शाहरुख खान दोस्तों के साथ 30 हजार में बेच रहा था रेमडेसिविर, जानिए कैसे चढ़े क्राइम ब्रांच के हत्थे

इंदौर में रेमडेसिविर की कालाबाजारी करते डॉ. राकेश मालवीय (बाएं) और शाहरुख खान (दाएं) अपने दोस्त के साथ पकड़े गए. (File)

इंदौर में रेमडेसिविर की कालाबाजारी करते डॉ. राकेश मालवीय (बाएं) और शाहरुख खान (दाएं) अपने दोस्त के साथ पकड़े गए. (File)

मध्य प्रदेश कीआर्थिक राजधानी इंदौर. यहां रेमडेसिविर की कालाबाजारी जोर पकड़ रही है. क्राइम ब्रांच ने तीन और लोगों को गिरफ्तार किया है. इनके नाम अमन ताज, डॉ. राकेश मालवीय और शाहरुख खान हैं.

  • Share this:

इंदौर. इंदौर में कोरोना के संकट के बीच रेमडेसिविर की कालाबाजारी रोके नहीं रुक रही. नए मामले में क्राइम ब्रांच ने रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते 3 और आरोपियों को गिरफ्त में लिया है. इनके पास से चार रेमडेसिविर इंजेक्शन भी मिले हैं. आरोपी इन इंजेक्शन को 30 हजार रुपए में बेच रहे थे. पकड़े गए आरोपियों में एक का नाम शाहरुख खान है. ये वेल्डिंग का काम करता है. पुलिस सभी से पूछताछ कर रही है.

बाणगंगा टीआई राजेंद्र सोनी ने बताया कि सूचना मिली थी कि कुछ लोग कार में रेमडेसिविर इंजेक्शन रखे हुए हैं और ग्राहक ढूंढ रहे हैं. इस सूचना के आधार पर क्राइम ब्रांच की टीम बनाई गई और आरोपियों की घेरा बंदी की गई. क्राइम ब्रांच को रेमडेसिविर ब्लैक में बेचते अमन ताज (25) निवासी पानोर बायपास चौराहा सांवेर, डॉ. राकेश मालवीय (35) निवासी स्कीम 78 और शाहरुख खान (25) निवासी देपालपुर मिल गए.

रेमडेसिविर ब्लैक करते अब तक गिरफ्तार हो चुके 18 आरोपी

टीआई सोनी के मुताबिक, अमन का सांवेर में मेडिकल स्टोर है. अमन और डॉ राकेश मालवीय की पुरानी पहचान है. वहीं आरोपी शाहरुख वेल्डिंग का काम करता है. अब तक क्राइम ब्रांच 18 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है. उनसे 417 रेमडेसिविर इंजेक्शन भी जब्त किए जा चुके हैं. गौरतलब है कि शहर में रविवार को 1627 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले. शहर में कोरोना से 8 लोगों की मौत भी हो गई. जिले में एक्टिव मरीजों का आंकड़ा 16 हजार 877 पर पहुंच चुका है.

Youtube Video

प्रदेश में केंद्र सरकार की मदद से बनेंगे कोविड सेंटर

मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए और मरीजों को इलाज मुहैया कराने के लिए अब केंद्र सरकार मददगार साबित हो रही है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ आज केंद्रीय पेट्रोलियम और रसायन मंत्री धर्मेंद्र प्रधान समेत MOIL और GAIL के अफसरों की एक अहम बैठक हुई. जिसमें प्रदेश के 5 जिलों मंडला, डिंडोरी, बालाघाट, सिवनी और नरसिंहपुर में सर्व सुविधा वाले कोविड केयर सेंटर बनाए जाने को लेकर सहमति बनी. इन सभी सेंटर में ऑक्सीजन लाइन और ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के साथ वेंटीलेटर की भी सुविधा होगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज