COVID-19: निजी अस्पतालों की शिकायतों के बाद इंदौर प्रशासन का बड़ा फैसला, ऑनलाइन होगी कोरोना सैंपल की जांच रिपोर्ट
Indore News in Hindi

COVID-19: निजी अस्पतालों की शिकायतों के बाद इंदौर प्रशासन का बड़ा फैसला, ऑनलाइन होगी कोरोना सैंपल की जांच रिपोर्ट
इंदौर में ऑनलाइन होगी कोरोना सैंपल की जांच रिपोर्ट (फाइल फोटो)

निजी अस्‍पतालों (Private Hospitals) की ज्‍यादा बिलिंग की शिकायतें भी लगातार सामने आ रही थींं. इसके लिए आईसीयू चार्ज, बेड चार्ज आदि की दरें तय कर एक गाइड लाइन बनाई गई है और जिसे राज्‍य सरकार की मंजूरी के लिए भेजा गया है.

  • Share this:
इंदौर. मध्य प्रदेश के मिनी मुंबई कहे जाने वाले शहर इंदौर (Indore) के लोगों को प्रशासन एक बड़ी सहूलियत देने जा रहा है. कमिश्नर आकाश त्रिपाठी ने कोरोना सैंपल की टेस्ट रिपोर्ट को ऑनलाइन किए जाने के निर्देश जारी किए हैं. एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा 5 मई से जारी की गई सभी टेस्ट रिपोर्ट जिला सूचना विज्ञान केंद्र के माध्यम से जिला प्रशासन इंदौर की अधिकृत वेबसाइट पर डाली जा रही हैं. जिला सूचना विज्ञान अधिकारी सुनीता जैन के मुताबिक एमजीएम मेडिकल कॉलेज से सूची प्राप्त होते ही रोज इसे NIC इंदौर की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा जिससे कोई भी व्यक्ति ये रिपोर्ट देख सकेगा.

निजी अस्पतालों की मनमानी पर लगेगी लगाम
इंदौर में कोरोना से लड़ाई में प्राइवेट हॉस्पिटल्‍स की मनमानी पर लगाम लगाने के लिए ये बड़ा फैसला लिया गया है जबकि कोरोना की जांच रिपोर्ट अब सीधे मरीज को मोबाइल पर भी मिलेगी. साथ ही नेगेटिव और पॉजीटिव आए हुए सभी मरीजों के नाम भी सार्वजनिक किए जाएंगे. साथ ही निजी अस्‍पतालों में हर सुविधा का शुल्‍क भी तय कर दिए जाएंगे ताकि ज्‍यादा बिलिंग पर लगाम लगाई जा सके. कई अस्पताल बिल बढ़ाने के चक्कर में मरीजों की रिपोर्ट छिपा लेते थे और उन्हें बिना कारण के भर्ती किए रहते थे जिसकी शिकायतें लगातार मिल रही थी और कई मरीजों के परिजन तो थानों तक भी पहुंचे जाते थे इसी के मद्देनजर लोकहित में ये फैसला लिया गया है.

निजी अस्पतालों की हर सुविधा का रेट होगा फिक्स
निजी अस्‍पतालों की ज्‍यादा बिलिंग की शिकायतें भी लगातार सामने आ रही थी इसके लिए आईसीयू चार्ज, बेड चार्ज आदि की दरें तय कर एक गाइड लाइन बनाई गई है और जिसे राज्‍य सरकार की मंजूरी के लिए भेजा गया है. इसके बाद कोई भी निजी अस्‍पताल उन तय दरों से ज्‍यादा शुल्‍क नहीं ले पाएगा. नियमों का उल्लघंन करने वाले अस्पतालों पर बेहद सख्‍त कार्रवाई की जाएगी है.



ये भी पढ़ें: MP Board Exam 2020: लॉकडाउन खत्म होने के 10 दिन के भीतर शुरू होगी परीक्षा, सेंटर्स पर सैनिटाइज़ेशन का होगा खास इंतजाम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज