'मिशन 2018' में जुटी भाजपा को एंटी इनकंबेंसी का बड़ा खतरा!
Bhopal News in Hindi

'मिशन 2018' में जुटी भाजपा को एंटी इनकंबेंसी का बड़ा खतरा!
प्रदेश भाजपा के नेता.

मध्य प्रदेश में मिशन 2018 में जुटी भाजपा को एंटी इनकंबेंसी का बड़ा खतरा सता रहा है. पार्टी के आधे से ज्यादा मौजूदा विधायकों के खिलाफ उनके क्षेत्र में भारी असंतोष है. प्रदेश भाजपा मुख्यालय को मिली गोपनीय रिपोर्ट चौंकाने वाली है.

  • Share this:
मध्य प्रदेश में 'मिशन 2018' में जुटी भाजपा को एंटी इनकंबेंसी का बड़ा खतरा सता रहा है. पार्टी के आधे से ज्यादा मौजूदा विधायकों के खिलाफ उनके क्षेत्र में भारी असंतोष है. प्रदेश भाजपा मुख्यालय को मिली गोपनीय रिपोर्ट चौंकाने वाली है.

बताया जा रहा है कि विभिन्न स्तरों पर कराए गए सर्वे रिपोर्ट में 90 से ज्यादा विधायकों के व्यवहार और काम से लोगों में नाराजगी पायी गई है.

सर्वे रिपोर्ट से लगातार चौथी बार सरकार बनाने के मिशन पर काम कर रहा भाजपा का थिंक टैंक सतर्क हो गया है. अब से ठीक डेढ़ वर्ष बाद नवम्बर 2018 में विधानसभा चुनाव होना है.



भाजपा ने 'अब की बार 2 सौ पार' का नारा दिया
मिशन 2018 के लिए भाजपा ने 'अब की बार 2 सौ पार' का नारा दिया है. यानी कुल 230 विधानसभा सीटों में से 2 सौ से ज्यादा सीटों पर जीत का टारगेट.

इस नामुमकिन लक्ष्य को मुमकिन बनाने के लिए भाजपा संगठन बूथ स्तर पर जमावट कर रही है लेकिन इसी बीच प्रदेश भाजपा मुख्यालय को मिली गुप्त रिपोर्ट के बाद पार्टी का चुनावी थिंक टैंक सर्तक हो गया है.

पार्टी के अंदरखाने की माने तो नमामि नर्मदे सेवा यात्रा के दौरान भी संगठन विधायकों के कामकाज की फीडबैक ले रहा है.

बताया जा रहा है कि भाजपा में पर्दे के पीछे रहकर काम करने वाले संभागीय संगठन मंत्रियों से भी विधायकों की उनके क्षेत्र में सक्रियता,कार्यकर्ताओं से सम्पर्क और संवाद को लेकर जानकारी मांगी गई थी. पार्टी सूत्रों की माने तो नर्मदा सेवा यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री को भी कुछ विधायकों के बारे में जो फीडबैक मिला है वह संतोषजनक नहीं है.

प्रदेश भाजपा मुख्यालय को मिली जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री के खिलाफ आम लोगों में एंटी इन्कमबेंसी नहीं है लेकिन स्थानीय स्तर पर विधायकों के व्यवहार और क्षेत्र में कामकाज से लोगों में नाराजगी है.

उधर, विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी कांग्रेस ने भाजपा विधायकों के खिलाफ एंटी इन्कमबेंसी को लेकर सचेत है. प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता विभा पटेल ने कहा कि खराब परफारमेंस वाले विधायकों का टिकट काटने के लिए भाजपा अभी से सर्वे जैसी कवायद कर रही है.

भाजपा सूत्रों के मुताबिक ग्वालियर, चंबल और विंध्य संभाग के ज्यादातर विधायक हैं जिन के खिलाफ लोकल लेवल पर एंटी एंकंबेंसी है. यहां पर विधायकों का पार्टी जिलाध्यक्ष और मंडल अध्यक्षों से तालमेल भी ठीक नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading