लाइव टीवी

मंत्री बृजेन्द्र सिंह राठौर ने कहा- आबकारी अधिकारी आलोक खरे पर कार्रवाई जल्द

Vikas Singh Chauhan | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 19, 2019, 6:00 PM IST
मंत्री बृजेन्द्र सिंह राठौर ने कहा- आबकारी अधिकारी आलोक खरे पर कार्रवाई जल्द
मंत्री ब्रजेंद्र सिंह राठौर ने कहा- ऐसे अफसरों से पूरे प्रदेश की छवि खराब होती है

लोकायुक्त (Lokayukta) कार्रवाई की जद में आये आबकारी अधिकारी आलोक खरे भले ही अब तक कार्यवाही से बचते रहे हों, लेकिन अब जल्द उन पर विभागीय कार्यवाही (departmental action) हो सकती है. मंत्री बृजेन्द्र सिंह राठौर (brajendra singh rathore) ने आज खुद ये बात कही

  • Share this:
इंदौर. आबकारी अधिकारी आलोक खरे (Excise Officer Alok khare) के निजी निवास, किराए के घर, शासकीय निवास समेत उनके दफ्तर पर बीते दिनों लोकायुक्त ने छापामार कार्यवाही (Raid) को अंजाम दिया था. लोकायुक्त को प्राथमिक जांच में खरे के पास से 100 करोड़ से अधिक सम्पत्ति का लेखा जोखा मिलने की सूचना मिली थी. आशंका है कि खरे ने यह सम्पत्ति भ्रष्ट आचरण (Corruption) से अर्जित की थी, लोकायुक्त (Lokayukta) ने विभाग को भी खरे के निलंबन के लिए पत्र लिखा था, हालंकि इसके बाद भी अब तक इसमें कोई कार्यवाही नहीं की गई है. लेकिन मंत्री ब्रजेंद्र सिंह राठौर ने इस बात के संकेत दिए हैं कि जल्द ही खरे के खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है.

'आलोक खरे के खिलाफ कार्रवाई जल्द'
लोकायुक्त ने आबकारी विभाग के सहायक आयुक्त अलोक खरे के राजस्व संबंधी दस्तावेज जब्त कर कार्यवाही आगे बढ़ा दी है. इसके साथ ही मामला गर्माता देख मंत्री ब्रजेंद्र सिंह राठौर ने भी जल्द कार्यवाही की बात कही है. मंत्री बृजेन्द्र सिंह ने कहा कि, 'किसी भी विभाग का कोई भी अधिकारी हो आम जनता की गाड़ी कमाई का कोई दुरूपयोग करता है तो छवि पूरे विभाग, पूरे शहर और पूरे प्रदेश की खराब होती है. ताजा मामले में विभाग ने पूरी जानकारी जुटा ली है. जल्द ही रिपोर्ट मिलते ही अधिकारी के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी.'

'प्रदेश में आर्थिक तंगी नहीं'

मीडिया से बात करते हुए मंत्री बृजेन्द्र सिंह ने कहा मध्य प्रदेश आर्थिक तंगी से बचा हुआ है. देश में भले ही आर्थिक तंगी हो, लेकिन मध्य प्रदेश अभी इससे अछूता है. उन्होंने कहा कि आने वाले समय में मेग्निफिसेंट एमपी के चलते और भी बेहतर परिणाम देखने को मिलेंगे. वही प्रदेश में बड़े कर को लेकर कहा कि मध्य प्रदेश के अलावा और भी कई राज्यों से यहां से अधिक कर है. पुरानी सरकार का कर्जा चुकाना है, इस वर्ष वर्षा अधिक है, उसमे खासा नुकसान हुआ है. अब तक केंद्र से भी राशि नहीं मिल सकी है. हालांकि कोशिश की जा रही है कि जल्द ही प्रदेश में करों में कमी करें ताकि लोगों को राहत मिल सके.

ये भी पढ़ें -
झाबुआ उपचुनाव: प्रचार का आखिरी दिन, मंत्री जीतू पटवारी ने बनाई जलेबियां
Loading...

इंदौर में लगे वीर सावरकर पर पोस्टर, ये कथित दस्तावेज़ भी छापा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 19, 2019, 5:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...