Corona Update: कैलाश विजयवर्गीय के बेटे कल्‍पेश कोरोना पॉजिटिव, पूरा परिवार क्‍वारंटीन
Indore News in Hindi

Corona Update: कैलाश विजयवर्गीय के बेटे कल्‍पेश कोरोना पॉजिटिव, पूरा परिवार क्‍वारंटीन
बीजेपी के एक और पदाधिकारी नानूराम कुमावत की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई है. (फाइल फोटो)

Corona Update: कल्पेश विजयवर्गीय (Kalpesh Vijayvargiya) का बॉम्बे अस्पताल में इलाज चल रहा है. उनके बडे़ भाई विधायक आकाश विजयवर्गीय समेत पूरा परिवार क्‍वारंटीन हो गया है.

  • Share this:
इंदौर. भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और वरिष्‍ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) के छोटे बेटे कल्पेश विजयवर्गीय (Kalpesh Vijayvargiya) कोरोना पॉजिटिव (Corona positive)  पाए गए हैं. उनका बॉम्बे अस्पताल में इलाज चल रहा है. उनके बडे़ बेटे विधायक आकाश विजयवर्गीय समेत पूरा परिवार क्‍वारंटीन हो गया है. सभी के सैंपल भी लिए गए हैं. वहीं, भाजपा नगर पदाधिकारी मुकेश राजावत, उनके परिवार के 11 सदस्य पॉजिटिव आए हैं. इसके अलावा एक और पदाधिकारी नानूराम कुमावत की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई है.

जानकारी के मुताबिक, कैलाश विजयवर्गीय के बेटे कल्पेश विजयवर्गीय बीते दिनों राजस्थान के कोटा शहर गए थे. वहां से लौटने के बाद वे कोरोना पॉजिटिव हो गए. बताया जा रहा है कि वे किसी बिजनेस के सिलसिले में कोटा गए थे.

दूसरी तरफ, खबर है कि इंदौर शहर में एक बार फिर कोरोना वायरस का प्रकोप तेज हो गया है. इंदौर के एमजीएम मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर के बाद एक फिजीशियन भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. साथ ही एक न्यूरो सर्जन और उनका परिवार भी कोरोना की चपेट में आ गया है. वहीं, स्वास्थ्य विभाग के मेडिकल ऑफिसर को भी संक्रमित होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अभी तक एमजीएम मेडीकल कॉलेज के 20 डॉक्टर्स, अरबिंदो में 25 डॉक्टर और इंडेक्स अस्पताल में लगभग 20 डॉक्टर्स-स्टाफ संक्रमित हो चुके हैं. शहर में 100 से ज्यादा डॉक्टर्स बीमारी की चपेट में आए हैं. इधर, झलारिया के शिशुकुंज स्कूल परिसर में 3 मरीज मिले हैं.



कोरोना वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित हुई हैं
बता दें कि मध्य प्रदेश में कोविड-19 (Covid-19) से सबसे ज्यादा प्रभावित इंदौर में सीरो-सर्वेक्षण से पता चला है कि इसमें शामिल 7.72 फीसद प्रतिभागियों के शरीर में कोरोना वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित हुई हैं. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शहर में 11 से 23 अगस्त के बीच किए गए इस सर्वेक्षण के नतीजों को बीते शुक्रवार को सार्वजनिक किया. उन्होंने इन नतीजों पर आधारित पुस्तिका का विमोचन किया. बता दें कि सीरो-सर्वेक्षण में रक्त के सीरम की जांच से पता लगाया जाता है कि अगर संबंधित प्रतिभागी पिछले दिनों सार्स-सीओवी-2 (वह वायरस जिससे कोविड-19 फैलता है) के हमले का शिकार हुआ है, तो उसके रोग प्रतिरोधक तंत्र ने किस तरह प्रतिक्रिया दी है और उसके रक्त में इस वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित हुई हैं या नहीं?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading