खतरे के अलार्म पर नर्मदा, होशंगाबाद में जारी हुआ रेड अलर्ट

बरगी डैम (Bargi Dam), बारना डैम (Barna Dam) एवं तवा डैम (Tawa Dam) से लगातार छोड़ जा रहे पानी के कारण नर्मदा नदी (Narmada River) होशंगाबाद में लगभग खतरे के अलार्म पर पहुंच गयी है.

Shailendra Kaurav | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 9, 2019, 10:38 PM IST
खतरे के अलार्म पर नर्मदा, होशंगाबाद में जारी हुआ रेड अलर्ट
मध्‍य प्रदेश के 32 जिले हाई अलर्ट पर हैं.
Shailendra Kaurav | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 9, 2019, 10:38 PM IST
होशंगाबाद. मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में इन दिनों बारिश (Rain) का कहर जारी है और बीते दो दिनों से हो रही जोरदार बारिश के बाद बरगी, बारना एवं तवा जलाशय से लगातार छोड़ जा रहे पानी के कारण सोमवार को नर्मदा नदी (Narmada River) लगभग खतरे के अलार्म पर पहुंच गयी है. सेठानी घाट पर जल स्तर 963.50 फिट पर पहुंच गया. जबकि खतरे का अलार्म लेवल 964 फीट है. हालांकि दोपहर बाद से बारिश थमने के बाद अधिकारियों ने राहत की सांस ली है और तवा व बारना डैम से छोड़े जा रहे पानी में कमी आने के कारण भी प्रशासन के मुताबिक जिले में हालात गंभीर नहीं हो पाएंगे. इस दौरान मुख्यालय सहित आसपास ग्रामीण इलाकों से शहर को जोड़ने वाले रास्तों पर पानी भरा गया. साथ ही हरदा-होशंगाबाद को जोड़ने वाले डोलरिया पुल और साड़ि‍या-पिपरिया को जोड़ने वाले पुल पर पानी आने के कारण यातायात बाधित हुआ.

जिले में हुई इतनी बारिश
आज जिले की औसत बारिश का आंकड़ा भी पूरा हो गया. जिले की सामान्य औसम बारिश 1311 मिमी है, जो सोमवार को 1399 मिमी पर पहुंच गयी. वहीं नर्मदा घाटों पर बड़ी सनकुए में लोग बाढ़ देखने पहुंचे. कोरी घाट पर बढ़ते जलस्तर के बावजूद बच्चें अपनी जान जोखिम में डालकर तैरते हुए नजर आए.

मौसम विभाग ने बारिश को लेकर जारी किया अलर्ट

लगातार हो रही बारिश से जिले के अधिकांश निचले गांवों में बाढ़ और बारिश का पानी घरों में भरा गया है, जिससे ग्रामीणों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. मौसम विभाग ने बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के 32 जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है. जारी अलर्ट में होशंगाबाद में अत्यधिक भारी बारिश होने की संभावना है.

अधिकारियों ने लिया जायजा
इधर प्रशासनिक अधिकारियों ने भी बाढ़ और आपदा राहत की स्थिति का जायजा लेने के लिए विभिन्न क्षेत्रों का दौरा किया. कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह और एसपी एमएल छारी ने अपने अमले के साथ होशंगाबाद, इटारसी सहित ग्रामीण इलाकों का दौरा कर बाढ़ से बने हालातों का जायजा लिया. वहीं अधिकारियों को अलर्ट रहने के निर्देश भी दिए गए हैं.
Loading...

ये भी पढ़ें:- गौशाला के बाद कमलनाथ सरकार का नया कदम, गाय को गोद लेने की योजना हुई तैयार

कमलनाथ सरकार की नई रेत नीति पर सियासत, BJP ने कहा-नई नीति नदियों की सेहत से खिलवाड़

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए होशंगाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 10:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...