होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /अंडर-19 वर्ल्ड कप में विपक्षी बल्लेबाजों के छक्के छुड़ाएगा राहुल द्रविड़ का 'एकलव्‍य'

अंडर-19 वर्ल्ड कप में विपक्षी बल्लेबाजों के छक्के छुड़ाएगा राहुल द्रविड़ का 'एकलव्‍य'

बांग्लदेश में अंडर 19 वर्ल्ड कप का आगाज हो गया है. भारत का पहला मुकाबला गुरुवार को आायरलैंड के खिलाफ है. इस मुकाबले में सबकी निगाहें मध्यप्रदेश की शान आवेश खान पर होगी.

बांग्लदेश में अंडर 19 वर्ल्ड कप का आगाज हो गया है. भारत का पहला मुकाबला गुरुवार को आायरलैंड के खिलाफ है. इस मुकाबले में सबकी निगाहें मध्यप्रदेश की शान आवेश खान पर होगी.

बांग्लदेश में अंडर 19 वर्ल्ड कप का आगाज हो गया है. भारत का पहला मुकाबला गुरुवार को आायरलैंड के खिलाफ है. इस मुकाबले में ...अधिक पढ़ें

  • News18
  • Last Updated :

    बांग्लदेश में अंडर 19 वर्ल्ड कप का आगाज हो गया है. भारत का पहला मुकाबला गुरुवार को आायरलैंड के खिलाफ है. इस मुकाबले में सबकी निगाहें मध्यप्रदेश की शान आवेश खान पर होगी.

    इंदौर के इस तेज गेंदबाज के राहुल द्रविड़ सहित क्रिकेट जगत की कई हस्तियां फैन है. स्टार ऑफ एमपी सीरीज में जानिए राहुल के 'एकलव्य' कहे जाने वाले आवेश खान के बारे में.

    पिछला साल रहा लकी

    आवेश के लिए पिछला साल काफी लकी साबित हुआ है. त्रिकोणीय सीरीज के लिए टीम इंडिया में चुने जाने के बाद उन्हें जूनियर वर्ग में मध्यप्रदेश के सर्वोच्च खेल सम्मान 'एकलव्य' अवार्ड से नवाजा गया. साथ ही साल के अंत में उन्हें वर्ल्ड कप के लिए चुने जाने की सौगात मिली.

    राहुल द्रविड़ से सीखा कभी न हार मानना

    टीम इंडिया के लिए नयी गेंद से विपक्षी बल्लेबाजों पर हल्ला बोलने वाला ये बल्लेबाज अपनी सफलता का श्रेय पूरे परिवार के साथ ही अपने कोच अमय खुरासिया और अंडर 19 टीम के कोच राहुल द्रविड़ को देते हैं.

    आवेश के मुताबिक, अमय ने उनकी प्रतिभा को तराशा तो राहुल द्रविड़ जैसे अनुभवी क्रिकेटर ने उन्हें इंटरनेशनल क्रिकेट के मुताबिक ढालने में बहुत मदद की. आवेश ने बताया कि द्रविड़ से उन्हें सीखने का मौका मिला कि कैसे विपरीत हालात में संयमित होकर अपना अच्छा प्रदर्शन किया जाता है. साथ ही कभी न हार मानने का गुण भी उन्हें राहुल से ही सीखने को मिला.

    पूर्व क्रिकेटर अमय खुरासिया की एकेडमी में क्रिकेट के गुर सीख रहे आवेश बताते है कि द्रविड़ जैसे अनुभवी क्रिकेटर के मार्गदर्शन से अच्छा प्रदर्शन करने में बहुत मदद मिलती हैं.

    सीनियर टीम में जाने की चाहत

    हर क्रिकेटर की तरह आवेश का सपना भी सीनियर क्रिकेट टीम में खेलना है. हालांकि, उनकी पहली प्राथमिकता वर्ल्ड कप में अच्छा प्रदर्शन करना है, जिससे आईपीएल के दरवाजें उनके लिए खुल सकें.

    अंडर 19 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का हिस्सा बने आवेश खान इंदौर के श्रीनगर इलाके में रहते हैं. स्थानीय टूर्नामेंट में क्रिकेट खेलने वाले पिता से प्रभावित होकर आवेश ने भी क्रिकेट को अपना शौक बना लिया था.

    Tags: Avesh khan, Rahul Dravid, Under 19 World Cup

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें