Home /News /madhya-pradesh /

9th class student aniket verma hanged himself police found no suicide note from room shocking crime mpns

9वीं के छात्र ने की आत्महत्या, पुलिस को नहीं मिली वजह; क्या ऑनलाइन गेम-पढ़ाई से था तनाव में

Indore News: इंदौर में 9वीं क्लास के छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. पुलिस को लाश के पास सुसाइड नोट नहीं मिला.

Indore News: इंदौर में 9वीं क्लास के छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. पुलिस को लाश के पास सुसाइड नोट नहीं मिला.

MP Crime News: इंदौर के परदेशीपुरा थाना इलाके में शुक्रवार सुबह हड़कंप मच गया. यहां के देवास रोड पर रहने वाले 9वीं के छात्र 16 साल के अनिकेत वर्मा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. इसकी सूचना मिलते ही छात्र के घर के आसपास बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए. दूसरी ओर, पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. पुलिस ने मौके से लाश जब्त कर छानबीन की. लाश के पास कहीं कोई सुसाइड नोट नहीं मिला. घरवालों ने पुलिस को बताया कि वह पढ़ाई की वजह से तनाव में था. दूसरी ओर उसे ऑनलाइन गेम का भी शौक था. ये दोनों वजह आत्महत्या की वजह हो सकती हैं.

अधिक पढ़ें ...

इंदौर. इंदौर के परदेशीपुरा थाना इलाके में रहने वाले 16 साल के अनिकेत वर्मा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. आत्महत्या का कारण अभी तक स्पष्ट नहीं है. परिजनों ने आत्महत्या की अलग-अलग आशंका जाहिर की है. परिजनों का कहना है कि 9वीं कक्षा में नंबर कम आने की वजह से वह तनाव में था. इसके साथ ही वह ऑनलाइन गेम खेलने का भी आदी था. आशंका है कि ऑनलाइन गेम खेलने की वजह से उसके ऊपर कर्जा हो गया हो और उसने आत्महत्या कर ली हो. पुलिस को मौके से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है. पुलिस ने मोबाइल जब्त कर छानबीन शुरू कर दी है. पुलिस का कहना है कि परिजनों के बयानों के बाद और अन्य तकनीकी छानबीन के आधार पर ही आत्महत्या के ठोस कारणों की जानकारी मिल सकेगी.

जानकारी के मुताबिक, अनिकेत वर्मा परदेशीपुरा इलाके के देवास रोड पर रहता था. आम दिन की तरह ही गुरूवार रात वह अपने घर पर था, लेकिन शुक्रवार सुबह उसका शव उसके कमरे में लटका हुआ मिला. शव देखते ही परिवारवालों के होश उड़ गए. पूरे इलाके में सनसनी फैल गई. अनिकेत पढ़ाई में होनहार नहीं था और उसके परिवार की आर्थिक स्थिति भी ठीक नहीं थी. उसके पिता सब्जी बेचते हैं. परिवार में दो छोटी बहनें हैं. गुरुवार रात को अंकित ने पिता लखन को अपने हाथों से खाना लाकर दिया था. परिवार के सदस्य एक साथ ही खाना खाते थे. गुरुवार रात भी यही हुआ. वह परिवार के लोगों से काफी देर तक बात करता रहा. उसके बाद वह पीछे कमरे में जाकर सो गया.

ये हो सकती है वजह
परदेशीपुरा थाना प्रभारी पंकज द्विवेदी ने बताया कि अंकित को नौंवी कक्षा में कम नंबर मिले थे. वह दसवीं की पढ़ाई में दिलचस्पी नहीं ले रहा था.  संभवत: इसी कारण से उसने यह कदम उठा लिया हो.  पुलिस को प्रारंभिंक जांच में ऑनलाइल गेम खेलने की लत होने की जानकारी भी मिली है. आत्महत्या की जानकारी मिलते ही पुलिस और फोरेंसिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और पड़ताल शुरू की. पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए एमवाय अस्पताल भेज दिया. यहां परिजनों की मौजूदगी में पोस्टमॉर्टम हुआ. उसके बाद शव उन्हें सौंप दिया गया.

मोबाइल उगल सकता है राज
पुलिस ने मौके का बारीकी से परीक्षण किया. पुलिस को वहां से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. न ही मोबाइल में इस तरह के कोई तथ्य प्राप्त हुए हैं. पुलिस ने आत्महत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए मोबाइल को भी जांच में शामिल किया है. उसे आशा है कि आत्महत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए मोबाइल ही राज उगलेगा. पुलिस प्राथमिक जांच के बाद इसे आत्महत्या ही मान रही है. वह इसके पीछे किसी अन्य प्रकार की अनहोनी से इंकार कर रही है.

Tags: Indore news, Mp news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर