इंदौर: 'जन-गण-मन' को बीच में रोक 'वंदे मातरम्' गाने पर विवाद

अचानक निर्वाचित जन प्रतिनिधियों के सम्मेलन में कुछ ही सेकंड बाद 'जन-गण-मन' को अधूरा छोड़ दिया गया और 'वंदे मातरम्' का गायन शुरू कर दिया गया. फिर राष्ट्रगीत को पूरा गाया गया.

News18 Madhya Pradesh
Updated: June 13, 2019, 12:31 PM IST
इंदौर: 'जन-गण-मन' को बीच में रोक 'वंदे मातरम्' गाने पर विवाद
राष्ट्रगान पर विवाद (प्रतिकात्मक फोटो)
News18 Madhya Pradesh
Updated: June 13, 2019, 12:31 PM IST
इंदौर नगर निगम के बजट सम्मेलन के दौरान कुछ लोगों की गफलत के कारण विवाद खड़ा हो गया. दरअसल यहां राष्ट्रगान 'जन-गण-मन' का गायन बीच में रोककर अचानक राष्ट्रगीत 'वंदे मातरम्' गाना शुरू कर दिया गया. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसके एक दृश्य में महापौर और स्थानीय भाजपा विधायक मालिनी लक्ष्मण सिंह गौड़ भी दिखायी दे रही हैं.

बता दें कि इंदौर नगर निगम पर भाजपा का कब्जा है.



चश्मदीद सूत्रों ने बताया कि नगर निगम के बजट सम्मेलन की शुरुआत के दौरान पार्षदों और अन्य लोगों ने राष्ट्रगान (जन-गण-मन) गाना शुरू कर दिया. वहां उपस्थित अन्य लोगों ने भी इसका एक सुर में अनुसरण शुरू कर दिया. अचानक निर्वाचित जन प्रतिनिधियों के सम्मेलन में कुछ ही सेकंड बाद 'जन-गण-मन' को अधूरा छोड़ दिया गया और 'वंदे मातरम्' का गायन शुरू कर दिया गया. फिर राष्ट्रगीत को पूरा गाया गया.

बहरहाल, कुछ विपक्षी पार्षदों ने नगर निगम के सम्मेलन में हुई चूक को राष्ट्रगान के अपमान का मामला करार देते हुए दोषियों की पहचान कर उनके खिलाफ उचित कार्रवाई की मांग की है.

इस बारे में पूछे जाने पर नगर निगम के सभापति अजय सिंह नरूका ने मीडिया से कहा, 'यह चूक संभवतः किसी पार्षद की जुबान फिसलने से हुई. हालांकि, इस चूक के पीछे मुझे किसी की कोई दुर्भावना प्रतीत नहीं होती. लिहाजा इस मामले को बेवजह तूल नहीं दिया जाना चाहिये.'

उन्होंने कहा कि यह पुरानी परंपरा है कि नगर निगम के सत्र की शुरूआत में राष्ट्रगीत 'वंदे मातरम्' गाया जाता है, जबकि राष्ट्रगान 'जन-गण-मन' के गायन के साथ सदन का सत्रावसान होता है.

ये भी पढ़ें:
Loading...

IAS अफसरों को मिली पोस्टिंग : तरुण पिथौड़े भोपाल कलेक्टर

MP की मंत्री बोलीं-रेपिस्ट के हाथ-पैर नाक-कान काट देना चाहिए
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...