Home /News /madhya-pradesh /

आकाश विजयवर्गीय का है विवादों से पुराना नाता, राहुल गांधी के लिए भी कही थी यह बात

आकाश विजयवर्गीय का है विवादों से पुराना नाता, राहुल गांधी के लिए भी कही थी यह बात

आकाश विजयवर्गीय पहली बार विधायक चुन कर आए हैं(फोटो साभार- आकाश के ट्वीटर हैंडल)

आकाश विजयवर्गीय पहली बार विधायक चुन कर आए हैं(फोटो साभार- आकाश के ट्वीटर हैंडल)

आकाश विजयवर्गीय पहले भी विवादों में रहे हैं. आकाश ने बीते लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को ‘गधों का सरताज’ कहा था.

    बीजेपी के सीनियर नेता और पश्चिम बंगाल में बीते लोकसभा चुनाव में कमल खिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने वाले कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय एक बार फिर से चर्चा में हैं. आकाश विजयवर्गीय ने बुधवार को इंदौर नगर निगम के एक अधिकारी को क्रिकेट बैट से सरेआम पीट दिया. निगम निगम के अधिकारी का बुरी तरह से पीटने का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. मामले में आकाश विजयवर्गीय की गिरफ्तारी हो गई है.

    इंदौर नगर निगम के पीड़ित अधिकारी का कहना है कि वह अपने काम पर थे, तभी आकाश उससे उलझ गए और क्रिकेट के बैट से पीटने लगे. नगर निगम के कर्मचारी अतिक्रमण हटाने के काम में लगे थे तभी आकाश से उनकी झड़प हो गई. इसके बाद ही आकाश ने आपा खो दिया और क्रिकेट बैट से पीटने लगे.

    आकाश विजयवर्गीय को कैलाश विजयवर्गीय का उत्तराधिकारी कहा जाता है.(फोटो साभार- आकाश के ट्वीटर हैंडल से)


    बता दें कि आकाश विजयवर्गीय 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में राजनीति में आए हैं. बीते विधानसभा चुनाव में आकाश विजयवर्गीय ने पहली बार इंदौर-3 विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा और जीत हासिल की थी. उन्होंने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और तीन बार के विधायक अश्विन जोशी को 75 हजार वोटों के अंतर से हराया था. उन्होंने पहली बार विधायक का चुनाव लड़ा और जीत हासिल की.

    आकाश विजयवर्गीय पहले भी विवादों में रहे हैं. आकाश ने बीते लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को ‘गधों का सरताज’ कहा था. आकाश ने यह बात कांग्रेस पार्टी द्वारा एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाने और ओसामा को सम्मान देने जैसे मुद्दे को लेकर भारतीय युवा मोर्चा के विरोध प्रदर्शन में कहीं थी. इस विरोध प्रदर्शन के दौरान आकाश ने एक पुतला बनाया, जिस पर गधे का चेहरा लगाया और फिर राहुल गांधी को लेकर यह बयान दिया. आकाश अपने ट्वीटर हैंडल से भी ट्वीट करते हुए कांग्रेस पर सवाल खड़े किए थे.



    देश के एक बड़े बीजेपी नेता का बेटा होने के नाते आकाश विजयवर्गीय की काफी आलोचना हो रही है. आकाश का इस तरह का व्यवहार देख कर लोग सोशल साइट्स पर भी ट्रोल कर रहे हैं. सोशल साइट्स पर चर्चा हो रही है कि क्या एक कद्दावर नेता होने का फायदा आकाश उठा रहे हैं?

    उधर इंदौर की इस घटना के बाद से ही मध्यप्रदेश की राजनीति गर्म हो गई है. राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी ने इस घटना को लेकर बीजेपी पर हमला बोल दिया है. मध्यप्रदेश कांग्रेस ने अपने ट्वीटर हैंडल से ट्वीट करते हुए कहा, 'जिन्हें बीजेपी के चाल, चरित्र और चेहरे के अच्छे होने का थोड़ा भी भ्रम हो वो इस वीडियो को देखकर अपनी आंखें खोल सकते हैं. संस्कारों की अर्थी निकल रही है.'

    इस घटना के बाद आकाश विजयवर्गीय के खिलाफ नगर निगम के कर्मचारी थाना पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई है. वहीं आकाश विजयवर्गीय ने इस घटना पर कहा कि वह कर्मचारियों पर लगातार बल्ला चलाते रहेंगे. पुलिस ने मामले में आकाश को एफआईआर दर्ज करने के फौरन बाद गिरफ्तार कर लिया है.

    देश में कैसे मिल सकती है सस्ती दवाएं, क्या है जानकारों की राय

    ब्राडेंड दवाइयों का विकल्प जेनरिक दवाइयां क्यों नहीं बन पा रही है?

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp

    Tags: BJP, Congress, Kailash vijayvargiya, Kamalnath, Madhya Pradesh Assembly, Madhya Pradesh Lok Sabha Elections 2019, Madhya pradesh news, Madhyapradesh news, Rahul gandhi

    अगली ख़बर