इंदौर में BJP की पाठशाला, सीएम ने कहा- अच्छा आचरण रखने से मिलेगी बड़ी जिम्मेदारी, जैसे हमें मिली

इंदौर में सत्ता-संगठन का जमावड़ा होगा.

इंदौर में सत्ता-संगठन का जमावड़ा होगा.

भारतीय जनता पार्टी के नवनियुक्त प्रदेश इकाई के लिए आज और कल बेहद अहम साबित होंगे. इन दो दिनों में निकाय चुनाव की रणनीति के साथ ही प्रदेश में भाजपा की दिशा और दशा पर मंथन होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 31, 2021, 2:35 PM IST
  • Share this:
इंदौर. इंदौर में BJP के प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक का दूसरा सत्र रविवार को शुरू हुआ. सत्र में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कार्यकर्ताओं को कई टिप्स दिए. उन्होंने कहा- समाज में अच्छा व्यवहार और आचरण रखना है. अच्छे व्यवहार से ही आप आगे बढ़ सकते हैं. उन्होंने कहा कि अच्छे आचरण से ही वे खुद, प्रहलाद पटेल, कैलाश विजयवर्गीय जैसे कई नेताओं को बड़ी जिम्मेदारियां दी गईं.

इंदौर में सत्ता और संगठन का जमावड़ा हो गया है. दरअसल, होटल क्रिसेंट में बीजेपी की चुनावी पाठशाला लगने जा रही है. इसमें निकाय चुनाव की रणनीति के साथ ही प्रदेश में भाजपा की दिशा और दशा पर मंथन होगा. मंथन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश प्रभारी पी. मुरलीधर राव, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, संगठन महामंत्री सुहास भगत समेत कई दिग्गज नेता शामिल हैं.

किसानों का हित सोच रही सरकार- मुरलीधर राव

वहीं पी.मुरलीधर राव ने किसान आंदोलन को लेकर कहा- इस मामले में सरकार किसानों के हित में सोच रही है. कृषि कानून बनने के बाद हमारी कोशिश है कि किसान किसी भी तरह से भ्रमित ना हों इसके लिए संवाद जारी है. अच्छे सुझावों के अनुरूप परिवर्तन करने के लिए तैयार है. पार्टी के कार्यकर्ता गांव गांव जाकर किसानों से चर्चा कर रहे हैं.
पूरी ताकत से लड़ेंगे चुनाव, कांग्रेस गायब हो जाएगी- राव

मुरलीधर राव ने कहा कि अधिकांश किसान केंद्र सरकार के साथ खड़े हैं और उस कानून के साथ हैं. ये विपक्ष की कोशिश है. वह किसानों को भ्रमित कर रहे हैं. दूसरे के कंधों पर बंदूक रखकर चला रहे हैं. 26 जनवरी को जो आंदोलन हुआ उसमें पंजाब प्रान्त के गैंगस्टर सम्मिलित हैं. उन्होंने बताया कि हमने तीन बातें तय की हैं. निगम चुनाव पूरी ताकत के साथ लड़ेंगे, आत्मविश्वास के साथ लड़ेंगे, नया बैंच मार्क स्थापित करेंगे. कांग्रेस का निशान गायब हो जाएगा. निगम चुनाव को लेकर माइक्रो लेवल पर प्लानिंग तैयार की जाएगी.

पंचायत चुनाव जीतने के दिए जाएंगे टिप्स



इंदौर में सत्ता और संगठन के इस जमावड़े में नए कार्यकारिणी सदस्यों को संगठन एक्टिव रखने के सूत्र बताए जाएंगे. इसके अलावा बैठक में नगरीय निकाय और पंचायत चुनावों को लेकर पार्टी की रूपरेखा भी तय की जाएगी. यही नहीं किसान आंदोलन और दूसरे राष्ट्रीय मुद्दों का मध्यप्रदेश पर असर को लेकर भी विमर्श किया जाएगा. नगरीय निकाय चुनाव से पहले हो रही नवनियुक्त पदाधिकारियों की इस बैठक को काफी अहम माना जा रहा है. पदाधिकारियों को अगामी नगरीय निकाय चुनाव और पंचायत चुनाव के टिप्स दिए जाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज