लाइव टीवी

इंदौर में दौड़ने लगीं इलेक्ट्रिक बसें, स्वच्‍छता के बाद ग्रीन पब्लिक ट्रांसपोर्ट में भी बजा डंका

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 14, 2019, 12:19 PM IST
इंदौर में दौड़ने लगीं इलेक्ट्रिक बसें, स्वच्‍छता के बाद ग्रीन पब्लिक ट्रांसपोर्ट में भी बजा डंका
ये बसें पांच रूट पर चलेंगी.

देश के सबसे स्‍वच्‍छ शहर का तमगा रखने वाला इंदौर पब्लिक ट्रांसपोर्ट (Public Transport) में भी उत्कृष्ट मॉडल बन गया है. इंदौर (Indore) में नेशनल थर्मल पॉवर कॉर्पोरेशन (National Thermal Power Corporation) के सहयोग से एआईसीटीएसएल ने 40 इलेक्ट्रिक बसें (Electric Buses) शहर में उतार दी हैं.

  • Share this:
इंदौर. स्वच्छता के मामले में देशभर में लोहा मनवाने वाला इंदौर पब्लिक ट्रांसपोर्ट (Public Transport) में भी उत्कृष्ट मॉडल बन गया है. इंदौर (Indore) प्रदेश का पहला शहर बन गया है जहां इलेक्ट्रिक बसें (Electric Buses) दौड़ने लगी हैं. नेशनल थर्मल पॉवर कॉर्पोरेशन (National Thermal Power Corporation) के सहयोग से एआईसीटीएसएल ने ये 40 इलेक्ट्रिक बसें शहर में उतार दी हैं. बुधवार को इन बसों को नगरीय विकास मंत्री जयवर्धन सिंह (Jaivardhan Singh) ने खजराना गणेश मंदिर प्रांगण से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. अटल इंदौर सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेस लिमिटेड (AICTSL) ने आज गुरुवार से शहर के लोगों के लिए ये सुविधा शुरू कर दी. इन बसों को पांच रूटों पर चलाया जाएगा. नई इलेक्ट्रिक बसों के लिए सभी रूटों पर चार्जर प्‍वाइंट बनाए गए हैं. अच्‍छी बात ये है कि दो घंटे की चार्जिंग के बाद ये बसें 100 किलोमीटर का सफर तय करेंगी.

इन रूट पर चलेंगी बसें
ये इलेक्ट्रिक बसें रेलवे स्टेशन से एयरपोर्ट, मालवा मिल से चंदन नगर, गंगवाल बस स्टैंड से खजराना गणेश मंदिर, तीन इमली से चाणक्यपुरी और हवा बंगला से बाणेश्वर कुंड रूट पर चलाई जाएंगी. हर बस की कीमत 90 लाख रुपए है और अभी प्रयोग के तौर पर शहर में एक ही इलेक्ट्रिक बस तीन इमली चौराहे से चल रही है.

आधुनिक सुविधाओं लैस हैं ये बसें

देशभर में स्वच्छता के मामले में चौथी बार झंडे गाड़ने की तैयारी कर रहे इंदौर शहर को कुछ अलग करने के लिए और पर्यावरण प्रेम के लिए जाना जाता है. इस बार भी इंदौर नगर निगम ने पर्यावरण प्रेमी पहल के साथ सस्ते आवागमन की पहल शुरू की है. इंदौर नगर निगम का इस साल शहर में 100 इलेक्ट्रिक बस चलाने का प्लान है, क्योंकि यह बस सुरक्षा के लिहाज से बेहद सुरक्षित है. बस में कैमरे और एअर कंडीशनर लगा हुआ है. जबकि ये बसें चलने में बेहद स्मूथ हैं और यात्रियों के लिए बहुत ज्यादा कंफर्टेबल भी हैं. जबकि ये बस वर्तमान में चल रही बसों की तुलना में 10 गुना कम खर्च में दौड़ेगी. इसमें 40 यात्री एक बार में सफर कर सकेंगे. इस मौके पर इंदौर की मेयर मालिनी गौड़ और उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी भी मौजूद रहे.

ये भी पढ़ें-
सावधान! आप भी तो नहीं बन रहे Fake Matrimonial Websites का शिकार, ऐसे चलता है ठगी का धंधाडेढ़ साल पहले अस्‍पताल में कुश को लावारिस छोड़ गई थी मां, अब यूरोप के दम्‍पति ने लिया गोद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2019, 9:37 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर