अपना शहर चुनें

States

INDORE : BJP के ये नेता बोले-अंग्रेजों के बनाए कानून को खत्म कर मोदीजी ने किसानों को आजाद किया

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा जिस दिन धर्मेद्र प्रधान का आदेश हो जाएगा इंदौर से 1 लाख ट्रैक्टरों पर चार लाख किसान दिल्ली कूच कर जाएंगे.
कैलाश विजयवर्गीय ने कहा जिस दिन धर्मेद्र प्रधान का आदेश हो जाएगा इंदौर से 1 लाख ट्रैक्टरों पर चार लाख किसान दिल्ली कूच कर जाएंगे.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कैलाश विजयवर्गीय ने मंच से पुष्टि कर दी कि प्रदेश की लोकप्रिय जनादेश वाली सरकार को किसके इशारे पर गिराया गया. भाजपा सरकार हमेशा झूठ कहती आई है कि कांग्रेस की सरकार गिराने में उनका कोई हाथ नहीं है. कांग्रेस की अंदरूनी कलह की वजह से सरकार गिरी है. लेकिन आज कैलाश विजयवर्गीय के बयान से स्पष्ट हो गया कि चुनी हुई सरकार को असंवैधानिक तरीके से गिराया गया.

  • Share this:
इंदौर. दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन (Kisan andolan) के बीच भाजपा (BJP) ने इंदौर के दशहरा मैदान पर किसान सम्मेलन किया. इसमें इंदौर संभाग के आठों जिलों के किसान शामिल हुए.किसान आंदोलन के विरोध और कृषि कानून के समर्थन में हुए इस सम्मेलन में किसानों को बताया गया कि मंडी एक्ट अंग्रेजों ने बनाया था लेकिन आज मोदी जी ने इससे किसानों को आजादी दिलाई है.

कृषि कानून के समर्थन में आयोजित किसान सम्मेलन में बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि आप कपड़े खरीदने जाते हो, तो भाव दुकानदार बताता है. बर्तन खरीदने पर उसका भाव बर्तन वाला और बाइक खरीदने पर उसके भाव शोरूम वाला बताता है तो फिर जब फसल आपकी है, तो उसका भाव व्यापारी क्यों बताता है. ये मंडी एक्ट अंग्रेजों के जमाने का है.अंग्रेजों का कानून था कि किसान अपनी उपज को मंडी में ही बेचेगा. बाहर नहीं. देश आजाद हो गया, लेकिन किसान आजाद नहीं हुआ था. किसानों को आजाद कर क्या मोदी जी ने गुनाह किया है. ये कानून किसानों को व्यापारी बनाने वाला है. कानून में ये अधिकार है, किसान को मंडी में अपनी उपज नहीं बेचनी, तो वो कहीं भी उसे बेच सकता है.

कांग्रेस पर निशाना
इस दौरान कैलाश विजयवर्गीय ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि पप्पू दिल्ली में किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर चला रहा है. जो सीएए का विरोध कर रहे थे, सेना पर सवाल खड़ा कर रहे थे वही कृषि बिल का विरोध कर रहे हैं. कृषि बिल का विरोध करने वालों का चेहरा पहचानना पड़ेगा. हमारे देश में रहकर देश को कमजोर करने में जुटे हैं. देश के दुश्मन देश में रहकर देश को कमजोर कर रहे हैं. हमे इन्हें सबक सिखना है.




हां, हमने गिरायी सरकार
इस दौरान कैलाश विजयवर्गीय ने मंच से कहा कि कमलनाथ सरकार गिराने में प्रधानमंत्री की भूमिका थी. ये बात आज मैं पहली बार सार्वजनिक रूप से कह रहा हूं. उन्होंने नरोत्तम मिश्रा की तारीफ करते हुए कहा कि इन्होंने सरकार में रहते कमलनाथ को एक दिन भी चैन से नहीं सोने दिया. कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि जिस दिन धर्मेद्र प्रधान का आदेश हो जाएगा इंदौर से 1 लाख ट्रैक्टरों पर चार लाख किसान दिल्ली कूच कर जाएंगे. यहां से दिल्ली पहुंचने में 10 दिन का वक्त लगेगा.

सिर्फ तंज ही तंज
प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सोशल मीडिया का सहारा लेते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि एक मैसेज आया है, कैकई के बाद में ऐसी कौन सी मां है, जो षड्यंत्रपूर्वक बेटे को गद्दी दिलाना चाहती है. भीड़ से सोनिया सोनिया की आवाज आई.फिर वो बोले ताश की गिड्‌डी में कितने पत्ते होते हैं. लोगों की आवाज आई 52, पंजा दिखाते हुए पूछा - इस पार्टी के कितने सांसद हैं लोगों ने कहा 52. ऐसी पार्टी जो सिर्फ देश तोड़ने वाली ताकतों के साथ है. भारत तेरे टुकड़े होंगे. ये कहते हैं अफजल, हम शर्मिंदा हैं वे कहते हैं तुम कितने अफजल मारोगे, हर घर में अफजल निकलेगा.तब हमारी पार्टी ने मामला साफ कर दिया है कि हम उस घर में घुसकर मारेंगे,जिस घर में अफजल निकलेगा.

आंदोलन क्यों
केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कैलाश विजयवर्गीय के किसानों के दिल्ली कूच पर कहा कि वे इस मामले पर आज ही पीएम नरेंद्र मोदी से बात करेंगे. इंदौर से एक लाख ट्रैक्टर पर चार लाख किसान आपके समर्थन के लिए दिल्ली आने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कांग्रेस पार्टी का दिवालियापन है कि कृषि कानून कई राज्यों ने लागू कर दिए हैं. एक देश एक बाजार की आज जरूरत है. किसानों को ग्लोबल मंडी में लेकर जाने वाला ये कानून है. एमएसपी खत्म नहीं होगी.ये हम लोग लिखकर देने के लिए तैयार हैं. फिर आंदोलन किस बात का है. ये आंदोलन देश में अस्थिरता पैदा करने और अराजकता पैदा करने के लिए है.

आज हो गया खुलासा
कैलाश विजयवर्गीय के कमलनाथ सरकार गिराने के बयान के बाद कांग्रेस हमलावर हो गई. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कैलाश विजयवर्गीय ने मंच से पुष्टि कर दी कि प्रदेश की लोकप्रिय जनादेश वाली सरकार को किसके इशारे पर गिराया गया.भाजपा सरकार हमेशा झूठ कहती आई है कि कांग्रेस की सरकार गिराने में उनका कोई हाथ नहीं है. कांग्रेस की अंदरूनी कलह की वजह से सरकार गिरी है. लेकिन आज कैलाश विजयवर्गीय के बयान से स्पष्ट हो गया कि चुनी हुई सरकार को असंवैधानिक तरीके से गिराया गया.

ट्रैक्टर पर सवारी
इस किसान सम्मेलन में शामिल होने करीब 5 से 7 हजार लोग पहुंचे.सम्मेलन में पूर्व महापौर मालिनी गौड़ ट्रैक्टर पर सवार होकर पहुंचीं, तो कई किसान एक जैसा साफा पहने नजर आए. एक गाड़ी लोगों को सैनिटाइज करती रही,तो कार्यकर्ता बिना मास्क वालों को मास्क वितरित करते दिखे.कार्यक्रम के बाद बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय भी ट्रैक्टर चलाते नजर आए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज