Indore News: आर्मी कैंटीन के नाम पर नकली शराब बेचने वाले 3 तस्कर गिरफ्तार, बोतलों पर चिपकाते थे स्टिकर

इंदौर में अवैध शराब का धंधा करने वाले 3 तस्कर गिरफ्तार. (सांकेतिक तस्वीर)

इंदौर में अवैध शराब का धंधा करने वाले 3 तस्कर गिरफ्तार. (सांकेतिक तस्वीर)

इंदौर में शराब की बोतलों पर नकली स्टिकर चिपकाकर उसे आर्मी कैंटीन का माल बताकर बेचने वाले 3 शातिर तस्करों को पुलिस ने सेना की खुफिया विभाग की टीम के साथ दबोचा. तस्करों के कब्जे से अवैध शराब की 50 बोतलें भी बरामद.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 16, 2021, 7:45 AM IST
  • Share this:
इंदौर. आर्मी कैंटीन से निकली शराब का झांसा देकर बाजार में अवैध शराब का कारोबार करने वालों के खिलाफ पुलिस सख्त हो गई है. इस क्रम में इंदौर पुलिस ने 3 शातिर तस्करों को गिरफ्तार किया है, जो शराब की बोतलों पर नकली स्टिकर लगाकर उसे बाजार में बेच देते थे. ये शातिर तस्कर अवैध शराब को आर्मी कैंटीन का माल बताकर लोगों से पैसे ऐंठ लेते थे. बाजार में नकली शराब मिलने की लगातार आ रही शिकायतों के आधार पर आबकारी विभाग और आर्मी की इंटेलीजेंस विंग की टीम ने योजना बनाकर इन तस्करों को गिरफ्तार कर लिया है.

आर्मी इंटेलिजेंस विंग और आबकारी विभाग की संयुक्त कार्रवाई के दौरान तस्करों के पास से अवैध शराब से भरी 50 बोतलें भी जब्त की गई हैं. आबकारी विभाग के सहायक आयुक्त राजनारायण सोनी ने बताया कि ये आरोपी शराब की बोतलों पर नकली टैग लगाकर बेच देते थे. पिछले कुछ दिनों से बाजार में नकली स्टिकर लगी बोतलों की बिक्री की शिकायतें लगातार मिल रही थीं. विभाग ने मामले की जांच कराई तो पता चला कि ये तस्कर न सिर्फ नकली स्टिकरों का इस्तेमाल कर रहे हैं, बल्कि शराब भी नकली बेच रहे हैं.

इसके बाद आबकारी विभाग ने आर्मी की इंटेलीजेंस विंग से संपर्क किया और तस्करों को दबोचने की योजना बनाई. सहायक आयुक्त ने बताया कि आरोपी तस्कर नकली स्टिकर लगी शराब की बोतलों को आर्मी कैंटीन का उत्पाद बताकर बेचते थे. इसलिए दोनों विभागों की टीम ने संयुक्त कार्रवाई कर तीन तस्करों को अवैध शराब के साथ धर दबोचा. आरोपी प्रदीप पवार, अंकित वर्मा और हर्षवर्धन वर्मा के कब्जे से सीएसडी कैंटीन को दी जाने वाली संदिग्ध शराब भी जब्त की गई है. इन बोतलों पर नॉट फॉर सेल इन दिल्ली और सेल इन सीएसडी लिखा हुआ है. आरोपियों से पूछताछ की जा रही है, ताकि प्रदेश में शराब का अवैध कारोबार करने वालों की धरपकड़ी की जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज