इंदौर में 29 मई तक बढ़ा कोरोना कर्फ्यू, जानिए कितनी देर तक खुलेंगी दुकानें, किसकी होगी होम डिलीवरी

मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना कर्फ्यू बढ़ा दिया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)

मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना कर्फ्यू बढ़ा दिया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)

मध्य प्रदेश की राजधानी इंदौर में कोरोना कर्फ्यू 29 मई तक बढ़ा दिया गया है. कलेक्टर ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं. नए आदेश में जनता को थोड़ी ढील भी दी गई है. ग्रॉसरी स्टोर्स दोपहर 12 बजे तक खोले जा सकते हैं.

  • Share this:

इंदौर. कोरोना काल में पाबंदियों के बाद घट रहे मरीजों को दखते हुए इंदौर में कोरोना कर्फ्यू 29 मई तक बढ़ा दिया गया है. कलेक्टर के नए आदेश में ढील भी दी गई है. इसके मुताबिक, खेरची किराना दुकान, ग्रॉसरी स्टोर्स को सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 6 से दोपहर 12 बजे खुले रहने की ढील दी गई है. कलेक्टर मनीष सिंह ने आदेश में वार्ड प्रबंधन समूह से कहा है कि वह इन दुकानों से अधिक से अधिक होम डिलीवरी को बढ़ावा दें. फल-सब्जी की बिक्री सोमवार से शुक्रवार दोपहर 12 बजे तक पूर्ववत जारी रहेगी. डेयरी भी सुबह 6 से 10 और शाम 5 से 7 बजे तक खुली रहेंगी.

इसी तरह भोपाल सहित जबलपुर और ग्वालियर में भी कोरोना कर्फ्यू में विस्‍तार किया गया है. भोपाल में 24 मई की सुबह 6 बजे तक, जबलपुर में 31 मई तक और ग्वालियर में 30 मई तक कोरोना कर्फ्यू बढ़ा दिया गया है. भोपाल में कलेक्टर अविनाश लवानिया ने रविवार दोपहर कोरोना कर्फ्यू को लेकर आदेश जारी किए. आदेश में कहा गया है कि भोपाल नगर निगम क्षेत्र और बैरसिया नगर पालिका क्षेत्र में 24 मई तक कोरोना कर्फ्यू बढ़ा दिया गया है. भोपाल में कोरोना के बढ़ते संक्रमण और आम लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए कर्फ्यू को 24 मई (सुबह 6 बजे) तक बढ़ाया गया है. कर्फ्यू का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ धारा 188 के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

जबलपुर में घट गई संक्रमण दर

वहीं, जबलपुर में सांसद राकेश सिंह की अध्यक्षता में वर्चुअल बैठक हुई. बैठक में कोरोना कर्फ्यू को 31 तक बढ़ाने का प्रस्ताव राज्य शासन को भेजा गया, जिसे मंजूर कर लिया गया. गौरतलब है कि जिले में पिछले 18 दिनों में संक्रमण की दर 29 फीसदी से घटकर 11फीसदी हो गई है. रिकवरी रेट भी 78 फीसदी से बढ़कर 89 हो गया है. बैठक में ग्रमीण क्षेत्रो में वैक्सीनेशन को लेकर फैली भ्रांति को लेकर भी चर्चा हुई.
कोरोना को भगाना हमारी प्राथमिकता- सीएम

इधर, दूसरी ओर ग्वालियर में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में ग्वालियर- चंबल संभाग की कोरोना की समीक्षा और क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक हुई. बैठक में ग्वालियर जिले में 30 मई तक जनता कोरोना कर्फ्यू बढ़ाने का निर्णय लिया गया. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना को परास्त करना प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है. हम सभी के साझा प्रयासों से कोरोना को हराएंगे. मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर आव्हान किया कि संकट की इस घड़ी में सभी तरह के मतभेद भुलाकर कोरोना योद्धा बनें और कोरोना के उन्मूलन में सहभागी बनें.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज