Home /News /madhya-pradesh /

मैं भी भय्यू महाराज की तरह आत्महत्या कर लूंगा: सेवादार विनायक

मैं भी भय्यू महाराज की तरह आत्महत्या कर लूंगा: सेवादार विनायक

भय्यू महाराज (फाइल फोटो)

भय्यू महाराज (फाइल फोटो)

विनायक ने न्यूज 18 को बताया कि वह फरार नहीं था, बल्कि अपने परिवार की देखभाल के लिए गांव गया हुआ था. उसने बताया कि अगर ऐसा ही हाल रहा तो वह भी भय्यू जी महाराज की तहर आत्महत्या कर लगा.

    इंदौर के आध्यात्मिक संत भय्यू महाराज आत्महत्या मामले में वांटेड उनका सेवादार विनायक पकड़ा गया. अब इस केस में उलझे तमाम सवालों के जवाब मिलने की उम्मीद है. पुलिस ने सेवादार विनायक से बंद कमरे में कई घंटों तक पूछताछ की. विनायक ने न्यूज 18 को बताया कि वह फरार नहीं था, बल्कि अपने परिवार की देखभाल के लिए गांव गया हुआ था. उसने बताया कि अगर ऐसा ही हाल रहा तो वह भी भय्यू जी महाराज की तहर आत्महत्या कर लगा. सेवादार ने बताया कि उसे लगातार धमकिया मिल रही है, जिससे वह डरकर शहर छोड़कर धर चला गया था.

    भय्यू जी महाराजा आत्महत्या मामले में अनसुलझी गुत्थी का खास सुत्रधार माना जा रहा महाराज का सेवादार विनायक शुक्रवार की रात गिरफ्तार किया गया. विनायक की पुलिस को लंबे समय से तलाश थी. विनायक ने न्यूज 18 से बात करते हुए कहा कि वह महाराज का खास और ईमानदार सेवक था, वह किसी भी तरह की जांच के लिए तैयार है. उसने नार्को, सीबीआई जांच की मांग की और कहा कि वह सभी जांचों में सहयोग करेगा. विनायक ने बताया कि भय्यू जी की मौत के बाद उसे लंबे समय से जान से मारने की धमकी मिल रही थी, जिससे डरकर वह घर चला गया था. उसने बताया कि उसकी मां और बेटे की तबियत खराब थी. मामले में जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने बताया कि विनायक से अभी प्रारंभिक पूछताछ की जा रही है और सभी सेवादारों के अलग से बयान लिए जाएंगे.

    आपको बता दें कि जून माह में अपने घर पर खुद को गोली मारकर आत्महत्या करने वाले राष्ट्रीय संत भय्यु महाराज की आत्महत्या की जांच जारी थी कि उनके करीब वकील को कुछ लोगों ने धमकी दी और फिरौती की मांग कर डाली. इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया था, जिसमें महाराज के आश्रम की गाड़ी चलाने वाला एक ड्राइवर भी शामिल था. ड्राइवर द्वारा किए गए खुलासे के अनुसार विनायक आश्रम की मोटी रकम लेकर भाग गया था. साथ ही विनायक पर आरोप लगाया था कि महाराज को कोई युवती ब्लैकमेल कर रही थी उसे विनायक ने ही महाराज से मिलवाया था. इन आरोपों के बाद पुलिस ने विनायक की तलाश तेज कर दी थी.

    मामले में जांच अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार की रात विनायक ने थाने में पहुंचकर अचानक खलबली मचा दी. अभी तक पुलिस इस मामले में जांच की दिशा तय नहीं कर पाई है. उन्होंने बताया कि विनायक से पूछताछ में पता चला है कि भय्यू महाराज के निजी बैंक खातों सहित ट्रस्ट के कुछ खातों में विनायक का मोबाइल नंबर ही दर्ज था. पुलिस ने बताया कि विनायक के बयानों के आधार पर पुलिस जांच में जुट गई है. अब सभी सेवादारों को बुलाकर उनके बयान लिए जाएंगे. पुलिस ने विनायक का मोबाइल जब्त कर लिया है और पुरानी कॉल डिटेल खंगाली जा रही है.

    सेवादार विनायक ने बताया कि भय्यू महाराज की मौत के बाद वह पूरी तरह से टूट गया था. महाराज के जाने के बाद वह अपने बच्चों का खर्च भी नहीं उठा पा रहा था, इसीलिए वह घर चला गया था. उसने बताया कि वह फरार नहीं था और ना ही आश्रम के पैसे लेकर भागा था. उसने कहा कि वह सभी प्रकार की जांच और टेस्ट के लिए तैयार है.

    यह भी पढ़ें-  भय्यू महाराज का सेवादार विनायक गिरफ्तार, सुसाइड केस में हो सकते हैं नए खुलासे

    यह भी पढ़ें-  भय्यूजी महाराज के पुराने ड्राइवर ने किया ख़ुलासा, 12 करोड़ लेकर भागा है सेवादार!

    Tags: Indore news, Madhya pradesh news, Police investigation, Suicide

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर