Home /News /madhya-pradesh /

OMG! पत्‍नी से दूर रहने के लिए बनाई फर्जी कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट, पोल खुलने के बाद पीछे पड़ी पुलिस, जानें मामला

OMG! पत्‍नी से दूर रहने के लिए बनाई फर्जी कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट, पोल खुलने के बाद पीछे पड़ी पुलिस, जानें मामला

फर्जी रिपोर्ट बनाने पर लैब ने एजाज के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है.

फर्जी रिपोर्ट बनाने पर लैब ने एजाज के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है.

Indore News: मध्‍य प्रदेश के इंदौर से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. दरअसल प्लाईवुड कारोबारी के बेटे ने अपनी पत्नी से शारीरिक कमजोरी के कारण लगातार होने वाले झगड़ों से बचने के लिए कोरोना की फर्जी पॉजिटिव रिपोर्ट (Fake Corona Positive Report) बना डाली. करीब एक महीना बीतने के बाद पत्‍नी की शक हुआ तो उसने रिपोर्ट के बाबत पता लगवाया तो मामला फर्जी निकला. इसके बाद लैब की तरफ से एफआईआर (FIR)दर्ज करवाई गई है. वहीं, आरोपी फिलहाल फरार है.

अधिक पढ़ें ...
इंदौर. मध्‍य प्रदेश के इंदौर (Indore) के महू में प्लाईवुड कारोबारी के बेटे ने अपनी पत्नी से दूर रहने के लिए कोरोना की फर्जी रिपोर्ट बना ली. यही नहीं, कोरोना की फर्जी पॉजिटिव रिपोर्ट (Fake Corona Positive Report) तैयार कर उसने पत्नी को भेज दी और कह दिया कि वो कोविड सेंटर में भर्ती है. वहीं, एक महीने से ज्यादा समय होने के बाद जब वो घर नहीं लौटा तो पत्नी को शक हुआ. इसके बाद उसने अपने पिता को रिपोर्ट की जांच के लिए भेजा. दामाद की रिपोर्ट के बारे में लैब से तहकीकात की तो पता चला कि रिपोर्ट ही फर्जी है. अब लैब ने कारोबारी के बेटे पर एफआईआर (FIR) दर्ज कराई है. वहीं, आरोपी फिलहाल फरार है.

ये मामला छोटी ग्वालटोली थाने के पास सेन्ट्रल लैब का है. इंदौर एएसपी जयवीर सिंह भदौरिया के मुताबिक, इसी साल फरवरी में प्लाईवुड कारोबारी के बेटे एजाज अहमद की शादी हुई थी. बताया गया है कि उसकी शारीरिक कमजोरी के कारण दोनों का वैवाहिक जीवन तनावपूर्ण चल रहा था. इसी वजह से उसकी पत्नी से अनबन होने लगी तो वो पत्नी से दूर रहना चाह रहा था. उसने 25 मई को एक फोटोशॉप एप डाउनलोड की और इंदौर के सेंट्रल लैब के एक पीड़ित व्यक्ति की कोविड पॉजिटिव रिपोर्ट को अपने नाम से बदल कर परिवार को दिखा दिया. इससे कोरोना पॉजिटिव मानकर पत्नी और परिवार वाले उससे दूर हो गए.

ये खुली एजाज की पोल
जब एजाज की पत्नी को शक हुआ कि वे घर पर ठीक थे और कोरोना के कोई लक्षण भी नहीं थे. एक महीने से ज्यादा समय बीतने के बाद पत्नी ने अपने पिता को इस रिपोर्ट की जांच करने को कहा. इसके बाद लड़की के पिता ने तत्काल सेंट्रल लैब की वेबसाइट से उसका टोल फ्री नंबर तलाशा और लैब द्वारा एसआरएफ आईडी नंबर चेक कराया. लैब की तरफ से बताया कि कोविड रिपोर्ट के साथ छेड़छाड़ कर मरीज के नाम की जगह एजाज ने अपना नाम एडिट किया है. वहीं, रिपोर्ट की कॉपी आने पर सेंट्रल लैब की संचालिका विनीता कोठारी ने थाने में शिकायत की है. इस पर पुलिस ने एजाज के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है.

Tags: Corona in indore, Corona positive, FIR, Indore corona update, Indore crime, Indore Municipal Corporation, Indore news, MP Police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर