लाइव टीवी

खरगोन में कर्फ्यू: दूध, दवाई और पानी के लिए दो घंटे की छूट

ETV MP/Chhattisgarh
Updated: October 26, 2015, 9:13 AM IST
खरगोन में कर्फ्यू: दूध, दवाई और पानी के लिए दो घंटे की छूट
खरगोन में लोगों को सोमवार को दो घंटे के लिए कर्फ्यू में ढील दी गई है. सुबह 9 से 11 बजे तक केवल महिलाओं और बच्चों को घर से बाहर निकलने की छूट दी गई है.

खरगोन में लोगों को सोमवार को दो घंटे के लिए कर्फ्यू में ढील दी गई है. सुबह 9 से 11 बजे तक केवल महिलाओं और बच्चों को घर से बाहर निकलने की छूट दी गई है.

  • Share this:
खरगोन में लोगों को सोमवार को दो घंटे के लिए कर्फ्यू में ढील दी गई है. सुबह 9 से 11 बजे तक केवल महिलाओं और बच्चों को घर से बाहर निकलने की छूट दी गई है.

खरगोन कलेक्टर नीरज दुबे ने जिले में चौथे दिन भी कर्फ्यू जारी रखने का फैसला किया है. हालांकि, दूध, दवाई और पानी जैसी मूलभूत चीजों को खरीदने के लिए खरगोन जिला कलेक्टर ने महिलाओं और बच्चों के लिए सोमवार को कर्फ्यू में ढील दी.

खरगोन में कर्फ्यू जारी: हाथों में लगी रह गई मेहंदी, बारात का इंतजार करती रह गई दुल्हन


इस दौरान भी महिलाओं को केवल सांची पाईंट से ही दूध लेने और नगर निगम के नलों से पानी भरने की छूट रहेगी. वहीं दवाईयों के लिए भी प्रशासन की अनुमति से दो स्टोर खुले रहेंगे. सिर्फ इन स्टोर से ही लोग जरूरत की दवाईयां ले सकेंगे.

कर्फ्यू: खरगोन में रावण दहन के बाद भारी हिंसा, उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के आदेश


फिलहाल पुरुषों को अभी किसी भी तरह की छूट नहीं दी गई है. जिस वजह से उनके घर के बाहर आने पर पाबंदी बनी हुई है.

OMG ! कर्फ्यू के दौरान महिलाओं ने लूटीं सब्जियां
Loading...

शनिवार को भी खरगोन में कर्फ्यू के दौरान ढील दी गई थी. जिसके बाद देखा गया कि महिलाएं पानी भरने के लिए घर से बाहर निकलीं और सब्जी मंडी पहुंच गईं. जहां महंगी सब्जियों पर उन्होंने धावा बोल दिया.

जब महिलाएं और युवतियां दो पहिया वाहनों के माध्यम से आलू-प्याज और अन्य सब्जियां व्यापारियों के गल्ले से लूटकर ले जाने लगे, तभी सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची. जहां से महिलाओं को खदेड़ा गया. तब जाकर स्थिति सुधरी पाई.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 26, 2015, 8:50 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...