Corona काल में कालाबाजारी: 35 हजार में बेचा जा रहा था एक रेमडेसिविर इंजेक्शन; नर्स, डॉक्टर और MR गिरफ्तार

मप्र के इंदौर में रेमडेसिविर इंजेक्शन की जबरदस्त कालाबाजारी हो रही है.

मप्र के इंदौर में रेमडेसिविर इंजेक्शन की जबरदस्त कालाबाजारी हो रही है.

Indore Corona News: रेमडेसिविर इंजेक्शन की जबरदस्त Black marketing हो रही है. कोरोना काल में भी लोग अवैध काम नहीं छोड़ रहे. पुलिस ने नर्स और डॉक्टर सहित एक एमआर को गिरफ्तार किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 19, 2021, 7:51 AM IST
  • Share this:
इंदौर. कोरोना काल में लोगों की मजबूरी का फायदा उठाने से कोई नहीं चूक रहा. इंदौर में एक शख्स 22 हजार में रेमडेसिविर का इंजेक्शन बेचते पकड़ा गया था, वहीं अब एक नर्स भी पुलिस के हत्थे चढ़ी है. पुलिस ने नर्स सहित 3 लोगों को रेमडेसिविर इंजेक्शन की ब्लैकमार्केटिंग करते पकड़ा. नर्स 35 हजार में एक इंजेक्शन बेच रही थी.

जानकारी के मुताबिक, बारोड़ हॉस्पिटल की नर्स कविता चौहान, रेमडेसिविर निर्माता कंपनी जेडेक्स में एमआर शुभम परमार और उसके भाई बीएचएमएस डॉक्टर भूपेंद्र पिता पुरुषोत्तम परमार को पुलिस ने रेमडेसिविर की कालाबाजारी करते पकड़ा. पुलिस ने पूरी योजना बनाकर इनको रंगे हाथों गिरफ्तार किया. राजेंद्र नगर टीआई अमृता सोलंकी बाकायदा ग्राहक बनकर इनके पास पहुंचीं और डिलीवरी बापट चौराहे पर करने की बात कही. जैसे ही आरोपी पहुंचे उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.

बड़ी गैंग होने की आशंका– पुलिस

पुलिस ने बताया कि जो इंजेक्शन बरामद हुए हैं, वे जेडेक्स के बजाय अन्य कंपनी के हैं. एसपी प्रशांत चौबे के मुताबिक, आरोपियों के मोबाइल से कई सुराग हाथ लगे हैं. इनकी बड़ी गैंग हो सकती है. आरोपियों का दावा है, परिजनों के लिए 20 खरीदे थे, इनमें से 2 बच गए थे. कविता का सुराग शनिवार को गिरफ्तार नीलेश चौहान से मिला था.
मरीजों से भी की जाएगी पूछताछ

कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि सभी अस्पतालों से मरीजों की सूची ली जा रही है. मरीजों से भी पूछेंगे उन्हें लगा या नहीं. अस्पताल से कालाबाजारी करने वाले पुरुष आरोपियों पर रासुका लगा रहे हैं.

ये शख्स बेच रहा था 22 हजार में



इंदौर पुलिस ने 22 हजार में रेमडेसिविर इंजेक्शन बेच रहे शख्स को गिरफ्तार किया है. ये शख्स मजबूरी का फायदा उठाकर पैसे कमाने की सोच रहा था, जबकि ये इंजेक्शन किसी मरीज ने दूसरों की मदद के लिए फ्री दिया था. राजेंद्र नगर टीआई अमृता सोलंकी ने बताया कि हमने आरोपी निलेश चौहान निवासी जयरामपुर कॉलोनी को गिरफ्तार किया है.

पुलिस को सूचना मिली थी कि नीलेश 22 हजार में रेमडेसिविर इंजेक्शन का सौदा कर रहा है. पुलिस ने बताया कि टीआई सादी वर्दी में पहुंची. निलेश खरीदार को मुक्तिधाम के पास इंजेक्शन देकर पैसे लेने लगा तभी पुलिस ने उसे दबोच लिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज