होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /3 साल की मासूम के एक हाथ में था चिप्स का पैकेट, दूसरे से किया मां और नानी का अंतिम संस्कार

3 साल की मासूम के एक हाथ में था चिप्स का पैकेट, दूसरे से किया मां और नानी का अंतिम संस्कार

इंदौर में दोहरा हत्याकांड-तीन साल की बच्ची ने किया मां और नानी का अंतिम संस्कार

इंदौर में दोहरा हत्याकांड-तीन साल की बच्ची ने किया मां और नानी का अंतिम संस्कार

दोहरे हत्याकांड (double murder) को अंजाम देने के बाद आरोपी संदीप (sandeep) शहर से भागने की फिराक में था. वो गुजरात भाग ...अधिक पढ़ें

इंदौर.इंदौर (indore) में जिसने भी ये दृश्य देखा उसकी आंख से आंसू ढलक गए. तीन साल की बच्ची ने अपनी मां और नानी का अंतिम संस्कार किया. ये वही मासूम है जिसके पिता ने इसकी मां और नानी की हत्या (murder) कर दी थी. हत्यारा पिता भागने की फिराक में था जिसे बस अड्डे पर पुलिस (police) ने पकड़ लिया.

इंदौर के द्वारिकापुरी थाना इलाके में बुधवार रात दोहरे हत्याकांड का एक सनसनीखेज मामला सामने आया था. पहले प्रेम, फिर शादी और हत्या. इंदौर के द्वारकापुरी थाना क्षेत्र के 60 फिट रोड पर रहने वाली नीतू से आरोपी संदीप ने लव मैरिज की थी. लेकिन शादी के बाद दोनों के रिश्तों में ऐसी खटास आयी कि नौबत तलाक तक पहुंच गयी. मामला पुलिस और फिर कोर्ट तक पहुंच गया.संदीप और नीतू के बीच चल रहे विवाद को कुछ समय पहले द्वारिकापुरी थाने के एक पुलिस अधिकारी ने सुलझाया था. पुलिस की समझाइश के बाद दोनों साथ रहने लगे थे.लेकिन हाल ही में नीतू की माँ पद्मा उनके साथ आकर रहने लगी. ये बात संदीप को पसंद नहीं आयी. इसी बात पर घर में झगड़ा बढ़ने लगा.

संदीप नशे का आदी था
संदीप नशे का आदी था. बुधवार रात वो घर पहुंचा और फिर घर में झगड़ा होने लगा. उसी दौरान संदीप ने चाकू निकाला और पहले सास फिर पत्नी नीतू पर हमला बोल दिया. बीच बचाव करने आये परिवार के सदस्यों पर भी उसने हमला कर दिया. हमले में घायल (माँ-बेटी) पद्मा और नीतू की मौत हो गई. शातिर आरोपी संदीप को इलाके के लोगों ने पकड़ने की कोशिश की लेकिन वो चाकू दिखाकर दहशत फैलाते हुए भाग गया. मृतक नानी पद्मा और मां नीतू का तीन साल की बेटी ने अंतिम संस्कार किया.News18 Hindi

बस में पकड़ा
दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने के बाद आरोपी संदीप शहर से भागने की फिराक में था. वो गुजरात भाग रहा था. पुलिस ने आरोपी को बस में चढ़ते ही धर दबोचा.पुलिस को देख आरोपी ने बस से भागने की कोशिश की. लेकिन पैर फिसलने से घायल हो गया.

पूरा परिवार चश्मदीद
इस वारदात के नीतू के तीन साल के बेटे सहित परिवार के अन्य सदस्य चश्मदीद हैं. पुलिस ने पारिवारिक सदस्यों को घटना का चश्मदीद साक्षी बनाया है.आरोपी संदीप ने घटना में इस्तेमाल चाकू को छुपा दिया था. इसलिए पुलिस ने आरोपी के खिलाफ साक्ष्य छुपाने का भी प्रकरण दर्ज किया है.

ये भी पढ़ें-पुलिस भी दंग रह गयी जब चोरों के पास निकले 12 लाख रूपए के 101 मोबाइल फोन

सेना के बम से धातु निकालते वक्त विस्फोट, युवक के चिथड़े उड़े

 

Tags: Indore news, Madhya pradesh Police, Murder, Police investigation

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें