.

मामला ग्राम हरदा खुर्द का है. जहां किसान संतोष पटेल चर्चा में बने हुए है. किसान ने खेत में आकर फ्री में टमाटर ले जाने का प्रस्ताव दिया है. संतोष पटेल ने टमाटर के ऊंचे दामों को देखते हुए तीन एकड़ खेत में जनवरी महीने में टमाटर लगाया था. लेकिन जब टमाटर पककर तैयार हुआ और पैदावार बम्पर हुई तो मंडियों में भाव गिर गए.

दो माह पहले 60 रूपये किलो बिकने वाला टमाटर आज एक रुपए किलो में भी नहीं बिक रहा है. किसान ने तुड़ाई की मजदूरी नहीं निकलने पर एक उपाय निकाला. किसान फसल फेंकने के बजाय फ्री में लोगों को टमाटर उपलब्ध कराने का फैसला लिया. गांव में लोगों को 'खेत में आओ फ्री में टमाटर तोड़कर ले जाओ' की बात कह दी. किसान का कहना है कि दाम इतने कम है की लागत तो दूर मजदूरी भी नहीं निकल रही है.



थोक सब्जी मंडी में भले ही टमाटर के दाम गिर गए हो, लेकिन सब्जी मंडियों में लोगों को 10 रूपये किलो टमाटर मिल रहा है. फ्री में टमाटर मिलने की बात पता चलने पर लोग किसान के खेत में पहुंच रहे है. खेत में मौजूद एक युवती ने बताया की वे फ्री में टमाटर तोड़कर ले जा रही है. किसान का यह निर्णय लोगों के लिए फायदेमंद साबित हो रहा है. एक अन्य ग्रामीण का कहना है की महंगाई के दौर में किसान का ऑफर लोगों को पसंद आ रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading