Indore: सिर चढ़ा नशा- स्कॉर्पियो में लड़का-लड़की पी रहे थे शराब, अचानक हो गया ऐसा

शहर के तीन इमली ब्रिज पर गाड़ी पलट गई. (प्रतिकात्मक फोटो)

शहर के तीन इमली ब्रिज पर गाड़ी पलट गई. (प्रतिकात्मक फोटो)

शहर के तीन इमली ब्रिज पर गाड़ी पलट गई. गाड़ी में लड़का-लड़की शराब पी रहे थे. हादसे के बाद लड़की तो भाग गई. लेकिन, लड़के को पुलिस ने पकड़ लिया. लड़का बेहद नशे में था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 28, 2020, 7:20 AM IST
  • Share this:

इंदौर. शहर के तीन इमली ब्रिज इलाके में रात करीब 1 बजे तेज आवाज ने लोगों को चौंका दिया. लोग पहुंचे तो देखा कि गाड़ी पलट गई है. गाड़ी में लड़का और लड़की नशे में थे. लोगों ने जैसे-तैसे दोनों को निकाला. इस बीच लड़की लड़के का मोबाइल लेकर भाग गई. पलटने से गाड़ी पूरी तरह चकनाचूर हो गई.

लोगों ने पुलिस को बताया कि दोनों चलती गाड़ी में शराब पी रहे थे. तभी अचानक गाड़ी पलट गई. गाड़ी से शराब की बोतलें भी मिली हैं. युवक-युवती आईटी पार्क की तरफ से आ रहे थे, तभी ये हादसा हुआ. कार में मिले कागजों में लड़के  का नाम तेजवीर सिंह है. वह न्यू पलासिया रोड नंबर तीन का रहने वाला है. युवक इतना नशे में था कि अपना नाम पता भी नहीं बता पा रहा था. पुलिस ने उसके परिजन को सूचना देकर कार थाने में खड़ी करा दी.

कल भी हुआ था दर्दनाक एक्सीडेंट, हुई थी मौत

DAVV के इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (IET) कैंपस में शनिवार की दोपहर करीब 1.30 बजे भी जबरदस्त एक्सीडेंट हो गया था.  बताया गया कि 20 साल का लड़का जबर्दस्त स्पीड में अपनी कार लेकर चला आ रहा था. DAVV के इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (आईईटी) कैंपस में एम ब्लॉक के सामने एक हाईस्पीड कार आई और प्यून गणेश भैरवे को टक्कर मार दी. 38 साल का गणेश उछलकर बोनट पर आ गिरा. दुर्घटना में सिर में गंभीर चोट लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई. कार में चार लड़के सवार थे. पुलिस ने कार जब्त कर चारों को गिरफ्तार कर लिया है.
फीस भरने आया था लड़़का

भंवरकुआं पुलिस के अनुसार, मृतक का नाम गणेश भैरवे था और वह देव नगर न्यू पलासिया में रहता था. पुलिस ने घटना के बाद सीसीटीवी फुटेज जब्त कर लिए हैं. वहीं कार को जब्त कर युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया है. कार सागर का रहने वाला 20 साल वासु राठौर चला रहा था. आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसने यहां एडमिशन लिया और फीस भरने तीन साथियों के साथ सागर से कार ड्राइव करके ही आ रहा था. कॉलेज के कैंपस में आते ही यह दुर्घटना हो गई.

आरोपी ने दी ये सफाई



आरोपी वासु ने बताया कि कैंपस में टर्न पर कार असंतुलित हो गई. ब्रेक लगाया, लेकिन उसमें पानी की बॉटल फंसने से गलती से एक्सीलरेटर दब गया. इससे कार की स्पीड तेज हो गई और मृतक से टकरा गई. वहीं आईईटी के डायरेक्टर डॉ. संजीव टोकेकर का कहना है कि वे संस्थान के छात्र ही नहीं हैं. केवल फीस भरने आए थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज