Indore: सिपाहियों ने जिम ट्रेनर से मांगे 3 लाख रुपए, न देने पर ड्रग पैडलर बनाने की दी धमकी

नारकोटिक्स ब्यूरो के दो सिपाही वसूली में गिरफ्तार किए गए हैं. (सांकेतिक फोटो)

नारकोटिक्स ब्यूरो के दो सिपाही वसूली में गिरफ्तार किए गए हैं. (सांकेतिक फोटो)

इंदौर में 'ड्रग्स वाली आंटी' के नाम से वसूली करने वाले नारकोटिक्स ब्यूरो (CNB) के दो सिपाही और एक ड्राइवर चढ़े पुलिस के हत्थे. जिम ट्रेनर से 3 लाख रुपए वसूलने के फेर में पकड़े गए तीनों आरोपी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 27, 2020, 7:55 AM IST
  • Share this:
इंदौर. केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो (CNB) के दो सिपाही अरुणोदय सिंह मिश्रा, अनुज यादव और ड्राइवर अजय विजय निगर पुलिस के हत्थे चढ़े हैं. तीनों मिलकर ड्रग्स वाली आंटी के नाम से एक जिम ट्रेनर से वसूली कर रहे थे. मिश्रा पहले से ही वसूली के लिए बदनाम है.

घटनाक्रम ऐसे हुआ कि CNB के सिपाही अरुणोदय सिंह मिश्रा, अनुज यादव और ड्राइवर अजय सत्य साईं चौराहे पर स्थित जरई जिम पहुंचे. इन्होंने यहां ट्रेनर शाद खान को बोला कि तुम ड्रग्स वाली आंटी के पैडलर हो. अगर तुम्हें गिरफ्तारी से बचना है तो तीन लाख रुपए देने होंगे. ट्रेनर ने दो दिन का समय मांगा. फिर संचालक को घटना बताई. एएसपी राजेश रघुवंशी ने तीनों को गिरफ्तार करने की बात कही है.

ड्रग पैडलर बनाने की दी धमकी

शाद ने पुलिस को बताया कि 24 दिसंबर को जिम में तीन लोग आए और मेरे बारे में पूछताछ की. मैं नहीं मिला तो वो शाम को दोबारा आए और मुझे बाहर बुलाया. यहां अरुणोदय मिश्रा ने अपना कार्ड दिखाकर खुद को CNB वाला बताया. इसके बाद उसने डायरी निकाली और कुछ लिखने लगा. मुझे कुछ लोगों के फोटो दिखाए और कहा कि ये तेरे साथी हैं. तेरा नाम बता रहे हैं. तू भी इनका ड्रग पैडलर हो सकता है। हम तेरा बयान लेकर तुझे गिरफ्तार करने आए हैं. यदि तुझे तेरा नाम कटवाना है तो तीन लाख रुपए लगेंगे. शाद ने उनसे कहा कि मैं गरीब आदमी हूं और मैंने कभी ऐसा काम नहीं किया. मेरे पास पैसे नहीं हैं. तब ये तीनों फिर बोले कि पैसे तो देने होंगे. मैंने उनसे वक्त मांगा और वे दो दिन का समय देकर चले गए. फिर मैंने यह बात संचालक प्रतीक जोशी को बताई.
जिम संचालक ने दिखाई हिम्मत और बचा लिया

जिम संचालक प्रतीक के मुताबिक, मैंने शाद से पूछा कि तू ये काम करता है क्या. उसने कहा नहीं. मैंने कहा कि अगर तू सही है तो फिर हम पैसे नहीं देंगे. मैंने विजय नगर पुलिस से संपर्क किया. CNB के दोनों सिपाही शनिवार सुबह 10.30 बजे जिम आए. वे शाद को धमकाने लगे. मैंने पहले ही प्लान बना लिया था. इसलिए उन्हें सड़क पर बुला लिया. फिर विजय नगर पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया।

वसूली के लिए पहले से बदनाम है सिपाही



जानकारी के मुताबिक, अरुणोदय सिंह मिश्रा वसूली के लिए काफी बदनाम है. पहले भी इसके खिलाफ विभागीय जांच बैठाई जा चुकी थी. उसे हटाने के लिए भी लिखा गया था. विजय नगर क्षेत्र के कई जिम ट्रेनरों ने पुलिस को जानकारी दी है कि जब से आंटी कांड में जिम ट्रेनर्स का नाम आया है, तब से अरुणोदय मिश्रा की टीम कई जिम में जा रही है और हर किसी को ड्रग्स पैडलर्स के रूप में फंसाने के नाम पर अवैध वसूली कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज