BJP ने घंटानाद आंदोलन के जरिए CM कमलनाथ को दी चेतावनी, कहा- अभी तो ये अंगड़ाई है, आगे और लड़ाई है

बीजेपी ने प्रदेशव्यापी घंटानाद आंदोलन (Ghantanaad Campaign ) माध्‍यम से कमलनाथ सरकार (kamalnath Government) पर जमकर हमला बोला है. भाजपा ने कहा कि जब से प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आई है, तभी से प्रदेश की जनता हैरान परेशान है.

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 11, 2019, 7:56 PM IST
BJP ने घंटानाद आंदोलन के जरिए CM कमलनाथ को दी चेतावनी, कहा- अभी तो ये अंगड़ाई है, आगे और लड़ाई है
घंटानाद आंदोलन के दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं ने जमकर काटा बवाल.
Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 11, 2019, 7:56 PM IST
इंदौर. मध्य प्रदेश सरकार (Government of Madhya Pradesh) के खिलाफ बीजेपी ने प्रदेशव्यापी घंटानाद आंदोलन (Ghantanaad Campaign ) किया. इस दौरान बीजेपी (BJP) के कार्यकर्ताओं ने जमकर बवाल काटा. इंदौर कलेक्ट्रेट का घेराव करने पहुंचे कार्यकर्ताओं ने पुलिस के लगाए बेरीकेड्स तोड़ दिए और कलेक्टर ऑफिस में घुसने का प्रयास किया. जबकि पुलिस ने आंदोलन कर रहे कार्यकर्ताओं को रोकने की कोशिश की, इस दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच झड़प भी हुई. आंदोलन कर रहे नेताओं का कहना है कि कुंभकरणी नींद में सोई प्रदेश सरकार को जगाने के लिए बीजेपी ने प्रदेश भर में घंटे घड़ियाल बजाकर उसे जगाने का प्रयास किया है. इंदौर में बीजेपी कार्यकर्ता अपनी-अपनी विधानसभाओं से घंटा घड़ियाल, नगाड़े, ढोल, बजाते हुए पार्टी का झंडा लेकर हरसिद्धी चौक पर एकत्रित हुए थे. यहां से सभी कार्यकर्ता रैली के रूप में कलेक्टर कार्यालय पहुंचे. उन्होंने कलेक्ट्रेट के सामने लगे बेरीकेड्स तोड़ दिए और गेट पर चढ़ गए. इस दौरान पुलिस के साथ उनकी झड़प भी हुई.

चौहान और सुमित्रा ने संभाला मोर्चा
इस आंदोलन का नेतृत्व खंडवा सांसद नंदकुमार सिंह चौहान और पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने किया. भाजपा ने कहा कि जब से प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आई है, तभी से प्रदेश की जनता हैरान परेशान है. सत्ता में आने के लिए कांग्रेस के नेताओं ने जनता से किए किसी भी वादे को पूरा नहीं किया. शिवराज सिंह सरकार की जनहित कारी योजनाओं को बंद कर दिया. इस वजह से आमजन परेशान है. सरकार नींद में सो रही है और बीजेपी घंटे घड़ियाल, ढोल बजाकर उसको नींद से जगाने का काम कर रही है. जबकि इस आंदोलन में बीजेपी विधायक महेन्द्र हार्डिया और आकाश विजयवर्गीय भी शामिल हुए.

आकाश विजयवर्गीय ने सीएम को दी ये चेतावनी

विधायक आकाश विजयवर्गीय ने मुख्यमंत्री को खुली चेतावनी देते हुए कहा कि अभी तो ये अंगड़ाई है, आगे और लड़ाई है. ये तो अभी पहला आंदोलन है. आज हमने कलेक्ट्रेट का घेराव किया है यदि अब भी कांग्रेस सरकार नींद से नहीं जागी तो मुख्यमंत्री निवास का घेराव किया जाएगा.

एएसआई को आया हर्ट अटैक!
घंटानाद आंदोलन के दौरान रावजी बाजार थाने के एएसआई एमयू शेख कलेक्ट्रेट गेट पर ड्यूटी दे रहे थे. वह कार्यकर्ताओं को रोकने के दौरान वे गश खाकर जमीन पर गिर पड़े. वहां मौजूद साथी पुलिसकर्मियों ने उन्हें उठाया और तत्काल पुलिस के वाहन से पास के अस्पताल में पहुंचाया. ऐसी संभावना जताई गई है कि उन्हें सीने में दर्द हुआ,जिससे वे जमीन पर गिर पड़े. लोगों का कहना था कि उन्हें हार्ट अटैक आया है. हालांकि उनकी स्थिति खतरे से बाहर है और उन्हें सिर्फ एक्जर्सन की वजह से चक्कर आए थे.
Loading...

ये भी पढ़ें- गोपाल भार्गव का कमलनाथ सरकार पर तंज, बोले- MP में कांग्रेस की उम्र ज्योतिषी भी नहीं बता सकता

CM कमलनाथ ने शुरू की 'मुख्यमंत्री आवास मिशन' योजना, प्रदेश के शहरी गरीबों को मिलेगा पक्‍का मकान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 7:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...