COVID-19: जनता की सेवा में 24x7 जुटे हैं ये इंदौर वॉरियर्स, CM शिवराज बोले- अब हारेगा यहां...
Indore News in Hindi

COVID-19: जनता की सेवा में 24x7 जुटे हैं ये इंदौर वॉरियर्स, CM शिवराज बोले- अब हारेगा यहां...
सीएम ने बताया कि जमात मरकज से जुड़े इन विदेशी नागरिकों का पासपोर्ट जब्त कर लिया गया है. (फाइल फोटो)

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ये छुपे हुए योद्धा हैं जो लगातार लोगों की सेवा में जुटे हैं.संकट की इस घड़ी में परिवार से दूर रहकर जनसेवा में जुटे हुए इन योद्धाओं के प्रयासों से इंदौर जल्द ही कोरोना को हराएगा.

  • Share this:
इंदौर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मिनी मुंबई कहे जाने वाले इंदौर (Indore) शहर में कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते केसों के बीच डॉक्टर, नर्स और पुलिसकर्मी दिन-रात लोगों की सेवा में जुटे हुए हैं. वहीं, कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है. हाल ही में ऐसा ही वाकया टाटपट्टी इलाके में हुआ, जहां दो डॉक्टरों डॉ. जकिया सैय्यद और डॉक्टर तृप्ति क्षिप्रा पर हमले की कोशिश की गई थी. लेकिन हमले के बाद भी दोनों डॉक्टर लगातार जनसेवा में जुटी हुई हैं. इन्हीं दो डॉक्टरों की तरह इंदौर में कुछ और वॉरियर्स भी हैं जो अपने घर-परिवार की परवाह किए बगैर दिन-रात लोगों की सेवा में जुटे हैं. इन वॉरियर्स की न सिर्फ स्थानीय लोग तारीफ कर रहे हैं, बल्कि सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने भी उनके काम की सराहना करते हुए उनका हौसला बढ़ाया. चलिये जानते हैं इन वॉरियर्स के बारे में.

संकट की इस घड़ी में लोगों की सेवा में तत्पर हैं ये वॉरियर्स
इंदौर के अरविंदो अस्पताल के हेड डॉ. विनोद भंडारी ने पूरे अस्पताल को कोरोना के मरीजों के लिए तैयार किया है. हॉस्पटिल के 450 बेड का अस्पताल कोरोना पॉजीटिव मरीजों के लिए तैयार किया गया है तो वहीं अस्पताल के सारे डॉक्टर्स और नर्स को कोरोना पॉजीटिव मरीजों के इलाज में लगा दिया गया है ताकि संकट की इस घड़ी में डॉक्टरों की कमी न हो. वहीं वेदप्रकाश माली ने भी पिछड़ा वर्ग कन्या छात्रावास को क्वारंटाइन होम में तब्दील कर दिया है. छात्रावास में करीब 250 लोगों के रुकने की भी व्यवस्था की गई है. वहीं स्टाफ नर्स श्वेता गुडविन लगातार कोविड-19 वार्ड में काम रही हैं. लगातार 24 घंटे मरीजों के इलाज में जुटी हैं. ड्यूटी के दिन से ही श्वेता का घर जाना पूरी तरह से बंद है. श्वेता वार्ड में ही रहकर मरीजों के इलाज में जुटी हैं. तो वहीं आशा कार्यकर्ता फिजा फातिमा आशा कार्यकर्ता हैं, जिन्होंने घर-घर सर्वे करके करीब 70 से ज्यादा लोगों को क्वारंटाइन में भेजा है. डॉक्टर सरिता पांडे लगातार कोविड-19 मरीजों के सैंपल ले रही हैं. सैंपल लेने के लिए जहां डॉक्टर जाने से कतरा रहे हैं, ऐसे में डॉक्टर सरिता सिंह खुद आगे जाकर मरीजों के सैंपल ले रही हैं. वहीं एसोसिएट प्रोफेसर मनीष पुरोहित सैंपल की लगातार जांच कर रहे हैं.

सीएम शिवराज सिंह ने फोन कर वॉरियर्स का बढ़ाया हौसला



सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना की जंग में करने वाले वॉरियर्स से फोन पर बात करके न सिर्फ हौसला बढ़ाया बल्कि काम की सराहना भी की है. चौहान ने कहा कि ये छुपे हुए योद्धा हैं जो लगातार लोगों की सेवा में जुटे हैं. संकट की इस घड़ी में परिवार से दूर रहकर जनसेवा में जुटे हुए इन योद्धाओं के प्रयासों से इंदौर जल्द ही कोरोना को हराएगा.



ये भी पढ़ें: COVID 19: वो गलतियां जिनके चलते इंदौर को अपनी जद में लेता चला गया कोरोना, जानें पूरी कहानी

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading