मां की मौत का सदमा: भाई और पत्नी को फोन पर कहा- मैं फांसी लगा रहा हूं, और झूल गया फंदे पर

मां की मौत के बाद तनाव में बेटे ने फांसी लगा ली. (सांकेतिक तस्वीर)

मां की मौत के बाद तनाव में बेटे ने फांसी लगा ली. (सांकेतिक तस्वीर)

मां की मौत का सदमा: अवि की मां की मौत कोरोना से हो गई थी. उसे भी वायरस ने बीमार कर दिया था. मां की मौत के बाद वो सदमे में चला गया था. उसे तनाव होने लगा था. अचानक उसने फांसी लगा ली.

  • Share this:

इंदौर. मध्य प्रदेश के इंदौर में कोरोना से मां की मौत ने युवक को इतने सदमे में ला दिया कि उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. ये जानलेवा कदम उठाने से पहले उसने बाकायदा मौसेरे भाई और पत्नी को फोन लगाकर जानकारी दी. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

जानकारी के मुताबिक, तिलक नगर पुलिस को सूचना मिली कि वंदना नगर में 26 साल के अवि ने आत्महत्या कर ली है. जांच में पता चला कि अवि की मां की अप्रैल में कोरोना से मौत हो गई थी. वह भी संक्रमित था, लेकिन ठीक हो गया था. मां के जाने के बाद से वो तनाव में था. इस बीच उसकी पत्नी भी मायके धार चली गई.

भाई और पत्नी से कही थी ये बात

पुलिस ने बताया कि शुक्रवार सुबह अवि ने पहले अपने मौसेरे भाई रोमिल निवासी राजेंद्र नगर को फोन लगाया. उसने कहा- मैं मां की मौत से सदमे में आ चुका हूं. फांसी लगा रहा हूं. यही बात उसने अपनी पत्नी को भी फोन पर कही. इस बीच पत्नी ने घबराकर रोमिल को फोन लगाया और पूरी बात बताई. थोड़ी देर बाद अवि का फोन रिसीव होना बंद हो गया. रोमिल उसके घर पहुंचा और पुलिस को सूचना दी. अंदर से दरवाजा बंद था. जब दरवाजा तोड़ा तो वह फंदे पर लटक रहा था.
अचानक हो रही मौतों से फैल रहा तनाव

गौरतलब है कि कोरोना के बाद से कई परिवार एक साथ अचानक खत्म हो गए हैं. इससे समाज में तनाव बढ़ गया है. अपनों को खोता देख लोग खुद पर काबू नहीं कर पा रहे. डॉक्टर्स के मुताबिक अभी तो कोरोना संक्रमण की  तीसरी लहर भी आने की आशंका है. इस बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना की कोर ग्रुप की बैठक में कोरोना की तीसरी लहर की चुनौतियों से निपटने और प्रदेश में तैयारियों के लिए दिए अधिकारियों को निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर की तैयारी के लिए एक विशेषज्ञों की समिति बनाई जाए, जो यह अध्ययन करेगी कि प्रदेश में इसकी क्या संभावना है तथा इसके लिए क्या-क्या तैयारियां एवं व्यवस्थाएं की जानी चाहिएं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज