COVID-19: इंदौर में 24 घंटे के भीतर एक परिवार के दो बच्चों की मौत, प्रशासन ने 19 को क्‍वारेंटाइन किया
Indore News in Hindi

COVID-19: इंदौर में 24 घंटे के भीतर एक परिवार के दो बच्चों की मौत, प्रशासन ने 19 को क्‍वारेंटाइन किया
जोधपुर शहर का नगौरी गेट इलाका हाई रिस्क जोन बना हुआ है.

इंदौर में 11 माह की बच्‍ची की मौत के 24 घंटे के भीतर उसके ढाई साल के भाई की भी तबीयत खराब होने से गई जान. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण की आशंका के मद्देनजर प्रशासन ने परिवार व आसपास के लोगों को क्वारेंटाइन किया.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
इंदौर. मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित इंदौर (Indore) शहर से करीब 30 किमी दूर स्थित राघवगढ़ गांव में रहस्‍यमय तरीके से दो बच्‍चों की मौत हो गई. दोनों बच्‍चों की मौत में 24 घंटे से भी कम का अंतराल था. जानकारी के मुताबिक दोनों बच्‍चों की पहले तबीयत बिगड़ी, फिर उल्‍टी (vomiting) हुई. जब तक दोनों को अस्‍पताल तक पहुंचाया जाता, इससे पहले ही उनकी मृत्‍यु हो गई. पुलिस के अनुसार, एक बच्‍चे की उम्र करीब ढाई साल थी, जबकि बच्‍ची की उम्र महज 11 माह थी. परिजनों ने बच्‍ची के शव को दफना दिया है, वहीं बच्‍चे को शव को पुलिस ने पोस्‍टमार्टम के लिए भेजा है. इधर, बच्चों की अचानक मौत के बाद प्रशासन सक्रिय हुआ और इस परिवार के 19 लोगों को कोरोना वायरस की आशंका के मद्देनजर क्वारेंटाइन (Quarentine) कर दिया गया.

जानकारी के अनुसार, रहस्‍यमय तरीके से मौत का यह मामला राघवगढ़ गांव में चौकीदारी का काम करने वाले इब्राहिम पठान के घर का है. इब्राहिम पठान के मझले बेटे शाहिद की दो संतानें थीं. पहला ढाई साल बेटा था, जबकि दूसरी संतान 11 माह की बेटी थी. मंगलवार सुबह शाहिद की बेटी की तबीयत अचानक बिगड़ गई और उल्टियां होने लगीं. शाहिद अपनी बच्‍ची को लेकर अस्‍पताल पहुंचता, इससे पहले उसने दम तोड़ दिया. जिसके बाद शाहिद के परिजनों ने स्‍थानीय कब्रिस्‍तान में बच्‍ची का शव दफना दिया.

बहन की मौत के 24 घंटे के भीतर भाई की भी गई जान
पुलिस के अनुसार, शाहिद की 11 माह की बच्‍ची की मौत को अभी 24 घंटे भी नहीं बीते थे कि उसके ढाई साल के बेटे की भी तबीयत बिगड़ने लगी और उल्टियां शुरू हो गई. शाहिद ने सुबह करीब पांच बजे एंबुलेंस के लिए कॉल किया. करीब डेढ़ घंटे बाद एंबुलेंस राघवगढ़ पहुंची. शाहिद का बेटे ने भी अस्‍पताल पहुंचने से पहले ही दम तोड़ दिया. इधर, मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस ने बच्‍चे के शव को अपने कब्‍जे में लेकर पोस्‍टमार्टम के लिए देवास भेज दिया है.



परिवार के सभी सदस्‍यों सहित 19 लोग किए गए क्‍वारेंटाइन


महज 24 घंटे के भीतर दो बच्‍चों की मौत से इलाके में हड़कंप मच गया. मामले की जानकारी मिलते ही डबलचौकी की मेडिकल ऑफिसर डॉ. शीला वर्मा अपनी टीम के साथ राघवगढ़ गांव पहुंची. जहां उन्‍होंने शाहिद के सभी परिजनों की स्‍क्रीनिंग की. चूंकि, बच्‍चों की मौत का सही कारण अभी तक सामने नहीं आया है और दोनों की मौत लगभग एक ही तरीके से हुई है, लिहाजा प्रशासन ने एहतियातन परिवार के 19 सदस्यों सहित आसपास के लोगों को भी क्वारेंटाइन कर दिया है.

यह भी पढ़ें: 
15 अप्रैल से शुरू हो सकता है ट्रेनों का परिचालन, 4 घंटे पहले पहुंचना होगा स्‍टेशन
लॉकडाउन: डाकिया अब चिट्ठी ही नहीं, फल-सब्‍जी और दवाएं भी पहुंचाएगा आपके घर
Lockdown: चेक पोस्‍ट पर 2 युवकों ने पुलिस कर्मियों पर थूका, आरोपियों को बचाने के लिए भीड़ ने किया पथराव
First published: April 9, 2020, 2:28 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading