लाइव टीवी

इंदौर में मेडिकल टीम पर हमला करने वाले 7 आरोपी गिरफ्तार, बाकी की तलाश
Indore News in Hindi

Vikas Singh Chauhan | News18 Madhya Pradesh
Updated: April 2, 2020, 3:09 PM IST
इंदौर में मेडिकल टीम पर हमला करने वाले 7 आरोपी गिरफ्तार, बाकी की तलाश
प्रशासन ने हालात की गंभीरता को देखते हुए जयपुर के रामगंज में बेमियादी कर्फ्यू लगा दिया गया है.

इंदौर में टाट पट्टी बाखल एरिया में बुधवार को मेडिकल की टीम पर हमले के मामले में पुलिस 50 लोगों की पहचान की कोशिश में जुटी है. इनमें से 6 लोगों की पहचान कर ली गयी है.

  • Share this:
इंदौर (INDORE) के टाटपट्टी बाखल इलाके में बुधवार को डॉक्टर्स (Doctors) की टीम पर पथराव (Stone throwing) करने वाले 7 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. इनमें मुख्य आरोपी भी शामिल है. आरोपियों की पहचान वीडियो फुटेज के ज़रिए की गयी है. बाकी फरार आरोपियों की तलाश में टीमें लगा दी गयी हैं.

इंदौर में टाट पट्टी बाखल एरिया में बुधवार को मेडिकल की टीम पर हमले के मामले में पुलिस 50 लोगों की पहचान की कोशिश में जुटी है. इनमें से 6 लोगों की पहचान कर ली गयी है. DIG हरि नारायण चारी मिश्रा ने बताया कि आरोपियों की वीडियो फ़ुटेज के माध्यम से पहचान की गयी. उनमें से मुख्य दोषी सहित 7 लोगों को गिरफ़्तार भी कर लिया गया है. इनके ख़िलाफ़ शासकीय कार्य में बाधा सहित इंडियन पैनल कोड की धारा 186 , 188 और 353 के तहत FIR दर्ज की गई है. मिश्रा ने बताया कि दस आरोपियों पर भी कार्रवाई की जा रही है.

वीडियो से पहचान



घटना के बाद से ही स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों के साथ समाज के हर वर्ग में खासा आक्रोश था. आरोपियों का हंगामा और पथराव करते हुए एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था.पुलिस ने उसमें आरोपियों की पहचान कर करीब एक सैकड़ा अज्ञात आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उनकी तेजी से तलाश शुरू की. गुरुवार सुबह सात आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया.पुलिस वीडियो फुटेज के आधार पर अन्य आरोपियों की पहचान कर रही है.



घटना के बाद से ही पुलिस और प्रशासन सख्त रुख अपनाये हुए था. पुलिस अधिकारियो ने प्राथमिक तौर पर महिला चिकित्स्क की फरियाद पर शाकीय कार्य में बाधा  उतपन्न करने की धारा 353 के तहत प्रकरण दर्ज किया था. लेकिन सूत्रों के मुताबिक़ आरोपियों के खिलाफ और भी कई गंभीर धाराएं  बढ़ाई जा सकती है.जानकारी के मुताबिक़ इलाके के कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर एक भ्रामक संदेश भी वायरल किया था, जिसमे लिखा था कि स्वास्थ्य विभाग की टीम सभी लोगों को ले जाएगी.इसी वजह से इलाके के लोग भड़क गए और हमला कर दिया. पुलिस ने भ्रामक मैसेज भेजने वाले शख्स के खिलाफ प्रकरण दर्ज करते हुए एक अन्य आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है.

सोशल मीडिया पर नज़र
DIG मिश्रा ने बताया कि इंदौर में पर्याप्त पुलिस बल उपलब्ध है. सोशल मीडिया में भ्रामक प्रचार करने वालों पर भी पुलिस के साइबर सेल की नज़र है. बुधवार को आज़ाद नगर क्षेत्र में एक वॉट्सऐप ग्रुप एडमिन पर अफ़वाह फैलाने का मामला दर्ज किया गया है.

बुधवार को हुआ था हमला
इंदौर में कोरोना के संदिग्ध मरीज़ की स्क्रीनिंग करने पहुंची टीम पर बुधवार को इलाके के लोगों ने पथराव कर दिया था. क्षत्रिपुरा थाना इलाके के टाट पट्टी बाखल इलाके में ये टीम जांच के लिए गयी थी. टीम के पहुंचते ही लोगों ने उस पर पथराव और विरोध शुरू कर दिया. पूरे इलाके में उस दौरान जमकर हंगामा हुआ. तनाव को देखते हुए बड़ी तादाद में पुलिस बल तैनात किया गया था.

एक मरीज़ की मौत हुई थी
टाट पट्टी बाखल वो इलाका है जहां हाल ही में एक शख्स की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई थी.उस मरीज़ के संपर्क में जो लोग भी आए स्वास्थ्य विभाग की टीम उनकी स्क्रीनिंग के लिए गयी थी.लेकिन सहयोग करने के बजाए  लोग विरोध करने पर आमादा हो गए. धीरे धीरे शुरू हुआ विरोध तेज़ होता गया और बात पथराव तक जा पहुंची.कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए इस इलाके को कैंटोमेंट घोषित किया गया था. सुरक्षा के लिहाज से बेरिकेडिंग की गई थी.लेकिन गुस्साई भीड़ ने बेरिकेड भी तोड़ दिए थे.

रानीपुरा में हुई थी अभद्रता
इससे पहले बीते दिनों रानीपुरा में भी स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों के साथ इलाके के लोगों ने अभद्रता की थी. उक्त मामले में पुलिस आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर चुकी है. हालांकि अभद्रता करने वाले आरोपियों की अभी गिरफ्तारी नहीं हो पायी है. पुलिस उनकी तलाश कर रही है.

ये भी पढ़ें-

COVID-19 Update: इंदौर में दो और मरीज़ों की मौत, MP में आंकड़ा 8 तक पहुंचा

लॉक डाउन ने MP के दो डिप्टी कलेक्टर्स की शादी पर फिलहाल लगाया लॉक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 2, 2020, 2:29 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading