इंदौर: 29 साल से सांसद 'सुमित्रा ताई' को घेरने की कशमकश में है कांग्रेस!

मिनी मुंबई के नाम से मशहूर इंदौर में लगातार 8 बार से हारती आ रही कांग्रेस इस बार पूरी ताकत से चुनाव लड़ने के मूड में है. लेकिन उसकी कश्मकश एक जगह दिख रही है.

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: February 12, 2019, 5:36 PM IST
इंदौर: 29 साल से सांसद 'सुमित्रा ताई' को घेरने की कशमकश में है कांग्रेस!
सुमित्रा महाजन (फाइल फोटो)
Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: February 12, 2019, 5:36 PM IST
लोकसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल और प्रियंका गांधी के उत्तर प्रदेश में शंखनाद करने के बाद कांग्रेस चुनाव की तैयारी में जुट गई है. मिनी मुंबई के नाम से मशहूर इंदौर में लगातार 8 बार से हारती आ रही कांग्रेस इस बार पूरी ताकत से चुनाव लड़ने के मूड में है. लेकिन उसकी कशमकश एक जगह दिख रही है, और वह है प्रत्याशी का चुनाव!

कांग्रेस प्रत्याशी चयन को लेकर काफी मशक्कत कर रही है, ताकि इंदौर लोकसभा सीट की चाबी बीजेपी सांसद सुमित्रा महाजन से हासिल कर ली जाए. कांग्रेस ने अब फैसला किया है कि वो ताई की निष्क्रियता को मोहल्ला, वार्ड और ब्लॉक स्तर पर ले जाकर जनता को बताएगी कि इंदौर से 8 बार की सांसद रहने वाली ताई की विकास कार्यों को कराने में कोई भूमिका नहीं रही हैं.

कांग्रेस जहां एक तरफ ताई के सामने जीतने वाले चेहरे को तलाश कर मैदान में उतारने की तैयारी में है, तो वहीं दूसरी ओर बीजेपी सांसद सुमित्रा ताई की निष्क्रियता को मोहल्ला, वार्ड और ब्लॉक स्तर पर ले जाकर लोगों को बताने का काम कर रही है.



सुमित्रा महाजन ने कहा- इंदौर की चाबी अभी मैं ही संभालूंगी

कांग्रेस का आरोप है कि इंदौर से आठ बार की सांसद रहने वाली ताई की विकास कार्यों को कराने में कोई भूमिका नहीं रही है. आरोप है कि ताई आज तक कोई ऐसी योजना नहीं लाईं, जिससे उद्योगों को बढ़ावा मिला हो और युवाओं को रोजगार के अवसर मिलें हों.

कांग्रेस के प्रदेश सचिव राकेश सिंह यादव का आरोप है कि एमवाय अस्पताल के अलावा कोई नया अस्पताल नहीं बनवा पाईं. एयरपोर्ट का विस्तार सीमित रह गया है कार्गो फ्लाइट शुरू नहीं हो पाई, 29 साल में एक अच्छा बस स्टैंड तक नहीं बना. सरवटे बस स्टैंड टूटा पड़ा, रेलवे स्टेशन भी अव्यवस्थित है. ये सब बातें जनता को बताईं जाएंगी, जिससे जनता को असलियत का पता लग सके.

प्रियंका की सियासी पारी पर बोलीं लोकसभा स्पीकर- 'राहुल ने माना अकेले नहीं होगी राजनीति '
Loading...

वहीं, बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का कहना है कि कांग्रेस के ताई के निष्क्रियता के अभियान से न तो बीजेपी को और ना ताई को कोई फर्क पड़ने वाला है. इंदौर को विश्व स्तरीय पहचान सुमित्रा ताई ने ही दिलाई है जो भी विकास कार्य हुए हैं वो सब ताई ने करवाए हैं. लोग खुद जानते हैं कि ताई निष्क्रीय है या सक्रिय. ताई इस शहर में पहचान की मोहताज नहीं हैं और 9वीं बार फिर वो चुनाव जीतकर लोकसभा में पहुंचेंगी.

हालांकि, बीजेपी की इस सीट को लेकर कांग्रेस तरह तरह की प्लानिंग कर रही है. कांग्रेस के आला नेता बैठकें लेकर मजबूत प्रत्याशी के रायशुमारी कर रहे हैं, तो वहीं बीजेपी की नाकामनियों की लिस्ट भी जनता बीच ले जाकर अपने पक्ष में माहौल बनाने का काम किया जा रहा है. वहीं दूसरी ओर बीजेपी भी सक्रिय है. बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह और प्रदेश सह प्रभारी बनाए गए सतीश उपाध्याय बैठकें लेकर बीजेपी कार्यकर्ताओं में जोश भर रहे हैं.

यह पढ़ें- PHOTOS: एमपी में 'मेरा परिवार भाजपा परिवार' अभियान की शुरुआत
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर