मैं बहुत गुस्से में था मुझे याद नहीं मैंने क्या-क्या किया: आकाश विजयवर्गीय

थाने में पहुंचे आकाश विजयवर्गीय ने अपने शिकायत में बताया कि नगर निगम के अधिकारी लोगों को ज़मीन पर घसीट रहे थे. इसलिए मुझसे ये देखा नहीं गया.

News18 Madhya Pradesh
Updated: June 26, 2019, 4:19 PM IST
News18 Madhya Pradesh
Updated: June 26, 2019, 4:19 PM IST
आकाश विजयवर्गीय का कहना है कि नगर निगम के कर्मचारियों ने अति कर दी है. कांग्रेस के लोग जर्जर मकानों को खरीद रहे हैं और उसमें कई सालों से रह रहे गरीबों को निकालने का काम कर रहे हैं. आकाश ने आरोप लगाया कि सज्जन सिंह के गुंडे आए और मकान खाली करने लगे. जिसके बाद मैंने अपने कार्यकर्ताओं को मौके पर भेजा और फोटो खींचकर भेजने के लिए कहा. साथ ही मैंने कमिश्नर को भी स्थिति से अवगत कराया, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई.

थाने में दर्ज कराई शिकायत-

थाने में पहुंचे आकाश विजयवर्गीय ने अपने शिकायत में बताया कि नगर निगम के अधिकारी लोगों को ज़मीन पर घसीट रहे थे. इसलिए मुझसे ये देखा नहीं गया. वहीं, आकाश ने कहा कि जब माताओं-बहनों पर बात आती है तो हमलोग देख नहीं पाता. नगर निगम वालों की गुंडागर्दी करने की आदत हो गयी है, लेकिन इन्हें हमें ठीक करना आता है.

क्या है मामला-

बता दें कि बीजेपी के दिग्गज नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे और इंदौर से बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय विवादों में घिर गए हैं. आकाश ने एक जर्जर मकान को तोड़ने आई नगर निगम की टीम के अधिकारियों-कर्मचारियों से क्रिकेट बैट से मारपीट की है. आकाश का आरोप है कि मंत्री सज्जन वर्मा के इशारे पर तोड़-फोड़ की कार्रवाई की जा रही थी.

ये भी पढ़ें- BJP विधायक आकाश विजयवर्गीय ने नगर निगम कर्मचारियों को बैट से पीटाये भी पढ़ें-

ये भी पढ़ें- गार्ड की आंखों में मिर्ची झोंककर सुधार गृह से भागे तीन किशोर
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...