फास्टट्रैक कोर्ट में चलेंगे मिलावटखोरों के खिलाफ मामले, मिलेगी आजीवन कारावास तक की सजा

मिलावटखोरों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के बाद अब फास्टट्रैक कोर्ट में उनके मामले चलेंगे. ताकि दोषियों को जल्द से जल्द सजा मिल सकेगी.

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 8, 2019, 1:54 PM IST
फास्टट्रैक कोर्ट में चलेंगे मिलावटखोरों के खिलाफ मामले, मिलेगी आजीवन कारावास तक की सजा
फास्टट्रैक कोर्ट में चलेंगे मिलावटखोरों के खिलाफ मामले, मिलेगी आजीवन कारावास तक की सजा
Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 8, 2019, 1:54 PM IST
मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में कमलनाथ सरकार मिलावटखोरों के खिलाफ एक और बड़ा फैसला लेने जा रही है. मिलावटखोरों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के बाद अब फास्टट्रैक कोर्ट में उनके मामले चलेंगे. इससे दोषियों को जल्द से जल्द सजा मिल सकेगी.

इधर, राज्य के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि अभी तक कई वर्षों तक मामले चलते रह जाते थे और मिलावट खोर बच जाते थे. हालांकि अब कमलनाथ सरकार ने इस दिशा में पहल करते हुए मिलावटखोरों को आजीवन कारावास तक की सजा दिलाने का प्रावधान करने जा रही है.

'मिलावटी चीजों से लोगों की जिंदगी से हो रहा खिलवाड़'

तुलसी सिलावट ने कहा कि दूध, मावा, पनीर और घी से बने उत्पादों में मिलावट कर लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है. उन्होंने पूर्व की शिवराज सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि गोरखधंधा बरसों से चल रहा था लेकिन बीजेपी शासनकाल में कोई कार्रवाई नहीं हुई. बहरहाल, अभी तक 1900 से ज्यादा नमूने लेकर जांच के लिए भेजे जा चुके हैं.

क्राइम रिपोर्ट-crime report
मंत्री ने कहा कि मिलावटी चीजों से लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ हो रहा है


'दोषियों को छोड़ा नहीं जाएगा'

सिलावट ने कहा कि जांच में पारदर्शिता बरती जा रही है. किसी भी दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा और निर्दोष को तकलीफ नहीं होगी. उन्होंने आज कृमि मुक्ति दिवस पर इंदौर के एक्सीलेंस स्कूल में बच्चों को दवा खिलाकर अभियान की शुरुआत की. इसी के साथ प्रदेश में 1 से 19 साल के 2 करोड़ 80 लाख बच्चों कृमिनाशक दवा खिलाई जाएगी. इसमें इंदौर जिले में 11 लाख बच्चे भी शामिल हैं.
Loading...

ये भी बढ़ें:- MP: पूर्व CM बाबूलाल गौर की फिर बिगड़ी तबीयत... 

ये भी बढ़ें:- खरगोन में भारी बारिश से नदी-नाले उफान पर, प्रशासन का अलर्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 8, 2019, 1:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...