Home /News /madhya-pradesh /

तेंदुए और जंगली सूअर की मौत बनी रहस्य, पोस्टमार्टम में खुलासा न होने पर बिसरा जांच को भेजा

तेंदुए और जंगली सूअर की मौत बनी रहस्य, पोस्टमार्टम में खुलासा न होने पर बिसरा जांच को भेजा

सुराग की तलाश में मौके पर डॉग स्क्वायड भी लाया गया. (सांकेतिक फोटो)

सुराग की तलाश में मौके पर डॉग स्क्वायड भी लाया गया. (सांकेतिक फोटो)

मध्य प्रदेश के सोहागपुर में तेंदुआ और जंगली सूअर की मौत के बाद वनविभाग हरकत में आ गया है. पोस्टमार्टम में मौत की पुष्टि नहीं होने के बाद बिसरा सुरक्षित रखकर जांच के लिए भेजा गया है.

    सोहागपुर. जंगली जानवरों के लिए सुरक्षित माने जाने वाले मध्य प्रदेश में तेंदुए (panther) और जंगली सूअर (wild boar) की लाश मिलने के बाद वनविभाग (Forest department) के अधिकारी जांच में जुटे हैं. अभी तक यह नहीं पता चल सका कि इनका शिकार किया गया है या यह दुर्घटना के शिकार बने हैं. रविवार को दोनों जानवरों के शवों का पोस्टमार्टम (postmartem) कराया गया है, लेकिन मौत का कारण पता नहीं चलने पर दोनों जानवरों का बिसरा (viscera) सुरक्षित रख लिया गया है.

    डॉग स्क्वायड को भी लाया गया मौके पर

    दरअसल, सोहागपुर शहर से दो किमी दूर स्थित नवलगांव गुंदरई के बीच एक खेत की फेंसिंग में तेंदुए और जंगली सूअर के शव मिलने से हड़कंप मच गया था. वनविभाग की टीम ने यहां पहुंचकर दोनों शवों को अपने कब्जे में लिया. रविवार को इनका पोस्टमार्टम कराया गया. डॉग स्क्वायड से भी मौके का निरीक्षण कराया गया है. डॉग स्क्वायड के साथ सामान्य वन परिक्षेत्र अधिकारी वंदना पाल और वन कर्मी कमलेश कहार मौजूद थे.

    प्रयोगशाला में भेजा जा रहा बिसरा

    तेंदुए और जंगली सूअर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट को लेकर वन अधिकारी किसी तरह की पुख्ता जानकारी नहीं दे सके हैं. अधिकारियों का कहना है कि दोनों वन्यप्राणियों की मौत को लेकर संशय बरकरार है. वन्यप्राणियों को करंट लगने व जहर देने के लक्षण नजर आ रहे हैं. मौत का सही कारण जानने के लिए तेंदुए का बिसरा जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा जा रहा है. वन अमला अब यह पता करने में जुटा हुआ है कि क्षेत्र में वन्यप्राणियों का शिकार किया है तो किसने किया है? वन्य प्राणियों की मौत की सूचना विभाग को क्षेत्र के ही एक किसान से मिली थी.

    किसानों के भी बयान दर्ज हो रहे

    वन अधिकारियों ने बताया कि डॉग से निरीक्षण इसलिए कराया गया कि क्षेत्र में हुई इस घटना का बारीकी से परीक्षण हो सके. साथ ही वन्य प्राणियों के शिकार आशंका भी स्पष्ट हो जाए. बताया जा रहा है कि घटनास्थल के निरीक्षण के दौरान एक गिलहरी भी मृत हालत में मिली है. एसडीओ रचना शर्मा ने के मुताबिक बिसरा रिपोर्ट जांच के बाद ही वन्य प्राणियों की मृत्यु का कारण स्पष्ट हो सकेगा. विभागीय स्तर पर इसकी पूरी पड़ताल की जा रही है. किसानों के भी बयान दर्ज किए जा रहे हैं.

    Tags: Dog squad, Forest department, Madhya pradesh news, Postmartem

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर