दिग्विजय सिंह का केन्द्र पर हमला- ईस्ट इंडिया कंपनी की तरह किसानों के शोषण का रास्ता तैयार

दिग्विजय सिंह ने कोरोना वैक्सीन को लेकर भी बीजेपी पर हमला बोला.

दिग्विजय सिंह ने कोरोना वैक्सीन को लेकर भी बीजेपी पर हमला बोला.

दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने किसी से चर्चा नहीं की और कृषि कानून (Farm Laws) बना दिया. मोदी जी अहंकार छोड़ें और कानून वापस लें. अन्नदाता (Farmers) के परेशान रहते किसी का भला नहीं हो सकता है.

  • Share this:

इंदौर. पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने एक बार फिर उपचुनावों के नतीजों (By election Results) पर सवाल उठाते हुए कहा कि जब तक बैलेट पेपर (Ballet) हाथ में नहीं आएगा, हमें भरोसा नहीं होगा. उन्होंने 1977 के चुनाव का जिक्र करते हुए कहा कि तब जनता पार्टी की लहर थी और हमें गावों में घुसने नहीं दिया गया था. यहां उल्टा हुआ है जिन्हें गावों में घुसने नहीं दिया गया, वो 60 से 70 हजार वोटों से चुनाव जीत गये. ये अचंभित करने वाली बात है.

कृषि कानूनों पर सवाल उठाते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि कृषि कानूनों को समझने की जरूरत है. कृषि उपज मंडी का अधिकार राज्य सरकारों से छिन गया है. किसान विरोधी कानून का हम समर्थन नहीं करते हैं. केंद्र सरकार ने किसी से चर्चा नहीं की और कानून बना दिया. मोदी जी अहंकार छोड़े और कानून वापस लें. अन्नदाता के परेशान रहते किसी का भला नहीं हो सकता है.


कोविड वैक्सीन को लेकर पूर्व सीएम ने कहा कि वैक्सीन के नाम पर जनता को मूर्ख नहीं बनाना चाहिए. वैक्सीन आया नहीं कि बीजेपी ने घोषणा पत्र में कह दिया कि हम फ्री में वैक्सीन बांटेंगे, जबकि अभी वैक्सीन एप्रूव्ड भी नहीं हुआ है.
शहडोल के जिला अस्पताल में नवजातों की मौत पर उन्होंने कहा कि ये दुखद घटना है, जिसकी निष्पक्ष जांच होना चाहिए.

बता दें कि शहडोल के जिला अस्पताल में फिर से पांच नवजातों की मौत दो दिन के अंदर हो गई. हालांकि स्वास्थ्य मंत्री ने अस्पताल को क्लीन चिट देते हुए इसे प्री मेच्योर डिलीवरी का मामला बता दिया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज