Indore News: 70 करोड़ के ड्रग्स मामले में एक और गिरफ्तार, अब तक दो दर्जन से ज्यादा हिरासत में

70 करोड़ के ड्रग्स कांड में एक और गिरफ्तारी हुई है. (सांकेतिक तस्वीर)

70 करोड़ के ड्रग्स कांड में एक और गिरफ्तारी हुई है. (सांकेतिक तस्वीर)

क्राइम ब्रांच की टीम की पूछताछ में सातवीं कक्षा तक पढ़े आरोपी रिजवान ने ड्रग्स के आदी होने की बात मानी. उसकी निशानदेही पर पुलिस ने अकरम खान को एनडीपीएस एक्ट के तहत गिरफ्तार किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 6, 2021, 7:44 AM IST
  • Share this:
इंदौर. 70 करोड़ के MD ड्रग्स मामले में क्राईम ब्रांच ने एक और आरोपी को हिरासत में लिया है. पुलिस टीम द्वारा महाराष्ट्र, राजस्थान और गुजरात और मध्य प्रदेश के कई शहरों से अभी तक ड्रग्स की तस्करी से जुड़े तकरीबन दो दर्जन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने बताया कि पहले से गिरफ्तार आरोपी पूछताछ में साथियों के नाम बताते जा रहे हैं. इसी कड़ी में आरोपी रिजवान, तबरेज उर्फ गबरू और सोनू खान से तंजीम नगर, खजराना में रहने वाले अकरम पिता असलम खान पठान उम्र 35 वर्ष का पता चला. क्राइम ब्रांच की टीम ने आरोपी अकरम को घेर कर गिरफ्तार किया.

आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह ठेकेदारी करता है और 7 वीं तक पढ़ा है. आरोपी खुद नशा करने का आदी है. वह रिजवान से ड्रग्स खरीदता था तथा सोनू खान और तबरेज के सम्पर्क में आकर आरोपी ड्रग्स की खरीदी-बिक्री करने लगा था. पुलिस ने बताया कि अकरम पर पहले भी बलवा का मामला दर्ज हो चुका है. पुलिस ने अब अकरम को एनडीपीएस एक्ट के तहत गिरफ्तार किया है.

यह है मामला



क्राइम ब्रांच ने 5 जनवरी को 5 आरोपियों से 70 करोड़ रुपए की 70 किलो MDMA ड्रग्स बरामद की थी. इनके पास से 13 लाख रुपए नकद भी बरामद हुए थे. आरोपी तेलंगाना और मप्र के रहने वाले हैं. आरोपी ड्रग्स की खेप देने और टोकन मनी लेने के लिए एकत्रित हुए थे. आरोपियों की माने तो वे ट्रेन, प्लेन, बस, ट्रक ट्रांसपोर्ट और निजी कार हर प्रकार से ड्रग्स लाते थे. ये इतने शातिर हैं कि ट्रांसपोर्ट से ड्रग्स भेजते समय वे पैकेट में मुर्गी दाना पाउडर या बीमारियों के वैक्सीन का पाउडर बताते थे. इस मामले में अब तक 15 आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं.

मुंबई बमकांड का आरोपी भी शामिल



एमडी ड्रग्स मामले में 5 दिन पूर्व में मुंबई से दो आरोपी अय्यूब इब्राहिम कुरैशी और वसीम खान को मुंबई से पकड़ा था. इनमें एक 1993 के मुंबई ब्लास्ट में सजा काट चुका है, जबकि दूसरा टी सीरीज के मालिक गुलशन कुमार हत्याकांड में शामिल अबू सलेम गैंग का सदस्य रहा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज