होशंगाबाद के इस गांव में एक साथ उठी 4 बच्चों की अर्थी, नर्मदा में डूब गए थे चारों भाई-बहन
Hoshangabad News in Hindi

होशंगाबाद के इस गांव में एक साथ उठी 4 बच्चों की अर्थी, नर्मदा में डूब गए थे चारों भाई-बहन
नर्मदा में डूबे चारों भाई-बहनों का होशंगाबाद में एक साथ अंतिम संस्कार

लॉकडाउन (Lockdown) के कारण अभी नर्मदा (Narmada) में स्नान करने पर प्रतिबंध है. बावजूद इसके ये चारों वहां नहाने के लिए गए थे.

  • Share this:
होशंगाबाद. जिले के रायपुर गांव में मौत का सन्नाटा पसरा हुआ है. इस गांव के 4 बच्चों की बुधवार जब एक साथ अर्थी उठी तो पूरा गांव कराह उठा. इनमें से तीन का एक अंतिम संस्कार कर दिया गया, जबकि चौथी बच्ची को दफन किया गया. ये सभी मृतक चंद्रोल परिवार के थे, जो गंगा दशहरा पर नर्मदा (Narmada) में स्नान करने गए थे. परिवार पर टूटी इस विपत्ति से पूरा गांव सदमे में हैं. लॉकडाउन (Lockdown) के कारण अभी नर्मदा में स्नान करने पर प्रतिबंध है. बावजूद इसके ये चारों वहां स्नान के लिए गए थे.

होशंगाबाद के रायपुर गांव के लिए गंगा दशहरा बड़ी मुसीबत लेकर आया. यहां रहने वाले चंद्रोल परिवार के 4 जवान बच्चों की डूबने से मौत हो गयी. सभी गंगा दशहरा पर नर्मदा में स्नान के लिए खुशी-खुशी गए थे, लेकिन देखते ही देखते 4 जवान बच्चे नर्मदा में गहरे भंवर में फंसकर डूबते चले गए.ये चारों भाई-बहन थे जो स्नान के लिए घानाबढ़ घाट गए थे. इन्हें डूबता देख आसपास मौजूद लोगों ने स्थानीय लोगों ने 2 सदस्यों को बचा तो लिया लेकिन बाकी को नहीं बचा पाए.





चंद्रोल परिवार के 6 सदस्य नर्मदा स्नान करने के लिए घानाबढ़ गए थे. स्नान के दौरान ही ये शायद गहरे पानी में चले गए. पल भर में ये पानी में समाने लगे. इन्हें डूबता देख मौके पर मौजूद लोग आगे बढ़े, लेकिन उनमें से सिर्फ दो को ही बचा पाए. इनमें से एक युवती थी जिसे जिला अस्पताल में भर्ती किया गया. लेकिन, बाकी 4 लोग डूब गए. मृतकों में 21 वर्षीय निर्मेश, 16 वर्षीय आयुष, 12 वर्षीय सिद्धि और 13 साल का एक और बच्चा शामिल है.



मोटर बोट से निकाली लाश
चारों के डूबने पर कोहराम मच गया. फौरन प्रशासन की रेस्क्यू टीम पहुंची और मोटर बोट चलाकर रेस्क्यू किया गया. होमगार्ड के जवानों ने पानी में जाल फैलाया तो चारों की लाश उसमें निकली.

लॉकडाउन में नर्मदा में स्नान पर प्रतिबंध
पूरे देश में इस समय लॉकडाउन है. होशंगाबाद में इस दौरान नर्मदा नदी में स्नान करने पर प्रतिबंध है. नदी के प्रमुख घाटों पर पुलिस भी तैनात है. लेकिन, इससे बचने के लिए लोग दूर दराज के इलाकों में नर्मदा स्नान के लिए पहुंच गए. घनाबढ़ घाट पर जहां ये हादसा हुआ, वहां सीहोर जिले के शाहगंज से होशंगबाद को सड़क से जोड़ने के लिए ब्रिज बनाया जा रहा है. ब्रिज के पिलर बनाने के लिए नदी में स्टॉप डैम बनाये गए हैं. इसलिए इस इलाके में पानी की गहराई ज़्यादा है. जगह-जगह चेतावनी बोर्ड भी लगे हुए हैं, उसके बाद भी लोग इसे नज़रअंदाज कर स्नान के लिए पहुंचे.

ये भी पढ़ें-

MP के सेक्स स्कैंडल Honey trap केस में कौन रोक रहा है SIT का रास्ता?

MP में स्कूलों में लागू होगा Odd-Even फॉर्मूला! शिक्षा विभाग का प्लान तैयार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading