पुरानी रंजिश के चलते युवक की चाकुओं से गोद कर हत्या

इंदौर के कुख्यात इलाके परदेशीपुरा में एक युवक की हत्या कर दी गई. कहा जा रहा है कि पुरानी रंजिश के चलते मौत के घाट उतार दिया गया. ह्त्या की वजह स्कूल के वक़्त की पुरानी रंजिश बताई जा रही है.

News18 Madhya Pradesh
Updated: May 17, 2018, 8:47 PM IST
पुरानी रंजिश के चलते युवक की चाकुओं से गोद कर हत्या
युवक की हत्या के बाद बिलखती मां
News18 Madhya Pradesh
Updated: May 17, 2018, 8:47 PM IST
इंदौर के कुख्यात इलाके परदेशीपुरा में एक युवक की हत्या कर दी गई. कहा जा रहा है कि पुरानी रंजिश के चलते मौत के घाट उतार दिया गया. ह्त्या की वजह स्कूल के वक़्त की पुरानी रंजिश बताई जा रही है. पुलिस का कहना है कि उसने वारदात में शामिल आरोपियों को चिह्नित कर लिया है पुलिस आरोपी के जल्द गिरफ्तार होने की बात कह रही है.

10वीं कक्षा का स्कूली छात्र दीपक गुरुवार सुबह 10 हजार रुपये लेकर अपने चाचा की दूकान का सामान लेने के लिए निकला था. आरोप है कि तब ही उससे रंजिश रखने वाला बदमाश ऋतिक अपने साथियों के साथ आ धमका और उस पर चाकुओं से हमला बोल दिया.गंभीर रूप से घायल दीपक को इलाज हेतु एमवाय अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया. हत्या के बाद आक्रोशित परिजनों ने एमवाय अस्पताल में हंगामा किया और आरोपी ऋतिक को गिरफ्तार करने की मांग करने लगे.

पुलिस के मुताबिक आरोपी ऋतिक और मृतक दीपक एक साथ ही स्कुल में पढ़ाई करते थे. ऋतिक पूर्व से ही दीपक को पंचर के नाम से चिढ़ाया करता था क्योंकि दीपक के चाचा की पंचर की दुकान थी. इसलिए कई बार दोनों के बीच पूर्व में विवाद हो चुके थे. ऋतिक पूर्व में भी चाकू से हमला कर चुका था पर उस वक़्त दोनों पक्षों में राजीनामा करवा दिया गया.

इसके बाद भी ऋतिक ने मन में दुश्मनी को ज़िंदा रखा. गुरुवार के सुबह सुबह वक्त पाते ही उस पर हमला कर दिया. पुलिस अधिकारियों की मानें तो आरोपी की तलाश सरगर्मी से शुरु कर दी है. उसके कई सम्भावित ठिकानों पर छापे की कार्यवाही की जा रही है. जल्द ही आरोपी ऋतिक और उसके साथियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

( विकास सिंह चौहान की रिपोर्ट )
News18 Hindi पर Bihar Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Madhya Pradesh News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर